blogid : 314 postid : 1390257

लड़की ने यूजीसी नेट का एग्‍जाम देने की बजाय चुना ह‍िजाब, फेसबुक पोस्‍ट में बयां की घटना

Posted On: 21 Dec, 2018 Hindi News में

Pratima Jaiswal

समाचार ब्लॉगदुनियां की हर खबर जागरण न्यूज के साथ

Hindi News Blog

1619 Posts

925 Comments

एग्जाम से पहले चेकिंग की खबरें आपने कई बार पढ़ी होगी। जिसमें लड़कियों की सख्त तलाशी चर्चा का विषय बनती है, नकल रोकने के लिए पिछले कुछ समय से कई तरीके अपनाए गए हैं लेकिन कभी-कभी ये तरीके एक मुद्दा बन जाते हैं, जिस पर बहस होती है। कुछ ऐसा ही मामला सामने आया गोवा के मर्सेज की रहने वाली मुस्लिम युवती को नेशनल एजिलिबिलिटी टेस्ट (NET) में बैठने के लिए हिजाब उतारने को कहा गया था।

 

प्रतीकात्मक तस्वीर

 

युवती ने इसे इस्लाम के खिलाफ बताते हुए एग्जाम छोड़ दिया। उन्होंने बताया कि इससे पहले भी उनके साथ इस तरह का भेदभाव हो चुका है। आहत होकर युवती ने सोशल मीडिया के जरिए अपनी आवाज उठाई है। उनका कहना है कि उन्हें हिजाब पहनने पर विरोध का सामना करना पड़ रहा है जबकि नन को हेडगियर पहनने की अनुमति दे दी जाती है।

 

 

फेसबुक पोस्ट पर बताई पूरी घटना
साइकोलॉजी से पोस्ट ग्रेजुएट की डिग्रीधारक और लेखिका 24 साल की सफीना खान सौदागर के फेसबुक पोस्ट के बाद उनके समर्थन में कई लोग सामने आए हैं। सफीना ने दावा किया कि वह नेट का एग्जाम देने में असमर्थ रहीं क्योंकि उनसे परीक्षा में बैठने के लिए हिजाब हटाने को कहा गया था। सफीना ने कहा कि उन्हें अलग-अलग मौकों पर भेदभाव का सामना करना पड़ा है क्योंकि वह धार्मिक कारणों से सिर पर हिजाब पहनती हैं।

सफीना ने लिखा ‘मैंने उनके नियमों को मानते हुए परीक्षा में न बैठने का फैसला किया।’ उन्होंने लिखा, ‘मंगलवार को मैं नेट के एग्जाम में बैठने वाली थीं लेकिन वहां मुझे अनुमति नहीं दी गई। क्यों? क्योंकि मैंने हिजाब उतारने से मना कर दिया। हां, यह बिल्कुल सही है। एक लोकतांत्रिक देश में, एक धर्मनिरपेक्ष समाज और गोवा जैसे फॉरवर्ड राज्य में मुझे एक एग्जाम में बैठने नहीं दिया गया।’

इस बार यूजीसी की नेट परीक्षा का आयोजन नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) करा रही है।…Next

 

Read More :

ट्रैवल रिस्क मैप के मुताबिक ये देश हैं सबसे ज्यादा खतरनाक, भारत के इन राज्यों में ज्यादा खतरा!

सुप्रीम कोर्ट में घूमने के लिए जा सकते हैं आम लोग, जानें कैसे मिल सकती है एंट्री

क्या है RBI एक्ट में सेक्शन 7, जानें सरकार रिजर्व बैंक को कब दे सकती है निर्देश

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग