blogid : 321 postid : 842787

यहां टाटा, अड़ानी, अंबानी सब हैं लाइन में लगने को मजबूर

Posted On: 27 Jan, 2015 Politics में

Political Blogराजनीतिक नेताओं के व्यक्तित्व-कृतीत्व सहित उनकी उपलब्धियों को दर्शाता ब्लॉग

Politics Blog

757 Posts

457 Comments

राशन लेने के लिए लंबी कतार, गैस बुक करवाने के लिए कतार, सरकारी फॉम जमा करने के लिए कतार, हॉस्पिटल में चेकअप के लिए कतार, बैंक में इंट्री के लिए कतार और न जाने कितने और कतार है जिसे हर रोज एक आम आदमी को ‘अपनी किस्मत समझकर’ सामना करना पड़ता है.


jpg large


इस स्थिति में पाकर एक आम आदमी खुद को तो कोसता ही है साथ ही अपने परिवार को भी अपने भाग्य के लिए जिम्मेदार ठहराता है और कहता है भगवान “मैं किस घर पैदा हो गया”. वह सोचता है कि काश! “किसी नेता या बिजनेसमैन के घर पैदा होता जहां मुझे कतार में लगकर इतनी परेशानी या जिल्लत भरी जिंदगी जिना न पड़े”.


Read: ओबामा के इन दो खास कमांडो को मिल रही है वीआईपी ट्रीटमेंट, पर ये इंसान नहीं


लेकिन एक व्यक्ति है जो आजकल एक आम आदमी को इतराने का मौका दे रहा है. जो यह कहने की कोशिश कर रहा है कि मेरी इतनी हैसियत है कि बड़े से बड़े रसूखदार को कतार में खड़ा करके उन्हें आम आदमी होने का एहसास करा सकूं.



obama in india


अब ये व्यक्ति न तो कोई भगवान है और न ही भक्तों को संमोहित करने वाला कोई बाबा तथा जो लोग यह समझ रहे हैं कि ये जरूर ‘केजरी बाबा’ हैं तो वे भी गलत है.


दरअसल ये वो हैं जिनकी चर्चा पूरी दुनिया में होती है और जिन्हें हर दूसरा भारतीय किन्हीं वजहों से अपने वाद-विवाद में खींच ले आता है. नाम है इनका ‘बराक ओबामा’.


Read: भारत में इस कार में सवारी करेंगे ओबामा, क्या है इसकी खासियत


पिछले तीन दिनों से लगातार 24 घंटे भारतीय मीडिया पर कब्जा जमाए बराक ओबामा वह व्यक्ति हैं जिन्होंने हाल ही में देश के केंद्रीय मंत्रियों सहित बिजनेस टायकून को कतार में खड़ा करके आम आदमी की अनुभूति करा दी.


जिस सपने में खुद को आम आदमी टाटा, अंबानी और अड़ानी जैसे बड़े  बिजनेस टायकून बनता हुआ देखता था उसी सपने से बाहर निकलकर हकीकत में वह इन्ही टायकून को मात्र एक व्यक्ति या कहे एक पद (एक खाद देश का एक खास पद) से मिलने के लिए कतार में खड़े होते देखता है…..Next


Read more:

दुनिया की पहली जादूगरनी बता रही है अंबानी से भी ज्यादा अमीर बनने का नुस्खा

अमीर बनने की चाहत रखने वालो के लिए क्यों है दिसंबर का महीना खास

टाटा समूह के ‘रत्न’ हैं रतन टाटा


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग