blogid : 12171 postid : 694319

गणतंत्र दिवस का शुभ अवसर : प्रफुल्लित भारत जन-गण-मन ![कांटेस्ट]

Posted On: 26 Jan, 2014 Others में

! अब लिखो बिना डरे !शीशे के हम नहीं कि टूट जायेंगे ; फौलाद भी पूछेगा इतना सख्त कौन है .

DR. SHIKHA KAUSHIK

580 Posts

1343 Comments

गणतंत्र दिवस का शुभ अवसर ; प्रफुल्लित भारत जन-गण-मन !
गर्वित , हर्षित , आह्लादित है ; भारत भूमि का कण-कण !
………………………………………………………………..
पूर्ण-प्रभुता हमने पाकर इस दिन थी हुंकार भरी ,
राजतन्त्र के महल ध्वस्त कर लोकतंत्र की नींव धरी ,
सकल विश्व ने माना लोहा हम हैं बल-बुद्धि-संपन्न !
गर्वित , हर्षित , आह्लादित है ; भारत भूमि का कण-कण !
………………………………………………………………..
हर भारतवासी ने पाये इस दिन मौलिक छह अधिकार ,
भेदभाव का हुआ अंत न धर्म-लिंग होगें आधार ,
अधिकारों के साथ करें सब निज कर्तव्यों का पालन !
गर्वित , हर्षित , आह्लादित है ; भारत भूमि का कण-कण !
………………………………………………………………..
मिटे गरीबी और अमीरी बीच खुदी गहरी खाई ,
पूँजीवाद को किया किनारे बने समाजवादी भाई ,
भूखा न सो पाये कोई मिले सभी जन को भोजन !
गर्वित , हर्षित , आह्लादित है ; भारत भूमि का कण-कण !

शिखा कौशिक ‘नूतन’

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (4 votes, average: 4.75 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग