blogid : 26149 postid : 1746

मीना कुमारी ने धमेंद्र की बेवफाई को माफ कर दिया लेकिन उनके पति ने फिल्म के बहाने लिया था बदला! एक सीन में चेहरे पर कालिख लगाकर शहर भर में घुमा दिया

Posted On: 1 Aug, 2019 Others में

Pratima Jaiswal

OthersJust another Jagranjunction Blogs Sites site

Others Blog

265 Posts

1 Comment

एक ऐसी अभिनेत्री जिनका जादू आज दशकों बाद भी कायम है. खूबसूरती ऐसी जिसकी तारीफ आज भी होती है लेकिन फिल्म की चकाचौंध से परे उनकी निजी जिंदगी ऐसी थी कि वो जब भी बहुत खुश होती, तो कोई ना कोई हादसा पेश आता था. मोहब्बत हुई लेकिन मुकम्मल होकर भी अधूरी ही रही हमेशा. आज उसी अभिनेत्री और शायरा मीना कुमारी का जन्मदिन है. उनके जन्मदिन पर पलटते हैं उनकी जिंदगी के पन्ने-

 

meena kumari

 

पैदा होते ही अनाथालय के बाहर छोड़ गए थे माता-पिता

मीना कुमारी का नाम महजबीन था. जब उनका जन्म हुआ तब पिता अली बख्‍श और मां इकबाल बेगम के पास डॉक्‍टर को देने तक के पैसे नहीं थे. घोर गरीबी में दोनों ने फैसला किया कि महजबीन को अनाथालय में छोड़ दिया जाए, दोनों ने अपने नवजात बच्चे को अनाथालय की सीढ़ियों पर छोड़ दिया लेकिन, पिता का मन नहीं माना और वो कुछ देर बाद पलटकर भागे और बच्‍ची को गोद में उठा कर घर ले आए. किसी तरह मुश्किल भरे हालातों से लड़ते हुए उन्होंने उनकी परवरिश की.

 

 

meena kumari 3

 

बेस्ट एक्ट्रेस की लिस्ट में अपनी तीनों फिल्मों के लिए हुई थी नॉमिनेट

मीना ने 7 साल की उम्र से ही फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था. बहुत कम उम्र से ही मीना ने परिवार वालों की जिम्मेदारी अपने कंधों पर ले ली थी. इसके बाद साल बीतते गए और मीना ने कई दमदार फिल्मों में अपने अभिनय का जादू बिखेरा. 1963 के दसवें फिल्‍मफेयर अवॉर्ड में बेस्‍ट एक्‍ट्रेस कैटेगरी में मीना की तीन फिल्म (मैं चुप रहूंगी, आरती और साहिब बीवी और गुलाम) नॉमिनट हुई थीं, उन्हें यह अवॉर्ड ‘साहिब बीवी और गुलाम’ में उनके निभाए गए ‘छोटी बहू’ के किरदार के लिए मिला था.

 

 

 

गुपचुप कमाल अमरोही से शादी

मीना और राइटर कमाल अमरोही के बीच फिल्मों में साथ करते हुए इश्क पनपा. दोनों ने चकाचौंध से दूर गुपचुप शादी कर ली. उनकी शादी के बारे फिल्मी दुनिया तो दूर उनके पिता को भी पता नहीं चला. शादी के वक्त मीना की उम्र 19 और कमाल की उम्र 34 साल थी. कमाल दो बार शादी कर चुके थे. एक दिन पिता ने कमाल और मीना के बीच फोन पर चल रही बातें सुन ली. पिता को पता चलते ही उन्होंने बेटी मीना से शादी तोड़ने के लिए दबाव बनाना शुरू कर दिया लेकिन मीना नहीं मानी. इसके बाद हालात ऐसे बने कि पिता ने मीना के लिए घर के दरवाजे बंद कर दिए, जिसके बाद मीना को कमाल के घर आकर रहना पड़ा. अगले दिन शहर भर के अखबारों में दोनों की गुपचुप शादी की खबर छपी. दोनों ने साथ-साथ काफी फिल्मों में काम किया लेकिन शादी के कुछ सालों बाद कमाल और मीना के बीच काफी वजहों से दूरियां आने लगी.

 

meena 3

 

गुलजार को बताया जाता है सबसे बड़ी वजह

कमाल को मीना और गुलजार के बीच नजदीकियां पसंद नहीं थी. गुलजार साहब ने एक इंटरव्यू में कहा था ‘उन दिनों मीना अक्सर बहुत परेशान रहती थी. वो मुझसे अपनी काफी बातें शेयर करती थी. कमाल और उनके बीच सबकुछ सही नहीं चल रहा था, बस एक दिन हालात ऐसे बने कि कमाल को कुछ गलतफहमी हो गई और फिर दोनों के रिश्ते बिगड़ गए.’ कहते हैं मीना ने कमाल से तलाक तो नहीं लिया लेकिन दुबारा लौटकर उनकी जिंदगी में नहीं आई.

 

meena 5

 

कमाल ने धर्मेंद्र से लिया था मीना कुमारी से बेवफाई का बदला

मीना और कमाल अलग तो हो गए लेकिन मीना फिर भी कमाल की ड्रीम प्रोजेक्ट पाकीजा में काम करती रही. फिल्म में राजकुमार की जगह धर्मेंद्र को लिया गया था. लेकिन धमेंद्र और मीना के बीच बढ़ती नजदीकियों के चलते फिल्म के बीच में ही धर्मेंद्र को हटाकर राजकुमार को ले लिया गया. माना जाता है कि मीना धर्मेंद्र से बहुत प्यार करने लगी थी लेकिन धर्मेंद्र कुछ दिनों बाद ही ड्रीम गर्ल हेमा के प्यार में पड़ गए. मीना को इस बात से गहरा सदमा पहुंचा और वो बीमार रहने लगी. उन्हें रात में अक्सर नींद नहीं आती थी, जिसके लिए वो नींद की गोली रोजाना लेने लगी. जब डॉक्टर ने उन्हें चेक किया तो पाया कि नींद की गोली लेने की वजह से उनकी हालत बिगड़ती जा रही है.

 

dharm 6

 

डॉक्टर ने उन्हें नींद के लिए गोली की बजाय एक पेग ब्रांडी लेने की सलाह दी. लेकिन ट्रेजेडी क्वीन मीना को शराब की लत लग गई और गम, बेवफाई और शराब की लत के चलते 31 मार्च 1972 को उनकी मौत हो गई. उनके मरने के बाद कमाल मरते दम को धर्मेंद्र की बेवफाई को मीना की मौत का जिम्मेदार मानते रहे. 1983 में कमाल अमरोही ‘रजिया सुल्तान’ फिल्म के निर्माता-निर्देशक थे. उन्होंने धर्मेंद्र को फिल्म के एक सीन में मुंह काला करके घुमाया. जबकि फिल्म की कहानी के अनुसार इस सीन की जरूरत नहीं थी. माना जाता है कि मीना के साथ धर्मेंद्र की बेवफाई की कसक कमाल के दिल में हमेशा रही, तभी उन्होंने धर्मेंद्र के साथ ऐसा सुलूक किया था. आज भी हिंदी फिल्म जगत चाहे कितना भी आगे क्यों ना निकल जाए लेकिन मीना कुमारी का नाम चुनिंदा अभिनेत्रियों में हमेशा शुमार किया जाता है. …Next

 

Read More :

जिन लोगों के लिए 16 सालों तक अनशन पर रही इरोम शर्मिला, वही उनकी प्रेम कहानी के ‘विलेन’ बन गए

रणबीर कपूर की रिजेक्ट की हुई इन 5 फिल्मों ने रणवीर सिंह को बना दिया स्टार, इनमें से 3 फिल्में रही सुपरहिट

भारतीय मूल के बिजनेसमैन ने एक साथ खरीदी 6 रोल्स रॉयस कार, चाबी देने खुद आए रोल्स रॉयस के सीईओ

 

 

Rate this Article:

  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग