blogid : 321 postid : 1350798

जब इन 5 नेताओं का भाषण सुनकर जनता हो गई लोट-पोट, राजनीति का हास्य रंग

Posted On: 4 Sep, 2017 Politics में

Political Blogराजनीतिक नेताओं के व्यक्तित्व-कृतीत्व सहित उनकी उपलब्धियों को दर्शाता ब्लॉग

Politics Blog

771 Posts

457 Comments

दुनिया में सबसे ज्यादा जोक्स नेताओं पर बनाए जाते हैं और जब बात हो भारतीय नेताओं की तो बात ही क्या! कभी-कभी तो नेता खुद जोक बन जाते हैं. उनके मजाकिया अंदाज में दिए गए भाषण सोशल मीडिया पर इतने वायरल हो जाते हैं कि ट्रेंड करने लगते हैं. हर पार्टी में ऐसा नेता जरूर होता है जिसकी छवि आम जनता के बीच कॉमेडियन जैसी ही होती है. आलम ये होता है कि अगर वो मंच पर कोई गंभीर बात भी कहने आता है तो लोगों को लगता है कि अब वो अपने भाषण में कोई ना कोई हास्य रंग पेश करेगा. भारतीय राजनीति में कुछ नेताओं को उनके मजाकिया भाषणों के लिए हमेशा याद किया जाता है. हां, इनमें से कुछ नेता ऐसे भी हैं, जो जनता के सामने पेश करने आए थे गंभीर भाषण, लेकिन उनका भाषण एक जोक बन गया. आइए, इस चुनावी मौसम में डालते हैं एक नजर, हास्य रंग समेटे नेताओं के ऐसे ही कुछ भाषणों पर.


funny speech


लालू यादव

अपनी सबसे अलग छवि के लिए जाने जाते हैं लालू यादव. जिनकी सादगी की चर्चा भी खूब होती है. कभी वो मकर संक्राति पर कैमरे के सामने दही-चूड़ा खाते दिख जाते हैं तो कभी अपनी ही बातों पर जोक बनाने लगते हैं. लोकसभा में उन्होंने ऐसा भाषण दिया था जिसे सुनकर उनके विरोधी भी मुस्कुराने लगे थे. आप खुद देख लीजिए.


सौजन्य : लोकसभा टीवी



राहुल गांधी

कभी वो अपनी फटी पॉकेट को दिखाकर जनता को अपनी सादगी दिखाते हैं, तो कभी किसानों से संवाद स्थापित करके आम नेता बनते हैं. वो जब भी भाषण देते हैं उनसे कोई ना कोई चूक हो ही जाती है और अपने आप एक जोक बन जाता है. सूट-बूट की सरकार का जुमला भी देश को उन्होंने ही दिया है. अब जरा, फेयर एंड लवली पर राहुल के मजाकिया भाषण को भी सुन लीजिए. शुरुआत में राहुल सर को मैडम समझने की भूल कर बैठते हैं.

सौजन्य : अजब-गजब


अरविंद केजरीवाल

कभी भी कोई घोटाला हो या दिल्ली में कोई परेशानी, सबका हल हो ना हो, लेकिन सबकी वजह एक ही है और वो है मोदी सरकार. ऐसा हम नहीं कहते बल्कि केजरीवाल के भाषणों से तो यही लगता है. एक वक्त ऐसा था जब मोदी सरकार और केजरीवाल सरकार की लड़ाई सबके सामने खुलकर आ गई थी. दोनों एक-दूसरे के विरूद्ध जमकर व्यंग्य बाण छोड़ते थे. देखिए, व्यापारियों के एक आयोजन में केजरीवाल का हास्य रंग से सराबोर ये वीडियो.

सौजन्य : आईडी मीडिया


नरेंद्र मोदी

अपने विरोधियों पर तीखे व्यंग्य बाण छोड़ने के लिए माने जाने वाले मोदी, प्रधानमंत्री बनने से पहले भी अपने भाषणों की वजह से चर्चा में रहते थे. शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पर दिया गया उनका भाषण कुछ लोगों के लिए मजाकिया तो कुछ लोगों के लिए आलोचना का विषय था. वहीं केजरीवाल सरकार पर भी मोदी अपने मजाकिया अंदाज में हमला करते हुए कई बार दिखाई दिए. इस वीडियो में मोदी राहुल गांधी के भाषण का जवाब मजाकिया लहजे में देते हुए दिख रहे हैं. हालांकि, प्रधानमंत्री मोदी के इस रवैये की सोशल मीडिया पर खूब आलोचना भी की गई.

सौजन्य : एचटी मीडिया


मुलायम सिंह

‘लड़कों से गलती हो ही जाती है इसका मतलब ये नहीं कि उन्हें फांसी दे दी जाए’. जब भी मुलायम का नाम लिया जाता है उनके इस बेतुके बयान का जिक्र भी जरूर किया जाता है. मुलायम अपने भाषण में कब क्या कहने लग जाएं, ये बात कोई नहीं जानता. आप खुद देख लीजिए इस भाषण को समझना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है.


सौजन्य : साउथ एशियन टीवी


चुनाव के इस मौसम में जहां हर पार्टी जीत के लिए अपने-अपने हथकंडों में लगी हुई है, वहीं उनके राजनीतिक कॅरियर के ऐसे मजाकिया किस्से देखकर पलभर के लिए ही सही आपके चेहरे पर मुस्कान आ जाएगी…Next


Read More :

एक ऐसा मंदिर जिसमें नहीं कर सकते भ्रष्ट नेता-अधिकारी-न्यायाधीश प्रवेश

समाजवादी पार्टी की महाभारत में चल रही है रामायण, ये है ‘मंथरा’ इस वजह से ले रही है बदला

पीएम मोदी से ज्यादा उनके सेक्रेटरी की है सैलरी, जानें सभी की सैलरी

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग