blogid : 2222 postid : 655

हे मेघा जब मथुरा जाना

Posted On: 28 Jun, 2011 Others में

MERI NAJARJust another weblog

rameshbajpai

78 Posts

1604 Comments

हे मेघा जब मथुरा जाना

बरषि टपकि मोरे अँसुवन अस उनको है बतलाना |

वह बोलनि वह मिलनि कहू कस मनवा मोर लजात |

जल बिनु मीन नीर बिनु जस तुम वही हमारी बात |

दिनकर बिनु जस कुमुद कली ककस खिलेगी रात |

मोहन बिनु धिक् हमरो जीवन ह्रदय बरो  है जात |

हे जलधर ये प्यासे लोचन बुनत मिलन का ताना |

कह “रमेश” उर भेद रहा है यह विरह       का बाना |

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग