blogid : 314 postid : 1389557

15 जुलाई से पहले पूरे देश में छा जाएंगे मानसून के बादल, ऐसे होती है मानसून की पुष्टि

Posted On: 30 May, 2018 Hindi News में

Pratima Jaiswal

समाचार ब्लॉगदुनियां की हर खबर जागरण न्यूज के साथ

Hindi News Blog

1625 Posts

925 Comments

देश में मानसून ने दस्तक दे दी है. मौसम विभाग के अनुसार समय से तीन दिन पहले केरल में मानसून ने दस्तक दी है. इसके साथ देश में दक्षिण पश्चिम मानसूनी बरसात का मौसम शुरू हो गया है. बताया जा रहा है कि एक जून तक मानसून तमिलनाडु और केरल के अधिकांश भाग को अपनी जद में ले लेगा. अनुमान लगाया जा रहा है कि 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच पूरे भारत पर मानसून के बादल छा जाएंगे और अलग-अलग हिस्सों में बारिश होती रहेगी. स्काइमेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जतिन सिंह ने कहा कि केरल में मानसून जैसी स्थितियां है और हम कह सकते हैं वार्षिक वर्षा के मौसम का आगाज हो गया है.

 

 

ऐसे होती है मानसून की पुष्टि
मौसम विभाग के मुताबिक, यदि 10 मई के बाद केरल में स्थापित 14 मौसम निगरानी केंद्रों में से 60 परसेंट में लगातार दो दिन 2.5 मिली मीटर या उससे अधिक की वर्षा लगातार दो दिन तक दर्ज की जाती है, तो दूसरे दिन केरल में मानसून के प्रवेश की घोषणा की जा सकती है. यह मानसून आने के मुख्य मानदंडों में से एक है.

 

कब कहां होगी बारिश
1-5 जून: कर्नाटक का अधिकांश क्षेत्र, पूरा आंध्र प्रदेश और तेलंगाना का कुछ हिस्सा मानसून की बारिश से भीगेगा. उत्तर पूर्व के अन्य राज्य भी इसके दायरे में आ जाएंगे.
5-10 जून: इस दौरान मानसून महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, ओडिशा, पश्चिम बंगाल के साथ-साथ बिहार के कुछ हिस्सों को अपनी आगोश में ले लेगा.
10-15 जून: मानसून मध्य भारत और उत्तर भारत का काफी हिस्से पर छा जाएगा. इस दौरान गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड और बिहार के अलावा बचे हुए पश्चिम बंगाल के इलाके में मानसून की बारिश होगी.
15 जून से 1 जुलाई : गुजरात के बचे हिस्से, राजस्थान के कुछ हिस्से, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल, पंजाब और हरियाणा के साथ साथ जम्मू-कश्मीर पर भी मानसून के बादल बारिश करेंगे.

 

 

आंधी-तूफान में गई 40 की जान
उत्तर प्रदेश, झारखंड, बिहार में आंधी-तूफान ने भीषण तबाही मचाई है. इस तबाही में करीब 40 लोगों की जान चली गई है. सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी.
अभी तक मिली खबर के मुताबिक झारखंड में 12 और बिहार में 19 लोगों की मौत हुई है. जबकि उत्तर प्रदेश में 9 लोगों की मौत हो गई.
मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी
मौसम विभाग ने एक बार फिर मौसम को लेकर 29 मई से 1 जून तक के लिए चेतावनी जारी कर दी है. 30 मई को पूर्वी-पश्चिमी राजस्थान, मध्यप्रदेश में भीषण लू की चेतावनी जारी की है. जबकि इसी दिन केरल, दक्षिणी कर्नाटक, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड में भारी बारिश होने की आशंका जताई है. दिल्ली, हरियाणा, चंडीगढ़ और पंजाब, उत्तर प्रदेश, पश्चिमी राजस्थान में धूलभरी आंधी आने की बात कही गई है. वहीं, 31 मई को केरल, कर्नाटक के तटीय इलाकों, नगालैंड, मिजोरम, मेघालय और त्रिपुरा में भारी बारिश की संभावना है. इसके साथ पश्चिम बंगाल के गंगा के मैदानी इलाकों, ओडिशा और झारखंड, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और बिहार में आंधी-तूफान आने का अनुमान लगाया गया है.

Tags:           

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 2.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग