blogid : 321 postid : 1390077

करोड़ों रुपए, BMW कार, ढाई किलो गोल्ड की मालकिन है ये युवा नेता, दौलत के मामले में बड़े-बड़े नेता नहीं दे पाते टक्कर!

Posted On: 5 Dec, 2018 Politics में

Pratima Jaiswal

Political Blogराजनीतिक नेताओं के व्यक्तित्व-कृतीत्व सहित उनकी उपलब्धियों को दर्शाता ब्लॉग

Politics Blog

847 Posts

457 Comments

चुनाव आते नेता एक्टिव होने लगते हैं, ऐसे में नेताओं से जुड़ी हुई तरह-तरह की जानकारी भी लोगों को मिलने लगती है। मीडिया में उनकी लव लाइफ और संपत्ति की खबरें आने लगती है। साथ ही जनता को अपने नेता से जुड़े दिलचस्प किस्से सुनने का चाव भी रहता है।
राजस्थान की एक ऐसी ही नेता इन दिनों चर्चा का विषय बन रही है। अपनी संपत्ति को लेकर ये नेता सभी बड़ी पार्टियों के कद्दावर नेताओं से आगे निकलती दिखाई दे रही हैं।

 

 

कामिनी जिंदल जिनके नाम है इतने करोड़ की संपत्ति
राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 में श्रीगंगानगर विधानसभा सीट पर जमींदारा पार्टी की उम्मीदवार कामिनी जिंदल राजस्थान में सबसे युवा और धनी उम्मीदवार हैं। पिछले पांच सालों में कामिनी की संपत्ति में 90 करोड़ का इजाफा हुआ है और वो इसबार भी राजस्थान में सबसे धनी उम्मीदवार हैं। निर्वाचन विभाग में जमा कराए गए दस्तावेजों के अनुसार उनके पास 287 करोड़ रुपये की चल-अचल संपत्ति है। कामिनी के पास बीएमडब्लू कार के साथ एक एसयूवी फॉरच्यूनर भी है।

 

 

कामिनी के पास करीब ढाई किलो सोना और 23.47 किलो चांदी के जेवरात हैं। कामिनी पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़ से एमफिल की डिग्री ले चुकी हैं। कामिनी की बैंक खातों में 22,44,29,745.84 रुपए जमा हैं। कामिनी जिंदल के शपथ पत्र के अनुसार चुनाव नामांकन भरने के दिन उनके पास 3,10,000 रुपए और पति के पास 35,000 रुपए की नकदी थी। कामिनी के नाम कंपनियों और शेयरों के ब्यौरे और रकम का टोटल 237 करोड़ 59 लाख रुपए बताया गया है।

 

 

सबसे युवा विधायक बनने वाली नेता
पंजाब यूनिवर्सिटी से एमफिल की डिग्री लेने वाली इस नेता के पास बीमएमडब्लू कार, लाखों की घड़ियां, करोड़ों की संपत्ति के साथ राजस्थान की सबसे यंग विधायक होने का रिकॉर्ड भी दर्ज है। 2013 में हुए राजस्थान विधानसभा चुनाव में विधानसभा पहुंचने वाली सबसे यंग विधायक बनने के साथ ही सबसे धनी एमएलए का रिकॉर्ड भी कामिनी के नाम है। अब तक या तो राजसी घरानों के लोगों के पास ज्यादा संपत्ति रही है या फिर शराब व्यावसायी इतने बड़े धनकुबेर रहे हैं…Next

 

 

Read More :

वो 3 गोलियां जिसने पूरे देश को रूला दिया, बापू की मौत के बाद ऐसा था देश का हाल

राजनीति में आने से पहले पायलट की नौकरी करते थे राजीव गांधी, एक फैसले की वजह से हो गई उनकी हत्या

स्पीकर पद नहीं छोड़ने पर जब सोमनाथ चटर्जी को अपनी ही पार्टी ने कर किया था बाहर

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग