blogid : 313 postid : 789593

गलतफहमी के शिकार हैं वो लड़के जो सोचते हैं लड़कियों के बारे ऐसा

Posted On: 27 Sep, 2014 Others में

जिएं तो जिएं ऐसेरफ्तार के साथ तालमेल बिठाती जिंदगी में चाहिए ऐसे जीना जो बनाए आपको सबकी आंखों का नूर

Lifestyle Blog

894 Posts

831 Comments

जिस समाज में हम रहते हैं वहां लड़कियों को लेकर बहुत सी ऐसी धारणाए हैं जिस पर यदि गौर किया जाए तो हमें सच्ची भी लगती है, लेकिन ऐसा नहीं है आप लड़कियों के बारे में जो भी सोच रहे हैं खासकर उनके आदतों के बारे में तो आप गलत है. आइए लड़कियों की इन्ही आदतों पर प्रकाश डालते हैं जिनके बारे में आपने गलत धारणाएं बना रखी है.


female-gossiping


बातूनी गर्ल

‘लड़कियां बहुत बोलती हैं’ यह बात आप अपने दोस्तों से जरूर सुनते होंगे और शायद उनकी बात पर विश्वास भी कर लेते होंगे, लेकिन जिस आधार पर आपके दोस्त यह बात बोलते हैं उन्हें उन लड़कियों के बारे में बहुत ही कम ज्ञान है जो यह जानती हैं कि उन्हें कब, कहा, किससे और कितना बोलना है.


गॉसिप करने के लिए दे दो

‘लड़कियों को गॉसिप करने के लिए दे दो सारा दिन लगा देंगी’. यहां गॉसिप का मतलब चुगली करना. लेकिन क्या सभी लड़किया ऐसी होती हैं. दुनिया में ऐसी भी लड़किया या महिलाएं है जो किसी से बिना कुछ कहे सभी दर्द बयां कर देती हैं.


Read: ये तरीकें आपके पहले डेट को बना देंगे परफेक्ट


राजनीति की समझ नहीं

लोगों में यह चर्चा का विषय है कि लड़कियों को राजनीति विज्ञान संबंधित बहुत ही कम ज्ञान रहता है, लेकिन संयुक्त राष्ट्र में लखनऊ के स्कूल की युगरत्ना श्रीवास्तव का ग्रीन क्लाइमेट पर दिया गया भाषण यह साबित करता है कि ऐसी लड़कियां भी हैं जिन्हें राजनीति विषय पर अच्छी पकड़ है.

मुझे शॉपिंग करना है

समाज में ऐसी धारणा है कि लड़कियां शॉपिग करने के मामले सबसे आगे रहती हैं. शॉपिग की वजह से ही उनका ब्रेक अप, पैचअप आदि होता है, लेकिन यह नहीं भूलना चाहिए कि उनकी चॉइस, बार्गेन करने की क्वालिटी और अपने सभी प्रियजनों के लिए शॉपिंग करना भी लड़कियों के ही गुण होते हैं जिसका ब्यॉयफ्रेंड से लेकर पति तक हर कोई कायल रहता है.


ड्राविंग में फिसड्डी

अगर सड़क पर कोई लड़की गाड़ी चलाती है तो लोग उससे दूरी बना लेते हैं, उन्हें लगता है कि लड़कियों को गाड़ी चलानी नहीं आती. लेकिन वह यह भूल जाते हैं कि अंतरिक्ष यात्रा करने वाली सुनीता विलियम्स और कल्पना चावला भी लड़कियां ही थीं.


Read: बेडरूम की निजी बातों को पत्नी ने इंटरनेट पर किया शेयर, पढ़कर पति हुआ शर्मसार


मुझे संवरना है

लड़कियां संवरने में पूरा दिन लगा देती हैं, संवरने के अलावा उनको और कुछ काम नहीं है. इस तरह की बात अकसर हम उन ब्यॉयफ्रेंडो से सुनते हैं जो महिलाओं के सजने-संवरने पर कमेंट करते हैं. लेकिन यही लोग यह भूल जाते हैं कि इन्हीं की खूबसूरती की वजह से वह अपने दोस्तों में धाक जमाते हैं.


पिंक मतलब लड़की

पिंक यानी गुलाबी कलर को लड़कियों के साथ जोड़कर देखा जाता है. कहा जाता है कि यह लड़कियों का पसंदीदा रंग है और उनकी पहचान से जोड़कर देखते हैं, पर गुलाबी रंग के फेर में आप अपनी प्रियतमा को काले रंग की खूबसूरत ड्रेस में देखकर भी लार टपका देते हैं.


प्यार नहीं पैसा चाहिए

मुझे प्यार नहीं पैसा चाहिए. लड़कियों के बारे में कहा जाता है कि सभी लड़कियां पैसे वाले लड़कों से ही पटती हैं. लेकिन आप ही बताइए गरीब लड़के से प्यार करके अपने भविष्य को कौन लड़की असुरक्षित करना चाहेगी.


Read more:

यहां स्वयं देवता धरती को पाप से मुक्त करने के लिए ‘लाल बारिश’ करते हैं, जानिए भारत के कोने-कोने में बसे विचित्र स्थानों के बारे में

5 तकनीक जिनके प्रयोग से आप किसी से भी कुछ भी करवा सकते हैं

यहाँ जान बचाने के लिए चढ़ाया जाता है सिगरेट और मिनरल वॉटर


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 2.50 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग