blogid : 26149 postid : 591

इलाहाबाद बन गया ‘प्रयागराज’, इससे पहले भी इन शहरों के बदले जा चुके हैं नाम

Posted On: 16 Oct, 2018 Others में

Pratima Jaiswal

OthersJust another Jagranjunction Blogs Sites site

Others Blog

259 Posts

1 Comment

उत्तर प्रदेश का ‘इलाहाबाद’ जिला अब ‘प्रयागराज’ के नाम से जाना जाएगा। मंगलवार को हुई यूपी कैबिनेट की बैठक में इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज किए जाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई। लंबे समय से संत और स्थाानीय लोग इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज करने की मांग कर रहे थे। अगले साल तीर्थराज प्रयाग में कुंभ मेले का आयोजन होने वाला है जिसमें दुनियाभर से करोड़ों लोगों के आने की संभावना है। राज्य सरकार की इसकी तैयारी पर करोड़ों रुपये खर्च कर रही है।

 

 

 

इस वजह से रखा गया ‘प्रयाग’ नाम
हिंदू मान्यताओं के मुताबिक, ब्रह्मांड के निर्माता ब्रह्मा ने इसकी रचना से पहले यज्ञ करने के लिए धरती पर प्रयाग को चुना और इसे सभी तीर्थों में सबसे ऊपर, यानी तीर्थराज बताया। कुछ मान्यताओं के मुताबिक ब्रह्मा ने संसार की रचना के बाद पहला बलिदान यहीं दिया था, इस कारण इसका नाम प्रयाग पड़ा। संस्कृत में प्रयाग का एक मतलब ‘बलिदान की जगह’ भी है।

बादशाह अकबर ने रखा था ‘इल्लाहाबास’ नाम
मुगल बादशाह अकबर के राज इतिहासकार और अकबरनामा के रचयिता अबुल फजल बिन मुबारक ने लिखा है कि 1583 में अकबर ने प्रयाग में एक बड़ा शहर बसाया और संगम की अहमियत को समझते हुए इसे ‘अल्लाह का शहर’, इल्लाहाबास नाम दे दिया। उन्होंने यहां इलाहाबाद फोर्ट का निर्माण कराया, जिसे उनका सबसे बड़ा किला माना जाता है। जब भारत पर अंग्रेज राज करने लगे तो रोमन लिपी में इसे ‘अलाहाबाद’ लिखा जाने लगा। नाम बदलने जाने के दौरान यह शहर धार्मिक रूप से हमेशा ही बेहद संपन्न रहा है।

 

 

 

इससे पहले भी इन शहरों के बदल चुके हैं नाम
1. बड़ौदा – वडोदरा
2. त्रिवेन्द्रम – तिरुवनंतपुरम
3. बॉम्बे – मुंबई
4. मद्रास – चेन्नई
5. कोचीन – कोच्चि
6. कलकत्ता – कोलकाता
7. पौंडिचेरी – पुड्डुचेरी
8. कॉनपोर – कानपुर
9. बेलगाम – बेलगावि
10. इंधूर – इंदौर
11. पंजीम – पणजी
12. पूना – पुणे
13. सिमला – शिमला
14. बेनारस – वाराणसी
15. वाल्टेयर – विशाखापत्तनम
16. तंजौर – तंजावुर
17. जब्बलपोर – जबलपुर
18. कालीकट – कोझिकोडे
19. गौहाटी – गुवाहाटी
20. मैसूर – मैसूरू
21. अल्लेपे – अलप्पूझा
22. मैंगलोर – मंगलुरु
23. बैंगलोर – बंगलुरु
24. गुड़गांव – गुरूग्राम

 

कैबिनेट ने लगाई मुहर
इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज किए जाने के प्रस्ताव पर अंतिम मुहर मंगलवार को कैबिनेट बैठक में लगा दी गई। अब कुंभ से पहले ही इलाहाबाद का नाम पूरी तरह से प्रयागराज कर दिया जाएगा। उत्तभर प्रदेश सरकार में मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने इसकी जानकारी दी…Next

 

 

Read More :

भगवान विष्णु से बदला लेने के लिए इस राक्षस ने बदल दिया इस शहर का नाम, आज भी है मौजूद

नोबेल पुरस्कार की कैसे हुई शुरुआत, कितने भारतीयों को अभी तक मिल चुका है नोबेल

इंसान होने के नाते जानवरों के प्रति भी है आपकी जिम्मेदारी, भारत में जानवरों की सुरक्षा के लिए ये है कानून

Rate this Article:

  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग