blogid : 14057 postid : 1191280

मोदी सरकार के मंत्रियों की शिक्षागत योग्यता /

Posted On: 16 Jun, 2016 Others में

मेरी आवाज़ सुनोभारत माता के चरणों में समर्पित मेरी रचनाएँ

Rajesh Kumar Srivastav

104 Posts

421 Comments

प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी के कम शिक्षित होने पर हो हल्ला मचाने वाले यदि आंकड़े देखे तो दंग रह जायेंगे / २००९ साल में मनमोहन सिंह के नेतृत्व में बनी UPA सरकार की तुलना में २०१४ में मोदी जी के नेतृत्व में बनी NDA सरकार में स्नातकों की संख्या अधिक है / मनमोहन सिंह सरकार में जहाँ ४५ % स्नातक मंत्री थे वही मोदी सरकार में ५० % स्नातक मंत्री है / मनमोहन सिंह के मंत्रिमंडल में डॉक्टरेटों की संख्या ६ % थी वही नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में डॉक्टरेटों की संख्या १२ % है / हाँ , अवस्य हाई स्कुल और पोस्ट ग्रेजुएट पास मत्रियों में मोदी सरकार कमजोर है / जहाँ मोदी सरकार में दशवी या बारहवीं तक पढ़ने वाले मंत्रियों की संख्या १२ % है वही मनमोहन सरकार में यह संख्या केवल ९% ही था / यही हाल पोस्ट ग्रेजुएट मंत्रियों के मामले में भी है / मनमोहन सिंह सरकार में पोस्ट ग्रेजुएट मंत्रियों की संख्या ४० प्रतिशत थी जबकि मोदी सरकार के सिर्फ २० % मंत्री ही पोस्ट ग्रेजुएट है / मोदी मंत्रिमंडल के रेलमंत्री श्री सुरेश प्रभु और ऊर्जा मंत्री पियूष गोयल चार्टेड अकाउंटेंट है / सुरेश प्रभु की CA में आल इंडिया रैंक ११ था वही पियूष गोयल जी का दूसरा रैंक था / वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज जी सुप्रीम कोर्ट की जानी-मानी अधिवक्ता है / डाक्टर हर्षवर्धन सर्जरी में पोस्ट ग्रेजुएट है तो नजमा हेपतुल्ला भी कार्डियक एनाटॉमी में पीएचडी. है / गृह मंत्री एमएससी. है और फिजिक्स के प्रॉफेसर रह चुके है / इसलिए कुछ बामपंथी बिचरधारकों की यह धारणा की मोदी मंत्रिमंडल गैर इंटेलेक्चुअल है गलत प्रमाणित होती है /

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग