blogid : 7629 postid : 1227514

खरे सोने के नहीं होते ओलम्पिक मेडल, असली होते तो होती ये कीमत

Posted On: 14 Aug, 2016 Others में

अद्भुत दुनियारंग-बिरंगी दुनिया की अद्भुत तस्वीर और अनोखे रंग-ढंग को दर्शाता ब्लॉग

विविधा

1490 Posts

1294 Comments

बचपन से हमें सिखाया जाता है कि उपहार और ईनाम की कोई कीमत नहीं होती यानि इन दोनों चीजों की कीमत नहीं आंकी जा सकती. उपहार प्रेम और ईनाम सम्मान से जुड़ा होने के कारण ये दोनों ही चीजें भौतिकता से परे और मूल्यवान है.  अब बात करते हैं भौतिकवादी दुनिया की, जहां पर खरे सोने के लिए न जाने कितने ही तरह के टेस्ट कराए जाते हैं और जब ये सोना मेडल के रूप में पूरी दुनिया के सामने जीता जाए, तो इस पर सबकी नजर ठहरना लाजिमी है.


gold medal 1

ऐसे में रियो ओलम्पिक चल रहे हैं और भारत स्वर्ण पदक कब अपने नाम करेगा, सबकी नजरें, इसपर टिकी हुई है. वहीं दूसरी ओर कुछ लोग स्वर्ण पदक में इस्तेमाल किए गए सोने की कीमत को लेकर अंदाजा लगाने में लगे हुए हैं. आइए, हम आपको बताते हैं कि ओलंपिक में खिलाड़ियों को मिल रहे स्वर्ण पदक की असल कीमत कितनी होती है? 1968 से मैक्सिकन ओलंपिक गेम्स के मेडल 6.5 मिली मीटर मोटे, 65.8 मिली मीटर चौड़े और 176.5 ग्राम वजनी होते हैं. इसके मुकाबले लंदन ओलंपिक के पदक थोड़े बड़े होते हैं जिनका वजन 375 से 400 ग्राम होता है.


gold 1

अगर स्वर्ण पदक की बात करें तो उसमें असली सोना केवल 6 ग्राम (24 कैरेट) होता है, बाकी 92.5 ग्राम चांदी और उसके अलावा तांबा होता है. अगर इस मेडल की कीमत लगाई जाए तो वो सिर्फ 24,467 रुपये का होगा. अगर लंदन मेडल्स की बात करें, तो उसकी कीमत 33,491 रूपये होगी. अगर ये पदक खरे सोने के होते तो इनकी कीमत $76,000 होती यानि भारतीय मुद्रा में 50,80,596 रुपये होती…Next


Read more

हैरान रह गए सब जब भारत-पाक टी20 मैच के दौरान मैदान में दो गेंद देखी गई

क्रिकेट विश्व कप मैच में इन बॉलीवुड स्टारों ने की कमेंट्री

एक क्रिकेटर ने दूसरे क्रिकेटर की बीवी के साथ ऐसे मचाई धूम

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 1.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग