blogid : 26149 postid : 1563

राजधानी दिल्ली से भी छोटे हैं दुनिया के ये 11 देश, यहां रहते हैं सबसे ज्यादा करोड़पति

Posted On: 26 Jun, 2019 Others में

Pratima Jaiswal

OthersJust another Jagranjunction Blogs Sites site

Others Blog

265 Posts

1 Comment

पूरी दुनिया घूमने का सपना तो ज्यादातर लोगों का होता है लेकिन पूरी दुनिया इतनी छोटी भी नहीं है कि महज कुछ दिनों में ही पूरा विश्व घूम लिया जाए, लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया में ऐसे देशों की भी कमी नहीं है, जो दिल्ली से भी छोटे हैं। खास बात ये है कि इन देशों में घूमने के लिए आपको सिर्फ एक दिन ही लगेगा। आइए जानते हैं इन देशों के बारे में-

 

ग्रेनेडा, कैरेबियन सागर

यह त्रिनिदाद और टोबैगो के उत्तर पश्चिम, वेनेजुएला के उत्तर-पूर्व और सेंट विंसेंट और द ग्रेनाडाइन्स के दक्षिण पश्चिम में बसा हुआ है। 344 वर्ग किमी में फैले इस देश की अनुमानित जनसंख्या 110,000 है। इसकी राजधानी सेंट जॉर्ज है।

 

3


आइल ऑफ मैन

डगल्स इस देश की राजधानी है। ये देश यूरोपीय संघ का सदस्य है। आपको जानकर हैरानी होगी कि यहां लगभग 84,000 लोग रहते हैं।


1


अंडोरा, पश्चिमी यूरोप

स्पेनिश कल्चर का अनोखा नजारा देखने के साथ आपको यहां लोग मौज-मस्ती करते दिखाई देंगे। यहां की जनसंख्या 76,000 है। ये जगह बार्सिलोना से सिर्फ 3 घंटे की दूरी पर है।


2




माल्टा, भूमध्य सागर

यह देश 316 स्क्वायर किलोमीटर में फैला हुआ है। इसकी जनसंख्या 4,50000 है। यहां पर मुख्य रूप से इंग्लिश और माल्टी भाषा बोली जाती है। यहां का कल्चर विश्व भर में मशहूर है।


4



सेंट किट्स और नेविस, वेस्टइंडीज

वेस्टइंडीज संघ, जिसे फेडेरेशन ऑफ द वेस्टइंडीज के रूप में भी जाना जाता है। इन दोनों आइलैंड को देखने के लिए विश्व भर से पर्यटक आते हैं। वेस्टइंडीज संघ में बसे हुए लगभग 24 मुख्य द्वीप और 220-230 के आस-पास छोटे अपतटीय द्वीप, टापू शामिल हैं।


5


लिकटेंस्टीन, मध्य यूरोप

लिकटेंस्टीन की रियासत, पश्चिम और दक्षिण में और ऑस्ट्रिया से पूर्व और उत्तर में स्विट्जरलैंड से लगती मध्य यूरोप में एक दोगुना घिरा अल्पाइन देश है। इसका क्षेत्रफल बस 160 वर्ग किलोमीटर है।


liechtenstein-sepac1



सैन मैरिनो, इटेंलियन प्रायद्वीप

61 स्क्वायर किलोमीटर में फैला हुआ है। आपको जानकर हैरानी होगी कि सैन मैरिनो दुनिया का सबसे छोटा देश है। यहां पर लोगों से ज्यादा वाहनों की संख्या है।



image way


मकाउ, चीन

मकाउ के प्रमुख उद्योगों में वस्त्र, इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरण और खिलौने और पर्यटन शामिल है। यह सब मिलकर इसे विश्व के सबसे धनी शहरों मे से एक बनाते ह। यहां व्यापक श्रेणी के होटल, रिसॉर्ट, स्टेडियम, रेस्तरां हैं। यहां ज्यादातर लोग मौज-मस्ती के इरादे से ही आते हैं।


macau


जिब्राल्टर, स्पेन

इसका नाम सातवीं सदी के बर्बर मुस्लिम सेनानी तारिक बिन जियाद के नाम पर रखा गया था। यहां की चट्टानों को अरबी में जबल अल तारिक कहा गया, जो स्पेनिश इलाकों में जिब्राल्टर के नाम से जाना गया। ये देश 6.8 स्क्वायर किलोमीटर में बसा हुआ है।


gibraltar-8_2638851b



मोनाको, पश्चिमी यूरोप

फ्रांस और इटली के बीच स्थित मोनाको दुनिया का दूसरा सबसे छोटा देश है। इसका मुख्य कस्बा है मॉन्टे कार्लो. यहां फ्रैन्च भाषा बोली जाती है। यहां दुनिया के किसी भी देश से ज्यादा करोड़पति है।


m



वेटिकन सिटी, इटली

यह इटली के शहर रोम में है। इसकी राजभाषा लातिनी है। यहां आकर्षक गिरजाघर, मकबरें तथा कलात्मक संग्रहालय तथा पुस्तकालय हैं। साथ ही पोप के सरकारी निवास का नाम भी वैटिकन है। पहाड़ पर स्थित ये देश ऐतिहासिक, सांस्कृतिक एवं धार्मिक कारणों से प्रसिद्ध है।


vatican-city

 

 

Read More :

Menstrual Hygiene Day : गंभीर बीमारियों से बचने के लिए पीरियड के दौरान रखें स्वच्छता से जुड़ी इन बातों का ख्याल

WhatsApp पर आपकी मर्जी बिना कोई नहीं कर सकता ग्रुप में एड, इस नम्बर पर मैसेज करके खुद करें फेक न्यूज चेक

जिन लोगों के लिए 16 सालों तक अनशन पर रही इरोम शर्मिला, वही उनकी प्रेम कहानी के ‘विलेन’ बन गए


पूरी दुनिया घूमने का सपना तो ज्यादातर लोगों का होता है लेकिन पूरी दुनिया इतनी छोटी भी नहीं है कि महज कुछ दिनों में ही विश्व के ज्यादातर देश घूम लिया जाए. लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया में ऐसे देशों की भी कमी नहीं है जो दिल्ली से भी छोटे हैं. खास बात ये है कि इन देशों में घूमने के लिए आपको सिर्फ एक दिन लगेगा. आइए, जानते हैं इन देशों के बारे में.

आइल ऑफ मैन

डगल्स इस देश की राजधानी है. ये देश यूरोपीय संघ का सदस्य है. आपको जानकर हैरानी होगी कि यहां लगभग 84,000 लोग रहते हैं.

अंडोरा, पश्चिमी यूरोप

स्पेनिश कल्चर का अनोखा नजारा देखने के साथ आपको यहां पर मौज-मस्ती करते दिखाई देंगे. यहां की जनसंख्या 76,000 है. ये जगह बार्सिलोना से सिर्फ 3 घंटे की दूरी पर है.

ग्रेनेडा, कैरेबियन सागर

ग्रेनेडा त्रिनिदाद और टोबैगो के उत्तरपश्चिम, वेनेजुएला के उत्तर-पूर्व और सेंट विंसेंट और द ग्रेनाडाइन्स के दक्षिण पश्चिम में बसा हुआ है. 344 वर्ग किमी में फैले इस देश की अनुमानित जनसंख्या 110,000 है. इसकी राजधानी सेंट जॉर्ज है.

माल्टा, भूमध्य सागर

ये देश 316 स्क्वायर किलोमीटर में फैला हुआ है. इसकी जनसंख्या 4,50000 है. यहां पर मुख्य रूप से इंग्लिश और माल्टी भाषा बोली जाती है. यहां का कल्चर विश्व भर में मशहूर है.

सेंट किट्स और नेविस, वेस्टइंडीज

वेस्टइंडीज संघ, जिसे फेडेरेशन ऑफ द वेस्टइंडीज के रूप में भी जाना जाता है.

इन दोनों आयलैंड को देखने के लिए विश्व भर से पर्यटक आते हैं. वेस्टइंडीज संघ में बसे हुए लगभग 24 मुख्य द्वीप और 220-230 क आस-पास छोटे अपतटीय द्वीप, टापू शामिल हैं.

लिकटेंस्टीन, मध्य यूरोप

लिकटेंस्टीन की रियासत, पश्चिम और दक्षिण में और ऑस्ट्रिया से पूर्व और उत्तर में स्विट्जरलैंड से लगती मध्य यूरोप में एक दोगुना घिरा अल्पाइन देश है. इसका क्षेत्रफल बस पर 160 वर्ग किलोमीटर है.

सैन मैरिनो, इटेंलियन प्रायद्वीप

61 स्क्वायर किलोमीटर में फैला हुआ है. आपको जानकर हैरानी होगी कि सैन मैरिनो दुनिया का सबसे छोटा देश है. यहां पर लोगों से ज्यादा वाहनों की संख्या है.

मकाउ, चीन

मकाउ के प्रमुख उद्योगों में वस्त्र, इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरण और खिलौने और पर्यटन शामिल है, यह सब मिलकर इसे विश्व के सबसे धनी शहरों मे से एक बनाते हैं। यहां व्यापक श्रेणी के होटल, रिसॉर्ट, स्टेडियम, रेस्तरां हैं. यहां ज्यादातर लोग मौज-मस्ती के इरादे से ही आते हैं.

जिब्राल्टर, स्पेन

इसका नाम सातवीं सदी के बर्बर मुस्लिम सेनानी तारिक बिन जियाद के नाम पर रखा गया था. यहां की चट्टानों को अरबी में जबल अल तारिक कहा गया जो स्पेनिश इलाकों में जिब्राल्टर के नाम से जाना गया. ये देश 6.8 स्क्वायर किलोमीटर में बसा हुआ है.

मोनाको, पश्चिमी यूरोप

फ्रांस और इटली के बीच स्थित मोनैको दुनिया का दूसरा सबसे छोटा देश है. इसका मुख्य कस्बा है मॉन्टे कार्लो. यहां फ्रैन्च भाषा बोली जाती है. यहां दुनिया के किसी भी देश से ज्यादा करोड़पति हैं.

वेटिकन सिटी, इटली

यह इटली के शहर रोम में है. इसकी राजभाषा लातिनी है.

यहां आकर्षक गिरजाघर, मकबरें तथा कलात्मक संग्रहालय तथा पुस्तकालय हैं. साथ ही पोप के सरकारी निवास का नाम भी वैटिकन है. वैटिकन पहाड़ी पर स्थित ये देश ऐतिहासिक, सांस्कृतिक एवं धार्मिक कारणों से प्रसिद्ध है.

Rate this Article:

  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग