blogid : 314 postid : 580185

Robert Vadra: सरकारी दामाद के पीछे पड़ा विपक्ष !

Posted On: 13 Aug, 2013 Hindi News में

समाचार ब्लॉगदुनियां की हर खबर जागरण न्यूज के साथ

Hindi News Blog

1625 Posts

925 Comments

कांग्रेस के साथ-साथ राष्ट्रीय दामाद का दर्जा प्राप्त कर चुके रॉबर्ट वाड्रा आजकल फिर विवादों में है. वजह वाड्रा से जुड़े भूमि सौदे पर अशोक खेमका की रिपोर्ट जिसने संसद और संसद के बाहर सियासत को गरमा दिया है. इसी संबंध में लोकसभा और राज्यसभा में जमकर हंगामा किया गया. विपक्ष रॉबर्ट वाड्रा के भूमि सौदों की जांच की मांग कर रहा है. दोनों सदनों में हंगामे के कारण कामकाज ठप रहा.


मुनाफा कमाने का एक नया मॉडल

रॉबर्ट वाड्रा जमीन विवाद मामले को लेकर मंगलवार को भी सांसदों ने संसद में जमकर हंगामा किया। इस बीच, भाजपा के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा ने वाड्रा का नाम लिए बगैर ही उन पर कटाक्ष करते हुए कहा, हमारे बीच एक ऐसा व्यक्ति मौजूद है जिसने बगैर बी स्कूल गए ही मुनाफा कमाने का पैंतरा सीखा है. सिन्हा ने कहा कि वाड्रा ने बिजनेस में मुनाफा कमाने का एक नया मॉडल पेश किया है. यशवंत सिन्हा ने निवेश के मुद्दे पर सिर्फ वाड्रा की ही नहीं बल्कि वित्त मंत्री पी चिदंबरम की भी चुटकी ली है. उन्होंने कहा कि वित्त मंत्री को भी वाड्रा के बिजनेस स्कूल में भर्ती हो जाना चाहिए. उन्हें वाड्रा से निवेश संबंधित टिप्स लेने चाहिए.


मायवती की दरियादिली

उधर इस संबंध में बसपा सुप्रीमो ने गांधी परिवार के प्रति दरियादिली दिखाई. बसपा प्रमुख मायावती ने सदन स्थगित होने के बाद कहा कि हमारी पार्टी इस बात से सहमत नहीं है कि सोनिया गांधी इसके लिए जिम्मेदार है. यदि कोई गलत काम करता है तो उसके रिश्तेदार को दंडित नहीं किया जाना चाहिए. रॉबर्ट वाड्रा के खिलाफ आरोपों को लेकर सोनिया को कैसे जिम्मेदार ठहराया जा सकता है ?


वाड्रा पर आरोप

हरियाणा के चर्चित आईएएस अफसर खेमका ने पिछले दिनों वाड्रा जमीन सौदे में अपनी रिपोर्ट पेश की. 100 पन्नों की इस रिपोर्ट में खेमका ने वाड्रा पर आरोप लगाया कि उन्होंने जमीन का सौदा फर्जी दस्तावेजों के आधार पर किया. हरियाणा में एक भूमि लाइसेंस घोटाले और गुड़गांव में भूमि सौदों में वाड्रा द्वारा गलत दस्तावेजों का उपयोग करने का आरोप लगाया है. मामला गुड़गांव के शिकोहपुर गांव की 3.53 एकड़ जमीन का है जहां फर्जी दस्तावेज के माध्यम से वाणिज्यिक कालोनी के लाइसेंस पर बड़ा मुनाफा कमाया. यह वही जमीन है जिसके सौदे की जांच करने के बाद आईएएस खेमका ने जमीन की रजिस्ट्री को ही रद्द कर दिया था.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग