blogid : 321 postid : 1390363

गुलाबी ड्रेस में चुनावी मैदान में उतरी ‘प्रियंका सेना’, टीशर्ट पर लिखा है ये स्पेशल मैसेज

Posted On: 11 Feb, 2019 Politics में

Pratima Jaiswal

Political Blogराजनीतिक नेताओं के व्यक्तित्व-कृतीत्व सहित उनकी उपलब्धियों को दर्शाता ब्लॉग

Politics Blog

942 Posts

457 Comments

चुनावी दंगल शुरू होते ही सभी राजनीतिक दल वोटर्स को लुभाने के लिए लग जाते हैं। अपनी तरफ से हर दल की कोशिश रहती है कि जनता उनकी विचारधारा से प्रभावित हो। 2019 लोकसभा चुनाव में भी हर बार की तरह कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिल रहा है। बात करें, कांग्रेस की तो इस बार पार्टी में नई जान फूंकने के लिए प्रियंका गांधी को मैदान में उतारा गया है। कांग्रेस का महासचिव बनने के बाद प्रियंका गांधी वाड्रा पहली बार लखनऊ आ रही हैं। उनके लखनऊ आगमन के लिए एक मेगा रोड शो का आयोजन किया गया है। इसमें वह अपने भाई और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ एयरपोर्ट से कांग्रेस कार्यालय तक लगभग 17 किलोमीटर तक रोड शो करेंगी।
ऐसे में पोस्टर और हॉर्डिंग के अलावा गुलाबी कपड़े पहने ‘प्रियंका सेना’ चर्चाओं में दिखाई दे रही हैं।

 

 

‘प्रियंका सेना’ में शामिल हैं 500 कार्यकर्ता
इस पिंक ड्रेस पर प्रियंका गांधी की तस्वीर और एक मैसेज भी छपा हुआ है। वह खुद को ‘प्रियंका सेना’ कहकर पुकारते हैं। प्रियंका सेना में करीब 500 कांग्रेस कार्यकर्ता शामिल हैं। उनका कहना है कि यह समूह नया नहीं है, लेकिन उन्होंने ड्रेस पहली बार पहनी है, ताकि कांग्रेस की महासचिव को यह लगे कि उनके साथ काम करने वाले ‘अनुशासित’ हैं।

 

 

ड्रेस पर छपा है खास मैसेज
एक कार्यकर्ता के अनुसार, ‘हमारा संदेश है कि प्रियंका गांधी भारत की महिलाओं प्रतिनिधित्व करती हैं और महिलाओं के खिलाफ अपराध बंद होना चाहिए।’ प्रियंका सेना के कार्यकर्ताओं ने जो टीशर्ट पहनी है, उस पर लिखा है, ‘देश के सम्मान में प्रियंका जी मैदान में, मान भी देंगे, सम्मान भी देंगे, वक्त पड़ेगा तो जान भी देंगे।’ बता दें, करीब दो सप्ताह पहले प्रियंका गांधी की सक्रिय राजनीति में एंट्री के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ा हुआ दिख रहा है। प्रियंका को पूर्वी उत्तर प्रदेश में पार्टी की कमान सौंपी गई हैं, इस क्षेत्र में करीब 40 लोकसभा सीटें पड़ती हैं।

 

खास बात ये है कि प्रियंका गांधी वाड्रा की मदद के लिए कांग्रेस की ओर से एक 35 लोगों की टीम बनाई गई है जिसकी रणनीति है कि उन सीटों पर ज्यादा मेहनत की जाए जिन पर 20 फीसदी तक दलित समुदाय का प्रभाव है। ऐसी कुल सीटें उत्तर प्रदेश में 40 हैं जिनमें 17 आरक्षित हैं…Next

 

Read More :

जेल में कैदियों को भगवत गीता पढ़कर सुनाते थे जॉर्ज फर्नांडीस, मजदूर यूनियन और टैक्सी ड्राइवर्स के थे पोस्टर बॉय

यूपी कांग्रेस ऑफिस के लिए प्रियंका को मिल सकता है इंदिरा गांधी का कमरा, फिलहाल राज बब्बर कर रहे हैं इस्तेमाल

वो गेस्ट हाउस कांड जिसने मायावती और मुलायम को बना दिया था जानी दुश्मन, जानें क्या थी पूरी घटना

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग