blogid : 314 postid : 1380588

GST दरों में फिर हुआ बदलाव, जानें इस बार क्या हुआ सस्ता और क्या महंगा

Posted On: 19 Jan, 2018 Hindi News में

समाचार ब्लॉगदुनियां की हर खबर जागरण न्यूज के साथ

Hindi News Blog

1427 Posts

925 Comments

जीसटी काउंसिल की 25वीं मीटिंग के बाद गुरुवार (18 जनवरी, 2017) को हुई बैठक में कुछ अहम फैसले लिए गए। जीएसटी काउंसिल की बैठक में 29 सामानों पर जीएसटी दर घटाने का फैसला हुआ है। जिसमें 29 हैंडीक्राफ्ट आइटम्स को जीरो फीसदी जीएसटी के दायरे में लाया गया है, 49 आइटम्स पर टैक्स की दरें कम की गई हैं। बता दें कि फिलहाल कुछ राज्यों का रेवेन्यू ठीक नहीं है, इस पर भी मीटिंग में चर्चा की गई। ऐसे म चलिए जानते हैं आखिर क्या हुआ महंगा और सस्ता।


gst c


वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि इस बैठक में पेट्रोल और डीजल को जीएसटी में लाने पर अभी विचार नहीं हुआ है। जीएसटी की नई दरें 25 जनवरी से लागू करने का फैसला लिया गया है। उन्होंने कहा कि इस परिषद की 25वीं बैठक में रिटर्न फाइल करने की प्रक्रिया को आसान बनाने पर भी चर्चा हुई।

12000-gst-news

इन वस्‍तुओं में जीएसटी दरें घटी, 28% से 18% हुआ

1. सार्वजनिक परिवहन की बायोफ्यूल से चलने वाली बसें

2. पुरानी एसयूवी

3. बड़ी कारें और मीडियम कारें


gst


इन पर जीएसटी 18% से 12% हुआ

1. सुगर बॉइल्ड कन्फेक्शरी

2. 20 लीटर की बोतल में पेयजल

3. खाद में इस्तेमाल होने वाला फॉस्फोरिक एसिड


इन पर जीएसटी 12% से 5% हुआ

1. स्ट्रॉ से बनी चीजें

2. वैल्वेट फेब्रिक


इन पर जीएसटी 3% से 0.25%

हीरे और कीमती पत्थर

Untitled


इन पर जीएसटी की दरें बढ़ी

12% से बढ़कर 18% हुई

1. सिगरेट फिल्टर रोड्स


इन पर जीएसटी 18% से 5% हुआ

1. टेलरिंग सेवाएं

2. पेट्रोल व एटीएफ जैसे पेट्रोलियम उत्पादों की ढुलाई पर इनपुट क्रेडिट के बगैर

3.  लैदरगुड्स के जॉब वर्क

इन पर जीएसटी 28% से 18% हुआ

1. थीम पार्क, वाटर पार्क, जॉय राइड


petrol


इन पर जीएसटी 18% से 12% हुआ

1. मेट्रो रेल परियोजनाओं के कंस्ट्रक्शन

2. डीजल

3. पेट्रोल व एटीएफ जैसे पेट्रोलियम उत्पादों की ढुलाई पर इनपुट क्रेडिट के साथ

4 .कॉमन एफ्ल्यूएंट ट्रीटमेंट प्लांट


बता दें कि 1 फरवरी 2018 को आम बजट पेश होगा। बजट से ठीक पहले गुरुवार को GST काउंसिल की मीटिंग हुई। जीएसटी परिषद की पिछली मीटिंग आखिरी बार 16 दिसंबर को हुई थी। इसमें कर चोरी को रोकने के लिए इंटर स्टेट ई-वे बिल को मंजूरी दी गई थी। इसका ट्रायल 15 जनवरी से शुरू हुआ है।…Next


Read More:

एक नहीं बल्कि तीन बार बिक चुका है ताजमहल, कुतुबमीनार से भी ज्यादा है लंबाई!

सीरिया-इराक से खत्म हो रही IS की सत्ता, तो क्या अब दुनिया भर को बनाएंगे निशाना!

अक्षय ने शहीदों के परिवार को दिया खास तोहफा, साथ में भेजी दिल छू लेने वाली चिट्ठी

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग