blogid : 4431 postid : 1378333

जाड़ा है मौसम का राजा

Posted On: 5 Jan, 2018 Others में

KALAM KA KAMALJust another weblog

meenakshi

161 Posts

978 Comments

जाड़ा है मौसम का राजा

-.-.-.-.-.-.-.- -.-.-.-.-.-.-.-
सूट बूट पहनने का
गले में मफलर
सिर पर टोप
ठाट-बाट से रहने का सर्दी में मजा कुछ और है ।
*
चट्पटे व्यंजन का
सरसों का साग
मक्के की रोटी
सोंठ गुड़ तिललड्डू
खाने का सर्दी में मजा कुछ और है ।
*
स्कूल बंद होने का
होम वर्क न मिलने का
मित्रों संग खेलना
सुबह देर से उठना
बिस्तर में लेटे रहने का सर्दी में मजा कुछ और है ।
*
मसालेदार चाय का
गुनगुनाती धूप का
अमरूद और सिंघाड़ा
गरमागरम मूंगफली
खाने का मजा सर्दी में मजा कुछ और है ।
*
और …
” सरदी  हो या गरमी
या  हो   बरखारानी
थोड़ी – भली  सुहाती
अति न किसी की भाती “
—————————
मीनाक्षी श्रीवास्तव

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग