blogid : 321 postid : 1359621

अब ट्रेनों में आएगी लेमन की खुशबू, दुर्गंध पर रेल मंत्री ने जताई थी आपत्ति

Posted On: 10 Oct, 2017 Politics में

Political Blogराजनीतिक नेताओं के व्यक्तित्व-कृतीत्व सहित उनकी उपलब्धियों को दर्शाता ब्लॉग

Politics Blog

993 Posts

457 Comments

रेलवे में सुरक्षा और सफाई हमेशा से ही प्रमुख मुद्दा रहा है। सरकार किसी की भी रही हो, लेकिन रेल हादसों और गंदगी को लेकर हमेशा आलोचना होती रही है। हालांकि, सरकारें इसकी बेहतरी के लिए प्रयासरत भी रहती हैं। पूर्व रेलमंत्री सुरेश प्रभु के समय में कुछ ट्रेनों में अच्‍छी खुशबू के साथ बेहतर सफाई नजर आने लगी थी। सुरेश प्रभु को ट्विटर के माध्‍यम से यात्रियों की समस्‍या का जल्‍द समाधान कराने के लिए भी जाना जाता है। इसी कड़ी में अब नए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रेलवे कार्यालयों और ट्रेन के कोच में दुर्गंध दूर करने को लेकर निर्देश दिया। इसके लिए रेलवे ने बाकायदा सर्कुलर भी जारी किया है। इसका पालन हुआ, तो अब आपको ट्रेनों और रेलवे के कार्यालयों में पाइन व लेमन ग्रास की खुशबू मिलेगी। आइये बताते हैं क्‍या है पूरा मामला।


traincoach


अजीब गंध पर पीयूष गोयल ने जताई थी आपत्ति


piyush goyal


दरअसल, रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रेलवे के कार्यालयों और ट्रेनों से आने वाली अजीब गंध पर आपत्ति जताई थी। उनकी इस आपत्ति के बाद रेलवे बोर्ड ने इन जगहों पर गंध और कीटाणुनाशक का इस्तेमाल किए जाने का फैसला किया है। इस संबंध में 5 अक्टूबर को रेलवे की ओर से एक सर्कुलर जारी किया गया। इसमें रेलवे बोर्ड ने कहा है कि रेल मंत्री ने रेलवे कार्यालयों और ट्रेनों में अच्छी गंध वाले कीटनाशकों के इस्तेमाल पर जोर दिया है। सर्कुलर में कहा गया है कि रेल मंत्री ने 11 सितंबर और 3 अक्टूबर 2017 को हुई बैठकों में इस बात पर जोर दिया कि रेलवे कार्यालयों और ट्रेनों में फिलहाल फिनोलिक जैसे जिस कीटनाशक द्रव्य का इस्तेमाल किया जाता है, उससे अजीब बदबू आती है। इस वजह से उसके स्थान पर अच्छे गंध वाले कीटनाशकों का इस्तेमाल किया जाए।


सर्कुलर में दिया सुझाव


lemongrass


जारी सर्कुलर में सुझाव दिया गया है कि पाइन, लेमन ग्रास या किसी अन्य अच्छे गंध वाले कीटनाशक जैसे विकल्पों पर विचार किया जाना चाहिए। इस तरह की खुशबू वाले कीटनाशकों का रेलवे के कुछ विभागों में इस्तेमाल भी किया जा रहा है। बोर्ड ने कहा है कि उसने तय किया है कि रेलवे परिसरों या ट्रेनों में जहां भी कीटनाशक की जरूरत है, वहां वैकल्पिक प्रकार के कीटनाशक खरीदे जाएं। ऐसे में अब रेलवे कार्यालय, स्टेशन, अस्पताल, कोचिंग डिपो और ट्रेनों में जल्द ही पाइन या लेमन ग्रास जैसी खुशबू आ सकती है।


Read More:

पीएम मोदी से शादी करने के लिए जंतर-मंतर पर महिला दे रही धरना!
फोटो खींचने पर रक्षामंत्री ने ली चीनी सैनिकों की क्‍लास, हो रही तारीफ
बॉलीवुड के इन सितारों को रास नहीं आई राजनीति, वापस लौटे मायानगरी 


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग