blogid : 19157 postid : 1385207

आज लग रहे सूर्य ग्रहण का ऐसा पड़ेगा प्रभाव, बरतें ये सावधानियां!

Posted On: 15 Feb, 2018 Others में

religious blogJust another Jagranjunction Blogs weblog

religious

657 Posts

132 Comments

हाल ही में पूरी दुनिया ने नए साल में चांद पर लगे कई रंगों के ग्रहण के दीदार किए. लेकिन अब साल 2018 का पहला सूर्य ग्रहण भी दिखेगा।साल 2018 का पहला सूर्य ग्रहण 15-16 फरवरी को पड़ने वाला है। साल 2018 में कुल तीन सूर्य ग्रहण घटित होंगे, ये तीनों आंशिक सूर्य ग्रहण होंगे। भारत में ये तीनों ग्रहण दिखाई नहीं देंगे लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि आप पर इस ग्रहण का प्रभाव नहीं पड़ेगा। तो चलिए जानते हैं इस साल कब और कितनी बार सूर्य ग्रहण होगा और किन देशों में इसे देखा जा सकता है।

cover


क्या होता है आंशिक सूर्यग्रहण

आंशिक सूर्य ग्रहण को खंड सूर्य ग्रहण के नाम से भी लोग जानते हैं। यह तब होता है जब चंद्रमा सूर्य को पूरी तरह से ढ़क नहीं पाता है। जिससे दुनिया के कई हिस्सों में सूरज की रोशनी बरकरार रहती है। ऐसी स्थिति में लगा हुआ ग्रहण ही आंशिक सूर्य ग्रहण कहलाता है। बता दें कि दुनिया में ज्यादातर आंशिक या खंड सूर्यग्रहण ही होता है। पूर्ण सूर्यग्रहण की स्थिति काफी कम बन पाती है।

Surya Grahan


15 फरवरी को आंशिक सूर्यग्रहण

15 फरवरी 2018 को होने वाला यह सूर्य ग्रहण आंशिक सूर्यग्रहण है। यानि इसे कुछ ही देशो में देखा जा सकेगा। भारत में इस सूर्य ग्रहण को लोग नहीं देख पाएंगे। हालांकि ज्योतिषों के मुताबिक ग्रहण के समय का असर राशियों पर पड़ सकता है। भारतीय समय के मुताबिक यह सूर्यग्रहम 15 फरवरी की रात 12 बजकर 25 मिनट पर शुरू होगा और सुबह लगभग चार बजे ग्रहण का मोक्ष यानी यह समाप्त होगा।


Surya Grahan1


इस साल तीन बार लगेगा सूर्यग्रहण

साल 2018 में तीन बार सूर्य ग्रहण के योग बन रहे हैं। बताया जा रहा है कि इस साल होने वाले तीनों ग्रहण आंशिक ही होंगे। यानि इन्हें ज्यादा देशों और शहरों में नहीं देखा जा सकेगा। 15 फरवरी के बाद इस साल का दूसरा सूर्य ग्रहण 13 जुलाई को होगा। इसके अलावा इस साल का तीसरा और अंतिम सूर्य ग्रहण 11 अगस्त को होगा।


lunar-eclipse


इस साल भारत में नहीं दिखेगा ग्रहण

खास बात यह है कि इस साल होने वाले ये तीनों सूर्यग्रहण भारत में नहीं दिखाई देंगे। क्योंकि ऐसा कहा जा रहा है कि तीनों ही ग्रहण आंशिक हैं। इसीलिए इन्हें पूरी दुनिया में एक साथ नहीं देखा जा सकता है। कहा जा रहा है कि सूर्य ग्रहण को दक्षिण और पश्चिम अफ्रीका, दक्षिण अमेरिका, प्रशांत, अटलांटिक, हिंद महासागर, अंटार्कटिका में देखा जा सकता है।


Solar Eclipse


ये ग्रहण भारत पर प्रभावी नहीं है

जिस वक्त ग्रहण लगेगा उस वक्त भारत में रात होगी और इस वजह से यह भारत में कहीं पर दिखाई नहीं देगा। यह ग्रहण दक्षिणी अमेरिका महाद्वीप भाग, दक्षिण-पश्चिम, अण्टर्कटिका और दक्षिणी ध्रुव के समीपवर्ती दक्षिणी प्रशान्त महासागर में दिखाई देगा। भारतीय समयानुसार ग्रहण का प्रारम्भ रात्रि 12 बजकर 25 मिनट पर होगा और इसका अंत मध्य रात्रि 02 बजकर 05 मिनट पर होगा।


chandra-grahan-


क्या होगा राशि पर असर

ये ग्रहण भारत पर प्रभावी नहीं ये ग्रहण भारत पर प्रभावी नहीं है लेकिन इसका असर राशियों पर होगा इसलिए पंडितों के मुताबिक जो लोग ग्रहण को मानते हैं उन्हें पूजा-अर्चना करने के बाद गरीबों को दान करना चाहिए और गाय को रोटी खिलानी चाहिए क्योंकि इससे उन्हें सुख और धन-लाभ होगा।…Next




Read More:

क्यों चढ़ाया जाता है शिवलिंग पर दूध, समुद्र मंथन से जुड़ी इस रोचक कहानी में छुपा है रहस्य

अगर आपके घर में मंदिर है तो कभी न करें ये 5 गलतियां

मंदिर निर्माण से भी पहले इस भगवान की होती थी पूजा, खुदाई में मिले प्रमाण

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग