blogid : 313 postid : 806240

कसम मोदी-शाह की दोस्ती की! अब पत्नी या प्रेमिका को हत्यारिन कहना पड़ सकता है महँगा

Posted On: 21 Nov, 2014 Others में

जिएं तो जिएं ऐसेरफ्तार के साथ तालमेल बिठाती जिंदगी में चाहिए ऐसे जीना जो बनाए आपको सबकी आंखों का नूर

Lifestyle Blog

894 Posts

831 Comments

शब्दों का लोगों की ज़िंदगी पर बहुत असर होता है. शब्द आप को हँसा सकते हैं, शब्द आपको रोने पर मजबूर कर सकते हैं. शब्दों को सुनकर आप रूठ सकते हैं और शब्दों से ही आप अपने चाहने वालों को मना सकते हैं. शब्दों से सावधान! मीठे शब्द बोलकर कोई हलवाई आपको बासी मिठाई खिला सकता है तो कोई दुकानदार आपको बासी माल बेच सकता है. ये शब्द ही हैं जिससे लड़के अपने पीछे लड़कियों और लड़कियाँ अपने पीछे लड़कों की लंबी पंक्तियाँ लगा पाती है. ये शब्द ही हैं जिसके कारण रात-रात भर मम्मी-पापा से छुपकर लड़के-लड़कियाँ फोन पर कान टिकाए रहते हैं, और ये शब्द ही हैं जिससे दो पल में बने-बनाए रिश्ते टूट जाते हैं. ये शब्द ही हैं जिससे दूसरों की महिला और पुरूष मित्रों को भी अपने मोहपाश में बाँधकर अपना बनाया जा सकता है. शब्द का इतना महत्तव है कि इस नाम पर बॉलीवुड ने एक तीन घंटे की हिंदी सिनेमा बना डाली. जब शब्दों का इतना महत्तव है तो जानिए कुछ शब्दों के अलग-अलग प्रयोगों पर प्रेमिका और पत्नियों पर क्या असर हो सकता है-


हत्यारिन-कातिल



Lady-with-Knife



अगर आप अपनी पत्नी को गलती से भी हत्यारिन कह दें तो आपको दो-तीन दिन से लेकर एक सप्ताह तक होटल में खाना पड़ सकता है. लेकिन आप एक बार अपनी पत्नी को यह कह कर देखें,’’कातिल लग रही हो.’’ शुभानल्लाह! आपको बिना बोले ही चाय के साथ पकौड़े मिलने लगेंगे. वो भी तब तक जब तक उस शब्द का असर उसके दिमाग पर रहेगा.


ज़ुल्फें-रेशमी या चाउमिन-सी



Untitled




‘हाय! रेशम-सी ज़ुल्फें तुम्हारी’. ये कहने पर आप अपने महीने भर की कमाई का एक बड़ा हिस्सा कपड़ों और अन्य सौंदर्य उत्पादों पर खर्च होने से बचा सकते हैं. किंतु एक बार बस यह कर देखिए ‘हाय! चाउमिन-सी ज़ुल्फें हैं तुम्हारी’. कसम मोदी-शाह की दोस्ती की! कार्यालय से अवकाश और उधारी पैसा पास रख कर आपको उनके साथ घंटों ब्यूटी पार्लर में खड़े रहना पड़ेगा.



Read: ….तो ये चीज देखना चाहते हैं आज पुरुष अपनी पत्नी में



मस्त-पस्त

पत्नी या प्रेमिका से यह कहने के बाद,’मस्त लग रही हो’ आपको उनका प्यार समेटने के लिए बड़ी थैली लेकर रखनी होगी. लेकिन सिर्फ ऐसा कह कर देखिए,’खा-खा के मस्त हो गई हो.’ कसम कंप्यूटर बनाने वाले की! ऐसा कोहराम मचेगा कि आपको बेलन छुपानी पड़ेगी.


झकास-बकवास

पत्नी को ‘झकास’ कहने से आपको दो-तीन दिनों तक घर के कामों से मुक्ति मिल जाएगी. लेकिन बस एक बार उन्हें प्यार से ही सही ‘बकवास’ कह कर देखिए! कसम फेसबुक की! आपको काम पर जाने से पहले चाय-नाश्ता तो नहीं ही मिलेगा, शाम के चाय-नाश्ते और भोजन का प्रबंध भी किसी ईश्वरीय चमत्कार की बदौलत ही मिल पाएगा.



Read: इंसान को भी जानवर बना देती है पूर्णमासी की रात, जानिए इस खौफनाक रात के पीछे छिपा रहस्य



पढ़ रहे थे ना आप? क्या ये नहीं पढ़ा आपने! मत पढ़िए, कोई बात नहीं लेकिन याद रखिए….जो पढ़े सो हर्षाय, ना पढ़े सो पछताय.



Next……..



Read more:

बेडरूम की निजी बातों को पत्नी ने इंटरनेट पर किया शेयर, पढ़कर पति हुआ शर्मसार

पत्नी का गुस्सा दूर भगाएगा यह नुस्खा

फेसबुक पर वहशी बनी 19 साल की लड़की, तस्वीरें देखकर समझ जाइए क्यों मार्क जुकरबर्ग से उसके पेज को ब्लॉक करने की गुहार लगाई गई




Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग