blogid : 249 postid : 980

Inkaar Movie Review: ऑफिस पॉलिटिक्स का “बोल्ड” वर्जन

Posted On: 18 Jan, 2013 Others में

Entertainment BlogAll about movies and reviews!

Movie Reviews Blog

217 Posts

243 Comments

आज अधिकतर ऑफिसों और कॉरपरेट ऑफिसों में लड़कियों का आगे बढ़ना हर किसी को खटकता है और हर ऑफिस की अपनी कुछ इनसाइड स्टोरी होती हैं जिनसे कोई इंकार नहीं कर सकता. इसी इनसाइड स्टोरी को सेक्स के तगड़े तड़के के साथ पेश किया है सुधीर मिश्रा ने फिल्म “इंकार” में.


आज समाज के हर क्षेत्र में बहुत अधिक प्रतियोगिता देखने को मिलती है. ऐसे में कई बार ऐसा होता है कि हम किसी की मदद करते हैं और वह इंसान हमसे भी आगे निकल जाता है तो हमें बहुत ठेस पहुंचती है. जिस इंसान को हमने उठने में मदद की हो उसे अपने से आगे निकलता देख पाना कई बार बहुत मुश्किल होता है. लेकिन यह समाज का एक कड़वा सच है कि कई बार आपकी अंगुली पकड़कर उठने वाले शख्स आपको ही कुचलने पर अमादा हो जाते हैं. इस तथ्य को अगर आपको जरा मनोरंजक अंदाज में देखना है तो देखिए साल की पहली बड़ी हॉट “इंकार”.


Movie Name: Inkaar

Star Cast of Inkaar: अर्जुन रामपाल, चित्रांगदा सिंह, दीप्ति नवल, विपिन शर्मा, रेहाना सुल्तान, शिवानी, गौरव द्विवेदी, संदीप सचदेव

Producer of Inkaar Movie: सुधीर मिश्रा

Director of Inkaar Movie: सुधीर मिश्रा

Music Director of Inkaar: शांतनु मोइत्रा

Rating: ***

Story of Inkaar

फिल्म ऑफिस पॉलिटिक्स पर आधारित है. साथ ही यह वर्क स्टेशन में हो रहे सेक्सुअल हैरेसमेंट को भी प्वॉइंट करती है.

फिल्म की कहानी अर्जुन रामपाल (राहुल वर्मा)  और चित्रांगदा (माया लूथरा) के ईर्द-गिर्द घूमती है. हिमाचल के एक छोटे से शहर से मुंबई आई माया लूथरा (चित्रांगदा सिंह) की आंखों में बड़ा सपना है. यहीं एक अवार्ड शो के दौरान उसकी मुलाकात राहुल वर्मा (अर्जुन रामपाल) से होती है जो शहर की सबसे बड़ी ऐड एजेंसी में सीईओ है. पहली ही मुलाकात में राहुल  को माया भा जाती है और वह उसे कंपनी में चीफ कॉपी राइटर के पद पर नियुक्त कर लेता है. कुछ ही दिनों में नजदीकियां हद से ज्यादा बढ़ जाती हैं. हालांकि दोनों के बीच रिश्ते सिर्फ जिस्मानी रहते हैं. प्यार का इकरार ना राहुल करता है और ना ही माया.


इसी दौरान माया की काबीलियत पर कंपनी का बॉस उसे बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में शामिल होने का ऑफर देता है, लेकिन राहुल माया को ऑफर को कबूल ना करने की सलाह देता है. लेकिन माया इस ऑफर को ले लेती है. यहीं से दोनों के बीच की दूरियां बढ़ने लगती हैं और अचानक एक दिन माया राहुल के खिलाफ ऑफिस में सेक्सुअल हैरेसमेंट की शिकायत कर देती है. शिकायत की सुनवाई के लिए ऑफिस की ओर से वूमन सोशल वर्कर मिसेज कारदार (दीप्ति नवल) की अध्यक्षता में एक कमिटी बनती है, जो जांच शुरू करती है. अब दोनों में से कौन सच बोल रहा है यही फिल्म की कहानी है.


फिल्म की समीक्षा

फिल्म की कहानी पर अगर आपके एक प्रतिशत भी शक है तो इसे आप अपने दिमाग से निकाल दीजिए क्यूंकि फिल्म का निर्देशन सुधीर मिश्रा के हाथों में है. सुधीर मिश्रा को यथार्थवादी फिल्में बनाने के लिए जाना जाता है. फिल्म के निर्देशन में सुधीर मिश्रा ने हर बारीकी को ध्यान में रखा है. फिल्म की कहानी और फिल्म की शूटिंग के लिए उन्होंने पहले बहुत स्टडी की थी इसलिए वह फिल्म में काफी हद तक असली जिंदगी को लाने में भी सक्षम रहे हैं. फिल्म में जिस तरह उन्होंने महिलाओं का शरीर के बल पर आने आगे की बात दिखाई है उसे कई लोग सही भी मानते हैं. हालांकि यहां यह भी मानना पड़ेगा कि कई बार महिलाओं को अपनी क्षमता का सही मोल तभी मिलता है जब वह समझौता करने को तैयार होती हैं. कई प्रतिभावान महिलाएं अगर यह समझौता करने से मना करती हैं तो उन्हें अपने मुकाम पर पहुंचने से पहले ही रेस से बाहर होना पड़ता है.


अभिनय की बात करें तो पहली बार अर्जुन और चित्रांगदा स्क्रीन पर एक साथ नजर आएंगे. फिल्म में अर्जुन रामपाल और चित्रांगदा के इंटीमेट सीन दिखाए गए हैं. यूं तो अर्जुन रामपाल हाल के दिनों में एक अभिनेता के रूप में बेहद सक्षम नजर आए हैं और इसका एक और सबूत है फिल्म “इंकार”.

चित्रांगदा सिंह के बारे में कहा जाता है कि वह वर्तमान में बॉलिवुड की सबसे सेक्सी अभिनेत्री हैं. अगर आपको उनके बोल्ड होने पर एक प्रतिशत भी शक है तो अपना यह निर्णय बदल लीजिए. हालांकि इस फिल्म में उन्होंने जरूरत से ज्यादा बोल्डनेस जरूर दिखाई है पर फिल्म की कहानी को देखते हुए यह जरूरी भी था.


फिल्म के संगीत में रॉक और सूफी दोनों को मिक्स किया गया है. फिल्म के कई गीत बेहतरीन हैं जैसे मौला तू मालिक है और दरमियां आदि.


अगर आप अपने ऑफिस में होने वाली पॉलिटिक्स से परेशान हो गए हैं तो एक ब्रेक लीजिए और फिल्म देख कर आइए. हो सकता है आपके नजरिए में थोड़ा बदलाव हो और खुद को खुशकिस्मत समझने लगें.


Tag: Movie Review – Inkaar, Inkaar  Movie Review, Inkaar  Movie Story, इंकार फिल्म की समीक्षा, इंकार फिल्म की कहानी, Arjun Rampal, Deepti Naval, Maya Luthra, Rahul Varma, Sudhir Mishra, INKAAR, Sudhir Mishra

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग