blogid : 321 postid : 1390827

लड़की को आत्महत्या से बचाने से लेकर गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने तक, राजनीति से अलग भी हैं अखिलेश यादव के 4 किस्से

Posted On: 1 Jul, 2019 Politics में

Pratima Jaiswal

Political Blogराजनीतिक नेताओं के व्यक्तित्व-कृतीत्व सहित उनकी उपलब्धियों को दर्शाता ब्लॉग

Politics Blog

950 Posts

457 Comments

कभी राजनीति में एक युवा नेता के तौर पर उभरे और उत्तर प्रदेश के सीएम रह चुके अखिलेश यादव इन दिनों मीडिया की खबरों से लगभग गायब हैं। हालांकि, कई बार मीडिया में खबरें आती हैं कि अखिलेश पार्टी को मजबूत करने के लिए पुराने मतभेद भुलाकर पार्टी अनुभवी नेताओं से बात करने में लगे हुए हैं लेकिन फिलहाल कोई सकरात्मक नतीजा नहीं दिखता, वहीं लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद समाजवादी पार्टी (सपा) में फिलहाल एकता की तस्वीर धुंधली-सी दिखाई दे रही है। बहरहाल, राजनीति से अलग आज हम बात करेंगे अखिलेश से जुड़ी ऐसी खास बातों के बारे में, जिसके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं। आइए, जानते हैं खास बातें।

 

 

 

 इस वजह से टेढ़ी है अखिलेश की नाक

 

 

आपने सोशल मीडिया पर ऐसी कई फोटो देखी होगी, जिसमें अखिलेश क्रिकेट खेलते हुए नजर आते हैं। अखिलेश को क्रिकेट से बचपन से बेहद लगाव रहा है, इसके अलावा उन्हें फुटबॉल में भी बेहद दिलचस्पी है। अपने इस फुटबॉल प्रेम की सजा अखिलेश को बचपन में भुगतनी पड़ी थी। अखिलेश के स्कूल के दिनों की बात है। एक फुटबॉल मैच में वो राइट-आउट पोजीशन पर थे। एक शॉट उनकी नाक पर लगा। अस्पताल में पता चला कि नाक की हड्डी टूट गई है। वहीं से नाक टेढ़ी हो गई। पढ़ाई पूरी कर लखनऊ आने के बाद अखिलेश ने एक टीम बनाई थी। वो टीम 16 साल हो जाने के बाद भी वैसी ही है। अखिलेश अपनी टीम से मिलने अक्सर जाते रहते हैं।

 

जब लड़की को आत्महत्या से रोका

 

akhilesh 3

 

एक लड़की को प्रेम में हताशा हाथ लगी। लड़के के घरवालों को दहेज चाहिए था। इस निराशा में लड़की आत्महत्या करने जा रही थी। आत्महत्या करने से पहले लड़की ने आखिरी रास्ते की उम्मीद में अखिलेश को मेंशन करके ट्वीट किया। खुशकिस्मती से अखिलेश उस वक्त अपना ट्विटर अकांउट चेक कर रहे थे। अखिलेश ने ट्वीट का जवाब देते हुए कुछ अधिकारियों को लड़की के पास भेजा। लड़की को समझा-बूझाकर उसकी जान बचा ली गई।

 

एक पैर में लाठी बांधकर हल जोतने वाले किसान को दी मदद

 

akhilesh 6

 

2015 में बुंदेलखंड के एक किसान की पैर में लाठी बांधकर हल जोतने की घटना कई अखबारों की सुर्खियां बनी थी। इस किसान का एक पैर नहीं था, जो पैर की जगह पर लाठी बांधकर किसानी करता था। जब इस घटना की खबर अखिलेश को लगी तो उन्होंने किसान को कृत्रिम पैर लगवाया और आर्थिक सहायता दी।

 

वृक्षारोपण के लिए गिनीज बुक में दर्ज हो चुके हैं

 

 

2015 और 2016 में अखिलेश ने वृक्षारोपण का गिनीज बुक में आने वाला रिकॉर्ड बनाया। एक बार बहुत सारे लोग उनके दफ्तर में आ पहुंचे। उनका कहना था कि सीएम आवास में गौरैया के घरौंदे बनाया जाए। एक पक्षी विशेषज्ञ अखिलेश से किसी काम से मिलने आए थे, तब अखिलेश ने कहा कि ‘अगर आप गौरैया मेरे घर बुला देंगे तो मैं आपका काम कर दूंगा। ज्यादातर पक्षी विशेषज्ञों का पक्षियों को अपने पास बुलाना आता है। इस विशेषज्ञ का भी ऐसा ही दावा था कि वो मुंह से आवाज निकालकर गौरेया को बुला सकते  तब उन्होंने ऐसा ही किया, अखिलेश ने प्रभावित होकर सीएम आवास में गौरेया के लिए घरौंदा बनाया…Next

 

Read More :

इतने पढ़े-लिखे हैं अखिलेश, पत्नी डिंपल भी नहीं है कम

इतने करोड़ के मालिक हैं सीएम अखिलेश, जानें कितनी दौलत है पिता और चाचा के पास

अखिलेश और ससुर मुलायम से भी कहीं ज्यादा अमीर हैं डिंपल, इतने करोड़ की हैं मालकिन

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग