blogid : 7629 postid : 1189249

सरकार का फरमान, इन 80 स्कूलों में लड़के 'पहनेंगे' स्कर्ट और लड़किया पहनेंगी पैंट

Posted On: 13 Jun, 2016 Others में

अद्भुत दुनियारंग-बिरंगी दुनिया की अद्भुत तस्वीर और अनोखे रंग-ढंग को दर्शाता ब्लॉग

विविधा

1490 Posts

1294 Comments

हर देश अपनी शिक्षा को बेहतर बनाने के लिए स्कूलों पर कुछ ज्यादा ही ध्यान दे रहे हैं. स्कूल में बच्चे अगर अच्छी शिक्षा प्राप्त करते हैं. तो यह उनके आने वाले भविष्य के लिए बहुत अच्छी बात होगी. हर बच्चे के लिए उसका भविष्य तभी बेहतर होता है. जब वह स्कूल में जाकर अपनी शिक्षा को मजबूत बनाता है.


Britain


हाल ही में ब्रिटेन के एक स्कूल ने बड़ा ही अजीबोगरीब नियम निकाला है. ब्रिटेन के एक नियम ‘जेंडर न्यूट्रल’ के अनुसार अब ब्रिटेन के करीब 80 स्कूलों में एक ऐसा नियम लागू किया जाएगा. जिसके तहत वहां पर पढ़ने वाले छात्रों को स्कर्ट पहनना होगा, वहीं लड़कियों को पैंट पहननी होगी. ये नियम ब्रिटेन सरकार की तरफ से लागू किया गया है. यह नियम खासकर ” ट्रांस ” बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के लिए लागू किया गया हैं. ताकि वो खुद को किसी भी स्कूल में असुरक्षित महसूस ना करें. ब्रिटेन के ‘ब्राइटन’ कॉलेज ने हाल ही में अपने स्कूलों में ट्रांसजेंडर छात्रों को सुविधा देने कलिए ऐसा ड्रेस कोड़ लागू किया हैं. वहीं कुछ ईसाई संगठनों ने इसके खिलाफ विरोध जाहिर करते हुए कहा कि, ‘ऐसा ड्रेस कोड़ आने वाले भविष्य को खतरे में ड़ाल सकता है,साथ ही इससे बच्चे अपने अस्तित्व की पहचान भी खो सकते हैं.’


boy



Read: दोपहर में नींद लेने के लिए इस शहर में मिली सरकारी छूट


वहीं बर्मिंघम में मौजूद एक स्कूल यह मानता है कि, इसके तहत हर छात्र खुद को अच्छे से पेश कर सकता है. वह जिस भी तरह की ड्रस पहनना चाहता है उस हिसाब से वह खुद की ड्रेस चुन सकता है. अगर वह लड़का है तो वह स्कर्ट या फिर पैंट दोनों पहन सकता है. वहीं लड़कियों के साथ भी यही बात लागू होती है. इससे हम उनकी स्वतंत्रता का भी ख्याल रख सकते हैं…Next

girl


Read More:

इस अनोखे स्कूल में शिष्यों को आईफोन रखने की है छूट, मगर टीवी पर है बैन

समय पर स्कूल पहुंचने के लिए हर रोज तैरकर नदी पार करता है यह अध्यापक

3 करोड़ के घोड़े पर सवारी, हेलिकॉप्टर से स्कूल, प्राइवेट जेट से पार्टी करने जाती है ये लड़की

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग