blogid : 26149 postid : 2183

22 रंग के फूलों वाली सरसों उगाई, पहली बार रचा इतिहास

Posted On: 16 Mar, 2020 Others में

Rizwan Noor Khan

OthersJust another Jagranjunction Blogs Sites site

Others Blog

313 Posts

1 Comment

आमतौर पर देखा गया है कि सरसों के फूल पीले रंग के होते हैं और इसकी दुनिया भर में बड़े पैमाने पर खेती की जाती है। हालांकि, कुछ इलाकों में सफेद रंग के फूलों वाली सरसों की फसल भी उगाई जाती है। लेकिन, चीन में इन दिनों 22 अलग अलग तरह के रंग के फूलों वाली सरसों की फसल उगाई गई है। यह कारनामा करने वाले विशेषज्ञों की दुनियाभर में खूब चर्चा हो रही है। इन सरसों के फूलों की तस्‍वीरों को सोशल मीडिया पर खूब पसंद किया जा रहा है।

 

 

 

 

 

फिल्‍मों में खूब दिखते हैं सरसों के खेत
बॉलीवुड फिल्‍मों के गीतों में अकसर सरसों के पीले फूलों से भरे खेतों में नायक और नायिका को नृत्‍य करते दिखाया जाता है। इस तरह के द्रश्‍यों से दर्जनों फिल्‍में भरी हुई हैं। जानकारों के मुताबिक दुनियाभर के किसान ज्‍यादातर पीले फूलों वाली सरसों की खेती करते हैं। इससे निकलने वाले तेल को कई औषधीय गुणों से युक्‍त माना जाता है। इसके तेल को खाने में भी जमकर इस्‍तेमाल किया जाता है।

 

 

 

 

 

पीले, सफेद के बाद 22 कलर की सरसों
दुनिया के कुछ हिस्‍सों में सफेद रंग के फूलों वाली सरसों की खेती भी की जाती है। हालांकि, वैज्ञानिक इस सरसों के तेल को पीली सरसों जितना औषधीय और स्‍वाद के लिए बेहतर नहीं मानते हैं। शिन्‍हुआ के अनुसार हाल ही में चीन के विशेषज्ञों ने 22 रंग वाली सरसों उगाने का कारनामा कर दिखाया है। कई सालों की मेहनत के बाद उगे 22 रंगों वाले फूलों को देखने के लिए बड़ी संख्‍या में लोग खेतों में पहुंच रहे हैं।

 

 

 

 

कलरफुल फ्लॉवर्स देख झूम उठे लोग
शिन्‍हुआ के अनुसार चीन के जिआंग्‍झी, जिआंग्‍सू और हुनान प्रांतों में इन 22 कलर की सरसों से भरे खेत देखे जा सकते हैं। इन खेतों में ज्‍यादातर चेरी कलर, पर्पल और रेड कलर के फूलों वाली सरसों उगाई गई है। विशेषज्ञों के अनुसार तिब्‍बत के दक्षिण के इलाके की जमीन भी इन प्रजातियों को उगाने के लिए सही है। अलग अलग रंग के फूलों वाले खेतों का नजारा देख लोग हतप्रभ हैं। इन खेतों की तस्‍वीरें को सोशल मीडिया पर खूब पसंद किया जा रहा है।

 

 

 

 

सालों की मेहनत रंग लाई
जिआंग्‍झी एग्रीकल्‍चर यूनीवर्सिटी के रिसर्चर फू डोंगहुई ने बताया कि कई सालों के शोध और मेहनत के बाद वह 22 अलग अलग रंग वाले फूलों की सरसों उगाने में कामयाब हुए हैं। उन्‍होंने कहा कि उनकी टीम ने 38 प्रजाति की सरसों को उगाने में सफलता हासिल की है। उन्‍होंने कहा कि यह ऑइल, कॉस्‍मेटिक प्रोडक्‍ट और इत्र बनाने के काम आने के कारण यह कामयाबी चीन के आर्थिक विकास को नई गति दे सकती है।…NEXT

 

 

 

Read more:

उस्‍मानिया यूनीवर्सिटी में पढ़ने वाले राकेश शर्मा कैसे पहुंचे अंतरिक्ष, जानिए पूरा घटनाक्रम

रतन टाटा आज भी हैं कुंवारे, इस वजह से कभी नहीं की शादी

टीपू सुल्‍तान ने ऐसा क्‍या किया जो कहलाए फॉदर ऑफ रॉकेट, जानिए कैसे अंग्रेजों के उखाड़ दिए पैर

Rate this Article:

  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग