blogid : 249 postid : 445

“तीस मार खां” – हिंदी फिल्म समीक्षा

Posted On: 25 Dec, 2010 Others में

Entertainment BlogAll about movies and reviews!

Movie Reviews Blog

217 Posts

243 Comments

रेटिंग :two-and-a-half-star ढाई स्टार
निर्माता : ट्विंकल खन्ना, शिरीष कुंदर, रोनी स्क्रूवाला
निर्देशक : फराह खां
कलाकार : अक्षय कुमार, अक्षय खन्ना, कटरीना कैफ़, आर्य बब्बर, रघु राम, राजीव लक्ष्मण
संगीत : विशाल – शेखर
रिलीज डेट : दिसम्बर 24, 2010
कॉमेडी

Tees-Maar-Khan-Reviewशीला की जवानी पड़ गई ठंडी, अक्षय कुमार की जमानत हुई जब्त और फराह खान की लुटिया डूब गयी.

अरे भाई कोई अक्षय कुमार को समझाए कि आप भले ही फिल्म का कितना भी प्रमोशन कर लें अगर फिल्म की कहानी में दम नहीं होगा तो आप की फिल्म नहीं चलने वाली. लगता है अक्षय कुमार एक रिकॉर्ड बनाने पर तुले हैं और वह भी कोई ऐसा-वैसा नहीं बल्कि लगातार फ्लॉप फिल्म देने का. अर्सा बीत गया जब खिलाड़ी ने कोई अच्छी फिल्म दी हो और अगर ऐसा ही हाल रहा तो शायद हॉरर फिल्म में उन्हें काम नहीं मिलने वाला है.

कहानी

तबरेज़ खान (अक्षय कुमार) जो अपने आप को “तीस मार खां” मानता है एक अंतरराष्ट्रीय ठग है. तीस मार खां अपने आपको ‘आधा रॉबिन हुड’ कहता है क्योंकि वह अमीरों से लूटता तो है लेकिन गरीबों को वापस नहीं करता. तबरेज़ खान का कहना है कि वह जीता है चोरी करने के लिए और चोरी करता है जीने के लिए.

तबरेज़ खान का सपना है कि वह बहुत बड़ी चोरी करे. इन दिन जौहरी भाई (राजीव और रघु) उसे ट्रेन के बारे में बताते हैं जिसमें बहुत सारा खजाना ले जाया जा रहा है. ट्रेन के बारे में सुनते ही “तीस मार खां” उसको लूटने की सोचता है. इस चोरी में वह पूरे गांव को और अपनी गर्लफ्रेंड (कटरीना कैफ़) को मिला लेता है.

फिल्म समीक्षा

tees-maar-khan-stillsफराह खान का हंसी मज़ाक का व्यक्तित्व, अक्षय कुमार का बिंदास स्टाइल, कटरीना का फिल्मों के पीछे पागलपन और अक्षय खन्ना का सुपरस्टार बनने का सपना जब मिलता है तो लोगों को हंसी बहुत आती है लेकिन कमज़ोर पटकथा के कारण सब बिखरा-बिखरा लगता है. तीस मार खां एक धोखे की तरह शुरू होता है और खत्म होने पर ऐसा लगता है कि हमारे साथ धोखा हुआ है. फिल्म के कलाकार फिल्म से जुड़े भावनात्मक पहलुओं को सफलता से निभा नहीं पाए हैं.

फिल्म का हीरो तीस मार खान पूरी फिल्म में छाया है लेकिन कभी भी उसके लिए ताली बजाने का मन नहीं करता है. फिल्म की हीरोइन कटरीना कैफ़ के बारे हम यही कह सकते हैं कि इस फिल्म में उन्होंने सबसे खराब अभिनय किया है. फिल्म में सबसे अच्छा कार्य अक्षय खन्ना ने किया है जिसे ऑस्कर अवार्ड के पीछे भागते दिखाया गया है.

अगर फिल्म की कहानी अच्छी नहीं है तो फिल्म में गाने भी कुछ खास नहीं हैं. अब ऐसे में आप ही सोचिए कि कैसे हिट होगी यह फिल्म.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (10 votes, average: 3.50 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग