blogid : 282 postid : 712872

एक मुस्कराहट भरी जिंदगी(कविता)

Posted On: 5 Mar, 2014 Others में

मेरी कहानियांJust another weblog

Rita Singh, 'Sarjana'

214 Posts

1846 Comments

एक मुस्कराहट भरी जिंदगी(कविता)

*************************

कितना आसान हैं
यह कहना
कि सब ठीक हो जाएगा
उसके लिए
जिसका पैर
कांटो में चलने को विवश हैं
और
ह्रदय के अंदर
उथल-पुथल मचा हुआ हो …….,
पर क्या मेरा इतना कहना
उसके लिए काफी होगा ?
शायद नहीं ,
परन्तु मैं जानती हूँ ,
यह शेष नहीं हैं …जीवन !
इसके आगे भी हैं
उम्मीदे,और हिम्मते
जो दे सकता हैं
निराश मनको एकबार फिर
एक मुस्कराहट भरी जिंदगी l

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग