blogid : 313 postid : 3099

लाजवाब हैं भारतीय व्यंजन

Posted On: 4 Aug, 2012 Others में

जिएं तो जिएं ऐसेरफ्तार के साथ तालमेल बिठाती जिंदगी में चाहिए ऐसे जीना जो बनाए आपको सबकी आंखों का नूर

Lifestyle Blog

894 Posts

831 Comments

indian foodपिज्जा, चाइनीज फूड से बेहतर भारतीय व्यंजन

आज हर कोई दीवाना है पिज्जा[pizza]और चाइनीज फूड का. जहां देखो हर कोई बाजार में भारतीय व्यंजन के स्वाद से पहले पिज्जा और चाइनीज फूड का स्वाद चखना चाहता है. आज जब आपके बच्चों को भूख लगती होगी तो आपसे मैगी या पिज्जा मांगते होंगे. पर अब सावधान हो जाइए अपने बच्चों को चाइनीज फूड देने से क्योंकि भारतीय व्यंजन को पिज्जा और चाइनीज फूड की तुलना में एक अध्ययन में बेहतर विकल्प माना गया है.


तीन गुना ज्यादा नमक

भारतीय व्यंजन को पिज्जा और चाइनीज फूड की तुलना में एक अध्ययन में बेहतर माना गया है. अध्ययन के अनुसार, फास्टफूड में तय नमक से तीन गुना ज्यादा मात्रा का प्रयोग किया जाता है, जबकि भारतीय व्यंजन में कम नमक का प्रयोग किया जाता है. लीवरपूल जॉन मूरेस यूनिवर्सिटी के सर्वेक्षण में पाया गया कि पिज्जा में सबसे ज्यादा नमक की मात्रा करीब 9.45 ग्राम होती है.


Read: देरी हो या उम्र अधिक हो मां बनने में नुकसान नहीं


चाइनीज फूड में औसत 8.1 ग्राम, कबाब में 6.2 ग्राम जबकि भारतीय व्यंजनों में 4.7 ग्राम नमक की मात्रा होती है. अध्ययन के अनुसार पेप्पेरोनी पिज्जा में औसत 12.94 ग्राम नमक जबकि सीफूड पिज्जा में औसत 11 ग्राम नमक की मात्रा होती है. फास्ट फूड में नमक की मात्रा का पता लगाने के लिए यह पहला अध्ययन है. वहीं कहा गया है कि चीन के कुछ व्यंजनों में ब्रिटिश व्यंजनों की तुलना में तीन गुना नमक की मात्रा होती है.


भारतीय खाने का क्या कहना ?

भारतीय खाने की बात ही कुछ और होती है. भारतीय खाना स्वाद में तो सबसे आगे है और साथ ही अब रिसर्च के अनुसार भी हेल्थ में भी सबसे आगे हो गया है. अब अगर हेल्थ का ध्यान रखना है तो पिज्जा, चाइनीज फूड से बचें और भारतीय खाने को अपनी हेल्थ लिस्ट में शामिल करें.


Read: ‘वक्त है या कोई जादू का पिटारा’


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग