blogid : 314 postid : 1350872

देश की बहादुर बेटी 'नीरजा भनोट' ने बचाई थी 360 जानें, मौत पर रोया था पाकिस्तान और अमेरिका

Posted On: 5 Sep, 2017 Hindi News में

समाचार ब्लॉगदुनियां की हर खबर जागरण न्यूज के साथ

Hindi News Blog

1427 Posts

925 Comments

5 सितंबर को एक 22 साल की लड़की ने फ्लाइट के लोगों के लिए अपनी जान खो दी, ये वही दिन है जब नीरजा भनोट की कराची में आतंकियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. फिल्म ‘नीरजा’ की कहानी, नीरजा भनोट पर आधारित है. नीरजा ने करीब 360 लोगों की जिंदगी बचाई. नीरजा का सम्मान भारत ही नहीं बल्कि पाकिस्तान और अमेरिका में भी किया गया था. अपनी जिंदगी गंवाकर हाईजैक हो चुके प्लेन में मौजूद लोगों की जिंदगी बचाई, जानें उनसे जुड़ी कुछ खास बातें.



neerja cover


एक सफल मॉडल थीं नीरजा

नीरजा ने लगभग 22 विज्ञापनों में काम किया, वो एक बेहद खूबूसरत और सफल मॉडल भी रह चुकी थी. महज 22 साल की उम्र में शादी और 2 महीने में उनका और उनके पति का अलग होना. इसके बाद नीरजा ने मॉडलिंग की और ‘पैन एएम’ में नौकरी के लिए खुद को तैयार किया.



neerja



जन्मदिन से ठीक दो दिन पहले हुई थी हत्या

अपने जन्मिदन से ठीक दो दिन पहले या 5 सितंबर को नीरजा जिस प्लेन में सावर थी उसे चार आतंकियो ने हाईजैक कर लिया था. 7 सितंबर को नीरजा 23 साल की होने वाली थी, लेकिन उसके पहले उन्होंने 360 लोगों के लिए खुद को कुर्बान कर दिया.



neerja


पाकिस्तान के कराची एयरपोर्ट पर फ्लाइट हुई हाईजैक

5 सिंतबर 1986 को यानी नीरजा के 23वें जन्मदिन से केवल 2 दिन पहले को पैन एएम की फ्लाइट 73 में सीनियर पर्सर थीं, ये फ्लाइट मुंबई से अमेरिका जा रही थी लेकिन पाकिस्तान के कराची एयरपोर्ट पर इसे 4 हथियारबंद लोगों ने हाईजैक कर लिया. इस फ्लाइट में 360 यात्री और 19 क्रू मेंबर्स थे.



neerjaa



बच्चों को बचाने में नीरजा को लगी गोली

प्लेन को हाईजैक करने के 17 घंटे बीतने के बाद आतंकियों ने यात्रियों की हत्या करनी शुरू कर दी. प्लेन में मौजूद 44 अमेरिकियों में से 2 की हत्या कर दी गई थी, नीरजा को आतंकियों ने उस समय गोली मारी जब वो तीन अमेरिकी बच्चों को गोली से बचाने की कोशिश कर रही थीं

.

Neerja Bhanot



पाकिस्तान और अमेरिका भी हैं नीरजा के मुरीद

भारत सरकार ने इस काम के लिए नीरजा को बहादुरी के लिए सर्वोच्च वीरता पुरस्कार ‘अशोक चक्र’ से सम्मानित किया. नीरजा यह पुरस्कार पाने वाली सबसे कम उम्र की महिला रहीं. इतना ही नहीं, नीरजा को पाकिस्तान सरकार की तरफ से ‘तमगा-ए-इंसानियत’ और अमेरिकी सरकार की तरफ से ‘जस्टिस फॉर क्राइम अवॉर्ड’ से भी नवाजा…Next


Read More:

11 लाख से ज्यादा लोगों के पैन कार्ड हुए बंद, इस तरह पता करें अपने पैन की वैलिडिटी

सेना ने केंद्र सरकार से मांगा 20 हजार करोड़ का अतिरिक्‍त बजट, चीन से जंग की आहट!

फेसबुक, इंस्टाग्राम से पता चलेगी आपकी इनकम! सरकार और इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट की रहेगी नजर

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग