blogid : 26149 postid : 2550

दूषित भोजन दे रहा 200 से ज्यादा बीमारियां, कई तो कोरोना से भी खतरनाक

Posted On: 5 Jun, 2020 Others में

Rizwan Noor Khan

OthersJust another Jagranjunction Blogs Sites site

Others Blog

337 Posts

1 Comment

 

 

खराब या दूषित भोजन से हर साल बड़े पैमाने पर लोग बीमार होते हैं और कई बार तो मौत का शिकार भी बन जाते हैं। यही नहीं दूषित भोजन 200 से ज्यादा बीमारियां भी दे जाता है। कई बीमरियां तो कोरोना वायरस से भी ज्यादा खतरनाक हैं और देखते ही देखते व्यक्ति की मौत हो जाती है।

 

 

 

 

सफाई नहीं होने पर जान को खतरा
मेडिकल साइंस में कहा जाता है कि गंदगी से हर बीमारी उपजती है। इसलिए सफाई का ख्याल रखना चाहिए। इसी तरह खराब या दूषित भोजन खाने से भी जानलेवा बीमारियां कभी भी घेर सकती हैं और मौत के मुंह में भी धकेल सकती हैं। ताजा रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है कि दूषित भोजन के कारण हर साल 420000 लाख लोगों की मौत हो जाती है।

 

 

 

 

हर दसवां व्यक्ति दूषित भोजन खा रहा
विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार दूषित भोजन के कारण बीमार होने और मरने वालों की संख्या में पिछले कुछ सालों में बढ़ोत्तरी देखी गई है। इसकी बड़ी वजह डब्बाबंद भोजन और कई दिन तक स्टोर किए जाने वाले फल और सब्जियां भी हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि 10 में से 1 आदमी खराब दूषित भोजन खा रहा है और बीमार हो रहा है।

 

 

 

 

कोरोना से भी खतरनाक बीमारियां पनप रहीं
रिपोर्ट में बताया गया है कि दूषित भोजन से 200 तरह की बीमारियां पनपती हैं और कई तो कोरोना वायरस से भी ज्यादा खतरनाक होती हैं। इन बीमारियों में सबसे ज्यादा श्वसन तंत्र और पाचन तंत्र को नुकसान पहुंचाने वाली होती हैं। दूषित भोजन के इस्तेमाल करने या फिर कई दिन तक स्टोर किए जाने वाले फल, सब्जियों से भी यह बीमारियां पनप जाती हैं।

 

 

 

 

4.20 लाख लोग हर साल मर रहे
दूषित खाद्य पदार्थों के कारण हर साल 420000 लाख लोग अपनी जान गवां देते हैं। सबसे ज्यादा बुरा असर 5 साल तक के बच्चों पर पड़ता है। दूषित भोजन के कारण हर साल 125000 लाख बच्चे इन बीमारियों का शिकार होकर मौत के मुंह में चले जाते हैं। दूषित भोजन से पनपी बीमारियां बच्चों के साथ ही बुजुर्गों के ​लिए घातक साबित होती हैं।…NEXT

 

 

 

Read more:

6 करोड़ लोगों पर लटकी गरीबी की तलवार, विश्वबैंक के खुलासे से दुनियाभर में चिंता बढ़ी

35 देश अपने ही बच्चों के भविष्य के लिए खतरा बने, अफगानिस्तान समेत एशिया के कई देश लिस्ट में

लॉकडाउन में बेटे को सब्जी लेने भेजा तो बीवी लेके लौटा, जानिए फिर क्या हुआ

पाकिस्तान से 30 साल बाद रिहा होगा एशियाई हाथी, जनरल जियाउल हक को गिफ्ट में मिला था

Rate this Article:

  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग