blogid : 316 postid : 985800

हिरन का यह बच्चा भले बाहुबली न बने लेकिन इसे बचाने वाला लड़का तो बन ही गया

Posted On: 6 Aug, 2015 Common Man Issues में

जन-जन से जुड़ी दास्तांसमाज की विभिन्न जरुरतों व समस्यायों को उभारता और समाधान तलाशता ब्लॉग

Social Issues Blog

757 Posts

830 Comments

फिल्म ‘बाहुबली’ का वह सीन तो आपने देखा ही होगा जब राजमाता नवजात बाहुबली को बचाने के लिए उफनती नदी में कूद पड़ती हैं. नदी का पानी राजमाता शिवगामी के सिर के ऊपर तक पहुंच जाता है लेकिन वे एक हाथ से बच्चे को सिर के ऊपर उठाए रहती हैं. अंत में राजमाता तो मर जाती हैं लेकिन बच्चे की जान बच जाती है. कुछ ऐसा ही दृश्य देखने को मिला बांग्लादेश के नोआखाली में.


bahubali the deer


कई दिनों की लगातार बारिश के कारण नदी उफन रही थी. नदी के बीच में एक बच्चा बहे जा रहा था. वह अपने परिवार से बिछड़कर इस उफनती नदी में फंस गया था. उसके बचने की कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही थी लेकिन वो कहते हैं न, ‘जाको राखे साईयां मार सके न कोय’.


Read: इस तरह सूर्यग्रहण ने बचाई थी अर्जुन की जान


किनारे पर खड़े लोग कुछ समझ पाते उससे पहले एक 12-13 साल का किशोर उफनाती नदी में छलांग लगा दी. कुछ देर के लिए सबका कलेजा मुंह में आ गया. अब एक नहीं दो जिंदगियां संकट में थी.


boy 1


किशोर बच्चे तक पहुंचा और बच्चे को एक हाथ से उठा लिया. किशोर पूरी तरह नदी में डूब चुका था. नदी का पानी उसके सिर के ऊपर से बह रहा था लेकिन किशोर ने बच्चे को सिर के ऊपर सुरक्षित तरीके से उठा रखा था.


boy 2


किनारे पर खड़े लोगों का दिल धक-धक करने लगा. लोग संदेह में थे कि अब यह किशोर नदी के बाहर आ पाएगा या नहीं. लेकिन कुछ ही देर में किशोर का चेहरा फिर नदी के ऊपर दिखाई दिया. और उसके कुछ देर बाद यह बहादुर लड़का बच्चे के साथ नदी के किनारे पर खड़ा था. क्या हुआ जो यह बच्चा इंसान का नहीं हिरन का था. जो जिंदगी की कीमत समझता है वह इंसान और जानवर की जिंदगी में फर्क नहीं समझता.


boy 3


इस किशोर के नदी के तट पर पहुंचते ही वहां मौजूद सभी लोग खुशी से झूम उठे. तट पर केवल 6-7 लोग ही थे परंतु आह्लाद के स्वर चारों ओर गूंजने लगे. अगर हिरन का वह बच्चा अपनी भावनाएं प्रकट कर सकता तो वह अपने प्राण बचाने वाले किशोर को चूम लेता.


Read: इंसानी जान बचाने के लिए कुत्तों को दिया गया जहर


इस घटना को वाइल्ड लाईफ फोटोग्राफर हसीबुल वाहाब ने अपने कैमरे में कैद किया. वे वहां फोटोग्राफी टूर के लिए गए हुए थे.


boy 5


हसीबुल बताते हैं कि बरसात के दिनों में यहां इसी तरह कई हिरन मर जाया करते हैं. यहां के क्षेत्रीय निवासी हिरनों को बचाने के लिए जो कुछ किया जाता है वह सब करते हैं. हसीबुल के अनुसार इस किशोर की दिलेरी देखने लायक थी.


deer 5


एक पल के लिए तो उन्हें भी लगा कि वह किशोर डूब जाएगा. उनका एक दोस्त किशोर को बचाने के लिए नदी में कूदने के लिए भी तैयार हो गया था.


deer last


लेकिन जब लोगों ने हिरन के बच्चे को अपने बिछड़े परिवार से मिलते देखा तो उनका सारा डर काफूर हो गया. Next…


Read more:

व्हाट्सएप वीडियो की खातिर जान देने पर तुला है यह शख्स

ऑक्सीजन खत्म हुई तो चली जाएगी जान लेकिन बढ़ गई तो… जनिए क्या होगा धरती का हाल

वायरल हुआ इनकी शादी का विज्ञापन, शर्तें जान कुँवारे हुये हैरान


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग