blogid : 313 postid : 128

[Sunglasses] “अब दिखिए अट्रैक्टिव और करिए आँखों का बचाव”

Posted On: 3 Jul, 2010 Others में

जिएं तो जिएं ऐसेरफ्तार के साथ तालमेल बिठाती जिंदगी में चाहिए ऐसे जीना जो बनाए आपको सबकी आंखों का नूर

Lifestyle Blog

894 Posts

831 Comments

बाहर जाना है परन्तु क्या करें इस चिलमिलाती धूप का? ज्वालामुखी की तरह तपती सूरज की किरणें सीधे आपकी आँखों पर पड़ती हैं तो मानो ऐसा प्रतीत होता है जैसे सामने अँधेरा छा गया हो. तब कहने का मन करता है “ऐसी रोशनी भी क्या रोशनी जो आपको अंधा कर दे”.
अब आप भी स्मार्ट दिखकर इस चिलमिलाती धूप से निजात पा सकते हैं. अब गाड़ी चलाते समय धूल-धक्कड़ आपकी आँखों में नहीं जाएंगे क्योंकि अब आपका साथी आपका प्यारा चश्मा करेगा आपकी मदद.

sunglassesहम लोग चश्मों का प्रयोग केवल अच्छा दिखने के लिए ही नहीं करते बल्कि यह हमारी आँखों की सुरक्षा उच्च ऊर्जा प्रकाश और सूरज की किरणों से करता है. इसके साथ-साथ चश्मे का सबसे उचित प्रयोग लोगों की आँखों में आई कमज़ोरी से निजात पाने के लिए किया जाता है.
आज बाज़ार में लोगों के मन मुताबिक अलग अलग रंग-रूप के चश्में मौजूद हैं जो आपके चेहरे से अनुसार बनाए जाते हैं. आदमी हो या औरत, बच्चा हो या बुड्डा सभी के लिए चश्मे बनते हैं और सभी चश्मों को पहनते भी हैं. चश्मों की खासियत उसके ढांचे (फ्रेम) में भी होती है. किसी का ढांचा स्टील का होता है तो कोई फाइबर का, किसी का काला होता है तो कोई हरा, गुलाबी और सलेटी रंग का. आप चश्मों को अपने द्वारा धारण किए गए कपड़ो से मैचिंग करके भी पहन सकते हैं.

रणवीर कपूर को पसंद है एवीएटर

4445247906_04c7a82b01_mबॉलीवुड के सुप्रसिद्घ अभिनेता और युवा दिलों की धड़कन रणवीर कपूर को पसंद हैं एवीएटर चश्मे. एवीएटर का अर्थ है उड़ता हुआ पंछी और इस तरह के चश्मे पाइलट द्वारा पहने जाते हैं लेकिन रणवीर कपूर को इस तरह के चश्मे का खास शौक है. अगर आपने उनकी फिल्म “बचना ए हसीनों” “अजब प्रेम की गजब कहानी” और “वेक अप सिड” देखी है तो आपने उनको यह चश्मा पहनकर और गानों में नाचते ज़रूर देखा होगा. तभी तो वह कहते हैं “छोटी ऊँगली पर नचाएगी मुझे यह है स्माल टाउन गर्ल.

क्रिकेटरों का चश्मा प्रेम

408323चाहे वह भारतीय क्रिकेटर हों या फिर किसी भी देश के सभी को चश्मा पहनकर खेलना पसंद है. क्रिकेटरों को इससे दो फायदे होते हैं पहला तो वह तेज रोशनी से अपनी आँखों की रक्षा करते हैं जो कैच पकड़ने में भी फ़ायदेमंद होता है, दूसरा वह चश्मा पहन उस चश्मे की ब्रांड का विज्ञापन कर पैसा भी कमाते हैं.

अब तो क्रिकेटर रात को भी फील्डिंग करते समय चश्मा पहनते हैं. टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज़ विरेन्द्र सहवाग और वेस्टइंडीज के कप्तान गेल तो चश्मा पहनकर गेंदबाज़ी करना पसंद करते हैं.

 

ब्रांडेड चश्मे

680755आज बाज़ार में 20 रुपए से लेकर हज़ार रुपए से ऊपर तक के चश्में मौजूद हैं परन्तु जो बात ब्रांडेड चश्मे में होती है उसकी बात ही कुछ और है. आखिर यह आपकी आँखों का सवाल है. बाज़ार में उपलब्ध सभी चश्मो में से सबसे ज़्यादा मांग रे-बैन के एवीएटर की है जो गोल्डन और ब्लैक फ्रेम में मिलता है. इसके अलावा फास्टरैक, पोलिस, गैस, फ़ारेनहाइट इत्यादि ब्रांड बाज़ार में मौजूद हैं.

This blog is related with Sunglasses or Goggles. Sunglasses or Goggles help us to protect our eyes as well as to look attractive. Peoples prefer different sunglasses according to their face modification. The most important aspect of sunglasses is its frame and that decide the price of the sunglasses. Ray-Ban Aviator Model is the most preferred brand in the market.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग