blogid : 321 postid : 1389499

कोई 7 तो कोई 2 दिन के लिए भी बना है राज्यों का मुख्यमंत्री

Posted On: 21 May, 2018 Politics में

Shilpi Singh

Political Blogराजनीतिक नेताओं के व्यक्तित्व-कृतीत्व सहित उनकी उपलब्धियों को दर्शाता ब्लॉग

Politics Blog

972 Posts

457 Comments

कर्नाटक के मुख्यमंत्री के तौर पर बी एस येदुरप्पा का तीन दिन का कार्यकाल भारतीय इतिहास में छोटे कार्यकाल वाले कुछ अन्य मुख्यमंत्रियों के कार्यकाल में शामिल हो गया है। भाजपा के इस 75 वर्षीय नेता को 17 मई को कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलायी गयी थी। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर होने वाले श्कति परीक्षण से पहेल ही अपना इस्तीफा दे दिया। वैसे इससे पहले भी येदुरप्पा के साथ ऐसा हो चुका है, साल 2007 में येदुरप्पा को बस आठ दिन बाद ही कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था। हालांकि वो ही केवल इस लिस्ट में शामिल नहीं है बल्कि और भी कई राजनेता हैं जो इस लिस्ट में अपना नाम दर्ज करवाते हैं औऱ उन्हें महज कुछ दिनों के लिए ही सत्ता का सुखा औऱ सीएम पद का सुख मिल पाया था।

 

 

1. जगदंबिका पाल

जगदंबिका पाल का 1998 में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर सबसे छोटा कार्यकाल रहा। कल्याण सिंह सरकार की बर्खास्तगी के बाद पाल को 21 फरवरी की देर रात को मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ दिलायी गयी थी। अगली ही सुबह उच्च न्यायलय ने इस फैसले को पलट दिया और उन्हें ‘वन डे वंडर ऑफ इंडियन पॉलिटिक्स’ कहा जाता है।

 

 

2. सतीश प्रसाद सिंह

महज कुछ दिनों के लिए मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठने वाले अन्य नेताओं में बिहार में सतीश प्रसाद सिंह हैं। उन्हें 1968 में 28 जनवरी से एक फरवरी तक महज पांच दिनों के लिए अंतरिम मुख्यमंत्री बनाया गया था। वह जनता क्रांति दल सरकार को हराकर कांग्रेस को वापस सत्ता में लाए थे। सिंह के बाद आये बी पी मंडल भी महज 31 दिन ही मुख्यमंत्री की कुर्सी पर रह पाये।

 

 

3. शिबू सोरेन

2005 को झारखंड में राज्यपाल ने झामुमो प्रमुख शिबू सोरेन को अल्पमत में होते हुए भी सरकार बनाने के लिए निमंत्रित कर दिया और उन्हें मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई। बहुमत के लिए पर्याप्‍त संख्‍या नहीं जुगाड़ कर पाने पर शक्‍त‍ि परीक्षण से पहले ही दस दिन बाद 12 मार्च, 2005 को केन्द्र सरकार के हस्तक्षेप पर शिबू सोरेन ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था।

 

 

4. जानकी रामचंद्रन

24 दिसंबर 1987 को जब तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमजी रामचंद्रन का निधन हुआ तो यह तय नहीं था कि उनका उत्तराधिकारी कौन होगा। पार्टी विधायकों के एक गुट ने उनकी पत्नी के पक्ष में राज्यपाल को समर्थन पत्र भेज दिया। दूसरा पक्ष जयललिता के पक्ष में खड़ा था. राज्‍यपाल एसएल खुराना ने 7 जनवरी को जानकी रामचंद्रन को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिला दी लेकिन वे सदन में बहुमत साबित नहीं कर पायीं और 28 जनवरी को उन्हें पद से हटना पड़ा। वह सिर्फ 24 दिन के लिए सीएम बन पाईं।

 

 

5. नीतीश कुमार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जब पहली बार इस पद पर काबिज हुए थे तो सिर्फ 7 दिन तक ही सीएम की कुर्सी पर बैठ पाए। साल 2000 में वह 7 दिनों के लिए मुख्यमंत्री बने थे।

 

 

6. हरीश रावत

कांग्रेस नेता हरीश रावत उत्तराखंड में साल 2016 में महज एक दिन तक ही सीएम पद पर रह पाए। उन्हें सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर हटाया गया था। हालांकि उसके बाद वो कई सालों तक वहां के सीएम बने रहे थे।…Next

 

 

Read More:

मायावती ने उपचुनावों में सपा से दूरी बनाकर चला बड़ा सियासी दांव!

कर्नाटक में बज गया चुनावी बिगुल, ऐसा है यहां का सियासी गणित

राज्यसभा के बाद यूपी में एक बार फिर होगी विधायकों की ‘परीक्षा’

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग