blogid : 8248 postid : 19

सानिया मिर्जा का प्रतिनिधित्व भारतीय है या फिर पाकिस्तानी ?

Posted On: 18 Jan, 2012 Others में

खास बातजिंदगी की जद्दोजहद पर आधारित विचार

Jamuna

14 Posts

51 Comments

sania mirza in pakistanअकसर यह सुनने में आता है कि आस्ट्रेलियाई ओपन, फ्रेंच ओपन या फिर यू.एस. ओपन में भारत की महिला चुनौती समाप्त हो गई है. भारत की ओर से प्रतिनिधित्व कर रही टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा पहले ही दौर से बाहर हो गई हैं. ये बात बेहद अजीब सी है. इसको सुनने के बाद माथा जरूर ठनकता है साथ ही जेहन में कुछ सवाल भी अपने आप उठने लगते हैं. लेकिन मेरा अपना मानना है कि आखिर सानिया मिर्ज़ा के हारने से किस तरह से भारत की चुनौती समाप्त हो सकती है. जबसे सानिया मिर्जा की शादी पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से अप्रैल 2010 में हुई तब से वह भारत की नहीं पाकिस्तान की हो चुकी हैं. तो ऐसे में वे पाकिस्तानी प्रतिनिधि हुईं ना कि भारतीय प्रतिनिधि.


ध्यान दें पाकिस्तान अपने जन्म से ही भारत का घोर शत्रु रहा है. पाकिस्तान के करतूतों को भारत कभी नहीं भुला सकता. उसने हर मोड पर भारत को धोखा ही दिया है. उसने आतंकवाद की आड़ में भारत की शक्ति को छिन्न-भिन्न करना चाहा है. चाणक्य की नीति और नियम यही कहती है कि जो देश या व्यक्ति किसी दुश्मन देश या व्यक्ति के साथ मित्रता या सहानुभूति रखता है वह देश उसका भी मित्र या शत्रु होगा जिसके लिए सहानुभूति रखी जा रही है. भारत इस तरह के देश और व्यक्ति को कभी भी अपना नहीं सकता. ऐसे व्यक्ति किसी भी देश के लिए एक षडयंत्रकारी और गुप्तचर की तरह हैं जो कभी भी उस देश को नुकसान पहुंचा सकते हैं.


उधर मीडिया अपने खबरों को अलग रूप देने के लिए लोगों को गुमराह कर रही है. किसी स्त्री की शादी जब उसके पति के साथ होती है तो वह स्त्री अपने पति और उसके घर की हो जाती है. ऐसे में सानिया मिर्जा अब भारत की न होकर अपने पाकिस्तानी पति शोयब मलिक के घर यानि पाकिस्तान की हो गई हैं. उस हिसाब से भारतीय मीडिया को अपने खबरों में सानिया मिर्जा को एक पाकिस्तानी खिलाड़ी बतलाना चाहिए न की भारतीय. आप अपनी चटपटी खबरों के लिए भारतीय जनता के साथ धोखा नहीं कर सकते. जिस व्यक्ति की जो वास्तविक पहचान है उस पहचान को छुपा कर खबर को कोई और रूप नहीं दे सकते. यदि वीना मलिक भारत में कोई प्रोग्राम करती हैं तो वह एक पाकिस्तानी अभिनेत्री के रूप में प्रोग्राम करेंगी. उसी तरह सानिया मिर्जा किसी देश में जाकर अपना व्यक्तिगत खेल खेलती हैं तो वह भारत का नहीं पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व करेंगी.


मेरा आप सभी सम्मानित लेखकों से अनुरोध है कि इस गंभीर मसले पर विचार कर अपनी राय से जरूर अवगत कराएं.


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग