blogid : 314 postid : 2070

आखिर कब तक अमरीका शोक में डूबा रहेगा

Posted On: 15 Dec, 2012 Hindi News में

समाचार ब्लॉगदुनियां की हर खबर जागरण न्यूज के साथ

Hindi News Blog

1427 Posts

925 Comments


school firing usमानवता और इंसानियत के दुश्मनों का न तो कोई चेहरा होता है और न ही कोई धर्म. उनका तो बस एक ही लक्ष्य होता है कि किस तरह से अधिक-अधिक मानवजाति को नुकसान पहुंचाया जाए. हर बार कि तरह एक बार फिर अमेरिका दहल उठा. अमरीका के कनेक्टिकट के न्यूटाउन स्थित एक प्राथमिक विद्यालय में एक व्यक्ति ने गोलियां चलाकर 27 लोगों की हत्या कर दी, जिनमें 20 बच्चे भी शामिल हैं. हमलावर की पहचान 20-वर्षीय एडम लांजा के तौर पर हुई है और वह इसी विद्यालय में एक बच्चे का पिता था. इस हत्याकांड के बाद उसने खुद को भी गोली मारकर आत्महत्या कर ली.


Read: मोदी के चुनावी प्रचार में इन ‘पांच तत्वों’ का अहम रोल


इस वारदात को अमेरिका के विद्यालयों में अब तक की सबसे बड़ी घटनाओं में से एक माना जा रहा है. सैंडी हूक एलमेंटरी स्कूल नामक इस विद्यालय में नर्सरी से चौथी कक्षा तक के बच्चे पढ़ते हैं, जिनकी उम्र पांच से दस साल के बीच होती है. खबरों के अनुसार हमलावर ने उस कक्षा को निशाना बनाया, जहां उसकी मां शिक्षक थी. मारे गए लोगों में हमलावर की मां भी शामिल हैं. पुलिस को वारदात की जानकारी सुबह 9.41 बजे मिली. गोलीबारी की इस घटना के बाद शहर के सभी स्कूल बंद कर दिए गए हैं. इस घटना के बाद अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने बयान में कहा कि इस घटना से देश को काफी धक्का लगा है. उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए कदम उठाने पड़ेंगे.


गौरतलब है कि पिछले दिनों अमेरिका के विसकॉन्सिन में एक हमलावर ने गुरुद्वारे पर हमला कर दिया था. बंदूकों से लैस हमलावर की अंधाधुंध फायरिंग में 6 श्रद्धालुओं की मौत हो गई, जबकि 30 लोग घायल थे. इससे पहले जुलाई में अमरीका के कोलोराडो इलाके में एक थिएटर में हुई गोलीबारी में बैटमैन फिल्म की प्रीमियर के वक्त एक नकाबपोश ने थियेटर में घुस कर फायरिंग कर दी, जिसमें कम से कम 12 लोग मारे गए थे.


Read: क्या है फिक्स्ड डिपॉजिट में निवेश का फंडा


इस तरह की घटनाओं का अपना हे इतिहास

1. अप्रैल 2012 में अमरीका में कैलिफ़ोर्निया के एक विश्वविद्यालय में गोलीबारी में सात लोगों की मौत हो गई. बंदूकधारी कॉलेज का पूर्व छात्र था. हमले के बाद में उसने आत्मसमर्पण कर दिया था.


2. फरवरी 2010-अलाबामा विश्वविद्यालय के प्रोफेसर ऐमी बिशप ने फैकल्टी की बैठक के दौरान गोलियां चलाई थी जिसमें तीन लोग मारे गए और तीन अन्य घायल हुए थे.


3. फरवरी 2008-नॉरदर्न इलिनॉइस विश्वविद्यालय के पूर्व स्नातक छात्र स्टीवन कजमीयरकजाक ने पांच छात्रों की हत्या की.  इस गोलीकांड में कई छात्र घायल भी हुए. इस घटना के बाद हमलावर ने खुद को मार लिया था.


4. अप्रैल 2007-वर्जिनिया टेक में हमलावर ने एक छात्रावास में 30 लोगों की हत्या कर दी थी. हमलावर का नाम सिउंग हुइ चो था. घटना के बाद इसने भी अपने आप को गोली मार ली.


5. अप्रैल 1999-कॉलम्बाइन हाई स्कूल में दो छात्रों ने 13 लोगों की हत्या कर दी थी और 20 से अधिक लोगों को घायल किया था. इसके बाद उसने खुद को गोली मार ली.


6. 2008 में अमरीका से अलग हटकर फिनलैंड में एक कॉलेज में एक छात्र ने अंधाधुंध गोलियां चलाकर कम से कम 10 लोगों को मार डाला है. यहा भी हमलावर ने खुद को गोली मार ली.


7. 2004 में रूस के दक्षिणी इलाके में कुछ हथियारबंद लोगों ने एक स्कूल पर कब्जा कर लिया था और वहां मौजूद लगभग 200 से अधिक बच्चों को बंधक बना लिया.


Read:

सैंडी के आगे अमरीका नतमस्तक

Career Information: कैसा होता है नेवी में प्रवेश

धोनी के खिलाफ मुंह खोलोगे तो बाहर जाओगे !

Tag: Connecticut, Sandy Hook, Adam Lanza, US school shooting, Nancy Lanza, Barack Obama, shooting, school, अमरीका, स्कूल, हथियार, गोली, शूटिंग, सैंडी हूक, फायरिंग, बराक ओबामा.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग