blogid : 249 postid : 1083

अब मान भी जाओ डार्लिंग

Posted On: 28 Jun, 2013 Others में

Entertainment BlogAll about movies and reviews!

Movie Reviews Blog

217 Posts

243 Comments

पति-पत्नी का रिश्ता ऐसा होता है कि उसमें हमेशा लड़ाई चलती रहती है कभी किसी बात को लेकर और कभी किसी और बात को लेकर. पति हर बार पत्नी से यही कहता रहता है कि ‘अब मान भी जाओ डार्लिंग’. कुछ ऐसी ही दिलचस्प नटखट अंदाज से भरी फिल्म ‘घनचक्कर’ की कहानी हैं.

पत्नी की याद में हर दिन प्रेम पत्र लिख रहे हैं जनाब


Ghanchakkar Movie Reviews

बैनर: यूटीवी मोशन पिक्चर्स

निर्माता: रॉनी स्क्रूवाला, सिद्धार्थ रॉय कपूर

निर्देशक: राजकुमार गुप्ता

संगीत: अमित त्रिवेदी

कलाकार: इमरान हाशमी, विद्या बालन, राजेश शर्मा

रिलीज डेट: 28 जून 2013

रेटिंग: ** ½


Ghanchakkar Movie Reviews

ghanchakkarघनचक्कर की कहानी

घनचक्कर फिल्म में हर कदम पर एक नया सस्पेंस रखा गया है. फिल्म की कहानी कुछ इस तरह है कि अपराध की दुनिया का मास्टर ‘संजू’ (इमरान हाशमी) चोरी का काम छोड़ने का फैसला लेता है और अपने दो साथी अपराधियों के साथ वह आखिरी चोरी करने की योजना बनाता है. तीनों मिलकर इस सोच के साथ एक बैंक लूटने का मन बनाते हैं क्योंकि वो अपनी पूरी जिंदगी पैसों की कमी में काटना नहीं चाहते हैं. सब कुछ उनकी योजना के मुताबिक चलता रहता है. संजू को चोरी के बाद रुपये छिपाने की जिम्मेदारी दी जाती है ताकि मामला ठंडा होने पर पैसे को आपस में बांटा जा सके. फिल्म की कहानी में एक नया मोड़ तब आता है जब 2 महीने बाद दोनों अपराधी संजू से अपने हिस्से का पैसा मांगने उसके घर आ जाते हैं, लेकिन उनके आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहता जब संजू उन्हें पहचानने से ही मना कर देता है.

प्रेमी हंसों का यह जोड़ा एक-दूसरे के काफी करीब है !


Vidya Balan And Emraan Hashmi

फिल्म के कुछ दिलचस्प अंदाज

फिल्म की शुरुआत में पहला गाना ‘लेजी लैड सैंया’ आता है. झगड़ा, पप्पी झप्पी के बीच कुछ मियां बीवी सीक्वेंस चलते हैं और शुरू हो जाती है फिल्म घनचक्कर. जब भी संजू (इमरान हाशमी) खाना खाता है तो उसकी मां का फोन आता है, जो कहती है कि ‘बेटा खाना खाया, उस चुड़ैल ने कुछ बनाया या आज फिर से बाहर से मंगा दिया है’. ये सीन हर उस मां की चिंता को व्यक्त करता है, जिसका बेटा मां से दूर बहू के साथ रह रहा है. फिल्म में शुरू से अंत तक विद्या के फैशनेबल कपड़े दर्शकों का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित करते हैं जैसे मानो फैशन की दुकान हो.


फिल्म की कहानी कुछ कटी सी लगी

फिल्म घनचक्कर की टाइटल से ही पता चल जाता है कि फिल्म में कॉमेडी जरूर होगी पर निर्देशक राजकुमार गुप्ता इस दावे को पूरी तरह पूरा नहीं कर पाए. फर्स्ट हाफ में फिल्म खूब हंसाती है मगर सेकंड हाफ में नमक कुछ कम हो जाता है. संजू मतलब इमरान हाशमी, नीतू मतलब विद्या बालन दोनों की ही एक्टिंग अच्छी है पर कुछ खास दर्शकों को हंसा नहीं पाई है.


Ghanchakkar Movie

क्यों देखें: फिल्म में क्लाइमेक्स और पति-पत्नी की नोकझोंक देखना पसंद है तो !


क्यों ना देखें: फिल्म में हद से ज्यादा क्लाइमेक्स होने पर चक्कर आने लगते हों तो !


फूल और पत्थर जैसा है तेरा प्यार

कैसे जमेगा बनारस के बैकग्राउंड में तमिल एक्टर


Tags: Ghanchakkar Movie, Ghanchakkar, Ghanchakkar Movie Reviews, Vidya Balan, Emraan Hashmi,Vidya Balan And Emraan Hashmi, घनचक्कर, घनचक्कर फिल्म, इमरान हाशमी, विद्या बालन, इमरान हाशमी और विद्या बालन

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग