blogid : 19157 postid : 794783

कुरूप दिखने वाली मंथरा किसी समय बुद्धिमान और अतिसुंदर राजकुमारी थी

Posted On: 4 Jan, 2016 Spiritual में

religious blogJust another Jagranjunction Blogs weblog

religious

759 Posts

132 Comments

मंथरा का नाम सामने आते ही ज़ेहन में एक कुबड़ी औरत की तस्वीर याद आती है जो झुककर चलती थी. वो जन्म से कुबड़ी नहीं थी. कहा जाता है कि वो पहले सामान्य तरीके से चल-फिर सकती थी. एक दिन उसने कुछ ऐसा पी लिया जिससे वो ज़िंदगी भर के लिए कुबड़ी रह गई. वो कौन-सा पेय पदार्थ था जिसे पीकर मंथरा की रीढ़ की हड्डी हमेशा के लिए झुक गई?


manthra animated


कैकेयी के राजा अश्वपति का एक भाई था जिसका नाम वृहदश्व था. उसकी विशाल नैनों वाली एक बेटी थी जिसका नाम रेखा था. वह बचपन से ही कैकेयी की अच्छी सहेली थी. वह राजकन्या थी और बुद्धिमति थी. परंतु बाल्यावस्था में उसे एक बीमारी हुई. इस बीमारी में उसका पूरा शरीर पसीने से तर(भींग) हो जाता था. शरीर भींगने के साथ ही उसे बड़ी जोर की प्यास लगती थी.


Read: क्यों सीता को अपने पति की बदनामी का भय सता रहा था, जानिए पुराणों में लिखी एक रहस्यमय घटना?


एक दिन प्यास से अत्यंत व्याकुल हो उसने इलायची, मिश्री और चंदन से बनी शरबत को पी लिया. उस शरबत के पीते ही वह त्रिदोष से ग्रस्त हो गई. उसके शरीर के सभी अंगों ने काम करना बंद कर दिया. उसके पिता तथा अन्य सगे-संबंधियों को लगा कि शायद उसकी मृत्यु हो जाएगी.


manthra-kaikeyi-the-ramayana-boons-indian-mythology-story


तत्काल ही उसके पिता ने प्रसिद्ध चिकित्सकों से अपनी लाडली बेटी की चिकित्सा करवाई. इस उपचार का प्रभाव यह हुआ कि वह मृत्यु से बच गई, उसके शरीर के अन्य अंग काम करने लगे परंतु उसकी रीढ़ की हड्डी सदा के लिए टेढ़ी हो गई. इसके अलावा उसके दोनों कंधे और गर्दन झुक गए.


इस कारण से उसका नाम कूबड़ी मंथरा पड़ गया. उसके इस शारीरिक दुर्गुण के कारण वह आजीवन अविवाहित रही. जब कैकेयी का विवाह हो गया तो वह अपने पिता की अनुमति से कैकेयी की अंगरक्षिका बनकर उसके राजमहल में रहने लगी.


Read:

क्या माता सीता को प्रभु राम के प्रति हनुमान की भक्ति पर शक था? जानिए रामायण की इस अनसुनी घटना को

हनुमान ने नहीं, देवी के इस श्राप ने किया था लंका को भस्म

किसने दी महाबली भीम के अहंकार को इतनी बड़ी चुनौती… जिसके उत्तर में भीम कुछ ना कर सके


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 1.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग