blogid : 1412 postid : 204

......उसी वक्त को तूँ याद न कर

Posted On: 26 Jun, 2010 Others में

मेरी आवाज सुनोमेरी आवाज़ ही पहचान है॥

razia mirza listenme

88 Posts

716 Comments

51by8k_th

जो चला वक्त  उसी वक्त को तूँ याद न कर।

बीती पलकों में यूं ही जिन्दगी बरबाद न कर।

भूल जा भूले हुए रिश्तों को जो छोड़ चले।

उनकी यादों की ज़हन में बडी तादाद न कर।

ना मिलेगा तुझे ये बात कहेगा सब को।

अपने दर्दों की परायों से तूं फरियाद न कर।

जो नहिं उसके ख़ज़ाने में तुझे क्या देगा?

ना दिलासा ही सही उससे युं इमदाद न कर।

”राज़”जब कोई गज़ल छेड दे ज़ख़्मों को तेरे।

तूं  उसी शे’र के शायर को ही इरशाद न कर।

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (4 votes, average: 4.25 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग