blogid : 26149 postid : 942

शहीद जवान औरंगजेब के पिता बीजेपी में हुए शामिल, पीएम को बेटे की तस्वीर की भेंट

Posted On: 4 Feb, 2019 Others में

Pratima Jaiswal

OthersJust another Jagranjunction Blogs Sites site

Others Blog

131 Posts

1 Comment

वो ईद पर आने का वादा करके अपने घर की तरफ लौट रहा था कि आंतकियों ने पुलवामा जिले में उसे अगवा करके उसकी हत्या कर दी। ईद मनाने की आरजू मन में लिए राष्ट्रीय राइफल के राइफलमैन औरंगजेब हमेशा के लिए दुनिया को अलविदा कह गए। बीते साल की ईद इस शहीद जवान के लिए आखिरी ईद साबित हुई। उनके इस बलिदान के बाद पूरे देश ने उन्हें श्रंद्धाजलि दी थी। अब औरंगजेब के पिता एक जनसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल हो गए।

 

 

 

अपने बेटे की तस्वीर पीएम को की भेंट
राजौरी के निवासी राइफलमैन औरंगजेब के पिता मोहम्मद हनीफ सेना के पूर्व अधिकारी लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) राकेश कुमार शर्मा के साथ बीजेपी में शामिल हुए। प्रधानमंत्री द्वारा शर्मा के साथ हनीफ का पार्टी में स्वागत किया गया। इस पर हनीफ ने अपने शहीद बेटे की एक तस्वीर प्रधानमंत्री को भेंट की।

 

 

मोदी सरकार को बताया सर्वश्रेष्ठ
गौरतलब है कि राष्ट्रीय राइफल के राइफलमैन औरंगजेब (44) की आतंकवादियों ने पुलवामा जिले में उस वक्त अगवा कर हत्या कर दी थी जब 14 जून को वह ईद मनाने के लिए अपने घर जा रहे थे। बाद में उन्हें मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था। हनीफ ने कहा, ‘मैं बीजेपी की गरीब समर्थक नीतियों के कारण इस पार्टी में शामिल हुआ हूं। मोदी सरकार देश में सर्वश्रेष्ठ सरकार है, जो पिछली सरकारों के विपरीत गरीबों के बारे में सोचती है।’

 

 

शहीद औरंगजेब ही नहीं, भारतीय सेना में घर के बाकी सदस्य भी रह चुके हैं भर्ती
औरंगजेब खूंखार आतंकी और हिजबुल कमांडर समीर टाइगर का एनकाउंटर करने वाली टीम के सदस्य थे और माना जा रहा है कि इसी के चलते आतंकियों ने उनकी हत्या कर दी। बता दें कि औरंगजेब के परिवार का सेना में सेवा देने का इतिहास रहा है। औरंगजेब के पिता भी सेना में अपनी सेवाएं दे चुके हैं, वहीं औरंगजेब के चाचा सेना में सेवा के दौरान शहीद हो चुके हैं। औरंगजेब का भाई भी सेना में है। आज पूरे सैन्य सम्मान के साथ शहीद औरंगजेब को अंतिम संस्कार किया कर दिया गया…Next

 

Read More :

SDMC सदन में बीजेपी की पार्षद पहनकर आई ‘नमो अगेन’ टी-शर्ट, विपक्षी नेताओं ने जताया कड़ा ऐतराज

कौन थे ‘वॉकिंग गॉड’ श्री शिवकुमार स्वामी जिनके निधन पर पीएम समेत कई बड़े नेताओं ने जताया शोक

26 जनवरी परेड में पहली बार गूंजेगी भारतीय ‘शंखनाद’  धुन, ब्रिटिश धुन को अलविदा

Rate this Article:

  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग