blogid : 313 postid : 802491

खतरे की आहट को समझिए, कभी न करें अपने फेसबुक पर ऐसी चीजें पोस्ट

Posted On: 12 Nov, 2014 Others में

जिएं तो जिएं ऐसेरफ्तार के साथ तालमेल बिठाती जिंदगी में चाहिए ऐसे जीना जो बनाए आपको सबकी आंखों का नूर

Lifestyle Blog

894 Posts

831 Comments

तकनीक के इस दौर में एक तरफ जहां सोशल नेटवर्किंग साइटें जन जागरुकता की सबसे बड़ी माध्यम बनकर उभरी है वहीं दूसरी तरफ लापरवाहियों की वजह से ऐसी ही साइटें आपके लिए परेशानी का सबब बनती जा रही हैं. आपको पता भी नहीं चलता और आप खुद को किन्हीं मुश्किलों से घिरा हुआ पाते हैं.


facebook10



आज के दौर में सोशल नेटवर्किंग के मामले में फेसबुक सबसे ज्यादा पसंद किए जाने वाला लोकप्रिय साइट है. इसके यूजरों की संख्या से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि इसका दायरा किस हद तक और कहां तक फैला है. फेसबुक को लेकर लोगों में इस कदर दिवानगी है कि खुद पर आने वाले खतरों को भी वे नजरअंदाज कर देते हैं. फोटो अपलोड और स्टेटस अपडेट करने के साथ-साथ जाने-अनजाने हम अपने बारे में ऐसी कई निजी जानकारियां फेसबुक पर साझा करने लगते हैं जिनके बारे में आमतौर पर हम किसी से जिक्र तक करना पसंद नहीं करते.


Read: फेसबुक पर वहशी बनी 19 साल की लड़की


दरअसल परेशानी इस बात की है कि हमें कभी ये पता ही नहीं चलता है कि फेसबुक पर कौन हमारे बारे में पढ़ रहा है या जानकारी जुटा रहा है. हम सोचते हैं कि अगर हमने अपनी प्राइवेसी सेटिंग्‍स सही से सेट की हैं तो चिंता करने की कोई बात नहीं और खुद को अपने फ्रेंड सर्किल के बीच पूरी तरह सुरक्षित समझने लगते हैं.

आइए इन पॉइंट्स के जरिए जानते हैं कि फेसबुक के खतरों से आप महफूज हैं या नहीं.


बच्चों के फोटो उनके नाम से टैग न करें: हम अपने बच्चों से बहुत ही ज्यादा प्यार करते हैं इसलिए उनकी फोटो खींचकर और वीडियो बनाकर फेसबुक पर डालने का मौका कभी नहीं छोड़ते. फेसबुक पर बच्‍चों की फोटो पोस्‍ट करने के साथ ही हम उनके नाम तथा दोस्‍तों, भाई-बहनों और दूसरे रिश्‍तेदारों के नाम भी बिना सोचे-समझे टैग कर देते हैं.


ऐसे ही नामों का इस्तेमाल कुछ असमाजिक तत्व के लोग बच्चों को बहकाने के लिए कर सकते हैं. अपने नापाक इरादों को अंजाम देने के लिए ऐसे लोग आपके बच्चों को नाम से बुलाने के साथ ही उनके दोस्‍तों और रिश्‍तेदारों का नाम भी ले सकते हैं ताकि आपके बच्चे के यकीन हो जाए कि वो अजनबी नहीं हैं. इससे बच्चा उनपर विश्वास भी करने लेगता है.

photo


सतर्क रहें जब आप घर पर अकेले हो: जब हम हमारे बच्चे अकेले घर पर छोड़ते हैं तो हम और ज्यादा सतर्क हो जाते है. हम कभी भी दूसरों को यह अभास नहीं होने देते कि कोई हमारे घर पर अकेला है. लेकिन यही बात जब फेसबुक को लेकर कही जाए है तो हम न केवल अपने बारे में बल्कि अपने परिवार वालों के बारे में भी अपडेट देते रहते हैं. हैरानी तब होती है जब हम अपने बच्चों के बारे अपडेट देते हैं जो घर पर अकेले हैं. इससे उन लोगों को भनक मिल जाती है जिनकी नजरे आपके घर और बच्चे पर है.


Read: पैसा पाने के लिए खुद को ही कैंसर पीड़ित घोषित कर दिया और चल पड़ी फेसबुक पर लोगों से मदद मांगने


लोकेशन अपडेट न करें: ऐसे कई लोग हैं जिन्‍हें फेसबुक पर लोकेशन अपडेट करना बहुत अच्‍छा लगता है.  ऐसे लोग खुलेआम इस बात का ऐलान करते फिरते हैं कि वह 24 घंटे क्या कर रहे हैं और कहां हैं. फेसबुक पर आपकी यह भूल चोरों को चोरी करने का मौका दे सकती है.

रिलेशनशिप स्‍टेटस: अगर आप अपने रिलेशनशिप के बारे में किसी को बताते हैं, खासकर लड़कियां तो आप उन लोगों को मौका देते हैं जो आपसे एक तरफा प्यार करते हैं. चाहे आप रिलेशन में हों या न हों, उसे सार्वजनिक रूप से जाहिर न करें. आप अपने प्रोफाइल में रिलेशनशिप स्‍टेटस को ब्‍लैंक छोड़ दें.

नहीं दे निजी जानकारी: बर्थडे के दिन अपनी फेसबुक वॉल पर “हैप्‍पी बर्थडे” मैसेज पढ़कर हर किसी को खुशी होती है. ऐसा करने के लिए आप अपनी निजी जानकारी को सबके सामने सार्वजनिक भी करते हैं. उन्हें अपना बर्थडेट और दूसरी जानकारी भी देते हैं. आपका यह तरीका चोरों के लिए एक चोरी करने का मौका हो सकता है. आप अगर अपना बर्थडेट मेंशन करना चाहते हैं तो बर्थ ईयर के बारे में सही जानकारी न दें.


Read more:

फेसबुक उपयोग करने वाले अब रह सकेंगे बॉस की नज़रों से दूर

हाय, क्यों बनाया फेसबुक अकाउंट !!

एक ऐसा गांव जहां हर आदमी कमाता है 80 लाख रुपए


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 3.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग