blogid : 321 postid : 1390702

11 लाख कार्यकर्ताओं को बीजेपी ने दी स्पेशल ट्रेनिंग, सोशल मीडिया समेत इन चीजों को ऐसे करेंगे मैनेज

Posted On: 26 Apr, 2019 Politics में

Pratima Jaiswal

Political Blogराजनीतिक नेताओं के व्यक्तित्व-कृतीत्व सहित उनकी उपलब्धियों को दर्शाता ब्लॉग

Politics Blog

962 Posts

457 Comments

बीजेपी ने लोकसभा चुनाव 2019 से काफी पहले ही वोटर का दिल जीतने की रणनीति तैयार कर दी थी। बीजेपी की रणनीति में इस बार सभी वर्गों और मुद्दों पर चर्चा करते हुए उन्हें शामिल किया गया था। वहीं, मोदी को फिर से पीएम बनाने के लिए न केवल जनता और नेताओं के संवाद की प्रक्रिया सरल बनाई गई थी बल्कि इसके लिए बीजेपी ने एक ऐसी रणनीति बनाई थी, जो इससे पहले कभी सुनने को नहीं मिली। सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव में मोदी की सत्ता वापसी के लिए जी जान से जुटी हुई है। पार्टी मोदी को फिर से प्रधानमंत्री मंत्री बनाने के लिए चुनाव प्रचार में मीडिया मैनेजमेंट से लेकर सोशल मीडिया का बेहतर व प्रभावी रूप उपयोग करना चाहती है। इस क्रम में पार्टी ने अपने 11 लाख कार्यकर्ताओं को स्पेशल ट्रेनिंग दी है।

 

 

स्पेशल ट्रेनिंग की खास बातें
स्पेशल ट्रेनिंग पाए कार्यकर्ता लोगों को मोदी सरकार की नीतियों और कार्यक्रमों के बारे में वोटरों से संपर्क कर उन्हें इसकी जानकारी देंगे। पार्टी के महासचिव पी। मुरलीधर राव ने एक इंटरव्यू में कहा कि पार्टी अर्थव्यवस्था लेकर लोगों के विकास से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर फोकस कर रही है। इसमें राष्ट्र गौरव लेकर पहचान की राजनीति भी शामिल है। राव ने कहा कि किसी अन्य पार्टी के पास इस तरह की क्षमता नहीं है। राव को पास कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग की जिम्मेदारी भी थी। राव का कहना है कि उनका कैडर वैचारिक रूप से प्रेरित और संचालित है। ये हमारी मुख्य ताकत हैं।

 

 

योजनाओं के बारे में बताकर जीतेगी दिल
नई नौकरियों के अवसर पैदा नहीं करने और कृषि क्षेत्र में समस्याओं को दूर नहीं करने के लिए मोदी सरकार की आलोचना की जाती रही है। ऐसे में सरकार सुरक्षा के मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी के मजबूत और निर्णायक कार्रवाई के ईर्द-गिर्द माहौल बनाने का प्रयास कर रही है। यही कारण है कि मोदी सरकार पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान के बालाकोट में किए गए हवाई हमलों का जिक्र कर रही है। इसे अलावा शौचालय, बिजली के कनेक्शन और गरीबों को उज्ज्वला योजना के तहत रसोई गैस के कनेक्शन के मुद्दे की बात के जरिये भी वोटरों को लुभाने का प्रयास किया जा रहा है।

 

 

समाज के वंचित वर्गों तक पहुंचेगी मदद
राव ने कहा कि कार्यकर्ताओं को पार्टी की विचारधारा के बारे में ट्रेनिंग दी गई है। उन्हें यह भी सिखाया गया है कि किस तरह से समाज के वंचित वर्ग तक पहुंच बनानी है, मीडिया को मैनेज करना है और सोशल मीडिया की रणनीतियों को कैसे तैयार करना है। राव ने बताया कि कार्यकर्ताओं का यह पूल साल 2014 के मुकाबले पांच गुना अधिक है। राव के अनुसार, पार्टी के सदस्यों की संख्या 11 करोड़ को पार कर गई है। इतने सदस्यों की संख्या के साथ भाजपा दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी बन गई है।…Next

 

Read More :

वर्ल्ड मलेरिया डे : इन घरेलू उपायों से भी मरते हैं मच्छर, इन सावधानियों से हो सकता है बचाव

दिल्ली से जुड़ा है देश की कुर्सी का 21 सालों का दिलचस्प संयोग, जानें अब तक कैसे रहे हैं आंकड़े

भारतीय चुनावों के इतिहास में 300 बार चुनाव लड़ने वाला वो उम्मीदवार, जिसे नहीं मिली कभी जीत

 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग