blogid : 18093 postid : 1150047

"सोशल लाइफ बहुत आवश्यक है"

Posted On: 4 Apr, 2016 Others में

SUBODHAJust another Jagranjunction Blogs weblog

pkdubey

240 Posts

633 Comments

आजकल हम दिन -प्रतिदिन अकेले होते जा रहे और अपनी अंदर ही घुटते जा रहे हैं ,जो बहुत खतरनाक है ,अवशय ही हमें फेसबुक ,ट्विटर ,व्हाट्सएप्प के अतिरिक्त अपने आसपास समाज के अन्य वर्गों और संगठन के अथवा समाजसेवी संगठन के बीच में जाकर कुछ समय देना चाहिए,उसकी सेवा प्रणाली को समझना चाहिए और अपनी आर्थिक ,मानसिक ,शारीरिक क्षमता के अनुसार सेवा करनी चाहिए | इससे कई फायदे हैं -एक तो आप अपने अलावा भी कुछ और सोचेंगे और दूसरे किसी जरूरतमंद की सेवा करके जो आत्मसंतुष्टि होगी ,उससे आप का आत्मबल बढ़ेगा |
पर सेवा कार्य के लिए भी एक दिशा निर्देशन की आवश्यकता है ,आज के नवयुवको को ,कहाँ जाये ,क्या करे ,कैसे करें इत्यादि |
यदि आप अपने वर्किंग ग्रुप तक ही सीमित रहे ,तो वहां मात्र एक होड़ है,एक दूसरे से आगे निकलने की और दूसरे को गलत साबित कर के खुद महान बनने की,पर जब आप अपने फ्रेंड सर्किल से अलग समाज के घटक के बीच जाते हैं,तो आप समझते हैं -दूसरे किसी का दुःख दर्द और उसे सहायता देने की सोचते हैं ,जो अपने आप में बहुत महान कार्य है |
ऐसे बहुत से सेवा प्रकल्प आप के आसपास हो सकते हैं ,जिनसे आप जुड़ सकते हैं |
कुछ सेवा कार्य आप अकेले भी शुरू कर सकते हैं ,उदाहरणतः – दिल्ली के मेडिसिन बाबा (https://en.wikipedia.org/wiki/Omkar_Nath_Sharma_%22Medicine_Baba%२२) ,पर आप जो भी करें ,सोच -समझ कर करें ,क्यूंकि -विरोध करने वाले बहुत मिलेंगे ,अतः बेहतर हैं -आप किसी संस्था से जुड़े और कुछ समाजसेवा में समयदान दे |

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग