blogid : 314 postid : 1124920

मशहूर हस्तियों को दरकिनार करके याहू ने इसलिए बनाया गाय को ‘पर्सनैलिटी ऑफ द ईयर’

Posted On: 22 Dec, 2015 Hindi News में

समाचार ब्लॉगदुनियां की हर खबर जागरण न्यूज के साथ

Hindi News Blog

1467 Posts

925 Comments

दुनिया की नम्बर वन बनने की दौड़ में आज हर कोई भाग रहा है. बल्कि ये कहना गलत नहीं होगा कि हर किसी के मन में ऐसा अनोखा काम करने की चाहत होती है जिससे उसका नाम पूरी दुनिया जाने. कुछ लोग तो इस हद तक मशहूर होने की महत्वकांक्षा रखते हैं कि उनका नाम गूगल और याहू जैसे सर्च इंजन में लोगों द्वारा बार-बार खोजा जाए लेकिन सच तो ये है कि हम में से ऐसे कम ही लोग होते हैं जिनका ये सपना पूरा हो पाता है. लेकिन अगर हम आपसे कहे कि इस बार याहू ने ‘पर्सनैलिटी ऑफ द ईयर’ गाय को चुना है तो आपको यकीन नहीं होगा.


Cow-in-London


Read : आवारा कुत्तों को दूध पिलाती है यह गाय


लेकिन ये सच है इस बार गाय को इंटरनेट पर सबसे ज्यादा सर्च किया गया शख्स बताया गया, साथ ही ऐसी घटनाओं और मामलों को भी सबसे ज्यादा खोजा गया है जो गाय से जुड़े हुए थे. दरअसल याहू की रिव्यू कमिटी टीम ने साल के सभी टॉप ट्रेंड के रिव्यू के बाद ये नतीजा निकाला है कि भारत में इस साल हुई सियासी और सामाजिक हलचल के ज्यादातर मामलों में गाय ही मुद्दे के केन्द्र में रही. जिस वजह से गाय से जुड़े हुए मामलों को सबसे ज्यादा सर्च किया गया है. दादरी कांड और कई मामलों में तनाव की शुरुआत गाय के मुद्दे को लेकर हुई थी.


Read : क्यों हिंदुओं में पूजनीय है गाय माता


वहीं देश में ऐसी हिंसक घटनाओं और असहनशीलता के कारण कई नामी-गिरामी लेखकों, साहित्यकारों ने अवॉर्ड वापसी का अभियान छेड़ दिया था. याहू हर साल अपने यूजर्स सर्च आदतों और तरीकों की साल के अंत में रिव्यू करता है. जिसमें से सबसे ज्यादा सर्च किए गए और टॉप ट्रेंड में शामिल लोगों को भारत की ‘पर्सनैलिटी ऑफ द ईयर’ खिताब से नवाजा जाता है. इस बार गाय को ‘पर्सनैलिटी ऑफ द ईयर’ के खिताब से नवाजकर याहू ने पूरी दुनिया को चौंका दिया है…Next


Read more :

बड़े अरमानों से विदा हुई वो फिर किसने पहुंचाया उसे मौत के अंजाम तक? क्रूरता और हैवानियत की हृदयविदारक दास्तां

मस्जिद में इस अभिनेत्री ने टखना क्या दिखाया हो गया विवाद

घर से भागे थे शादी करने को लेकिन अब दर-दर भटक रहे हैं भूखे… जानिए पुलिस व घरवालों से बचते 9 नाबालिक बच्चों की सच्ची घटना


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग