blogid : 316 postid : 1391326

दिल्‍ली अग्निकांड : 28 शव ट्रेन से भेजे जाएंगे बिहार, दो आरोपियों पर कार्रवाई और कई अफसर जांच के घेरे में

Posted On: 9 Dec, 2019 Hindi News में

Rizwan Noor Khan

जन-जन से जुड़ी दास्तांसमाज की विभिन्न जरुरतों व समस्यायों को उभारता और समाधान तलाशता ब्लॉग

Social Issues Blog

1029 Posts

830 Comments

दिल्‍ली अनाज मंडी में रविवार को भीषण अग्निकांड में 43 लोगों की मौत हो चुकी है। इस मामले में दो आरोपियों को रिमांड पर भेजा गया है। जांच कर रहे जिलाधिकारी की निगाह में कई लापरवाह अफसर भी हैं। आगे की जांच में यह लपेटे में आ सकते हैं। वीभत्‍स घटना में दमकल विभाग ने कई लोगों की जान बचा ली थी।

 

 

 

 

रेहान और फुरकान को रिमांड 
दिल्‍ली अनाज मंडी में जिस फैक्‍ट्री में आग लगी उसके मालिक रेहान और मैनेजर फुरकान को तीस हजारी कोर्ट में पुलिस ने पेश किया था। सुनवाई के बाद कोर्ट ने दोनों आरोपियों को 14 दिनों की पुलिस रिमांड में भेज दिया है। इसके अलावा कोर्ट जिलाधिकारी से पूरे घटनाक्रम की जांच कराने का आदेश दिया है।

 

 

घटनास्‍थल की 3डी मैपिंग
दिल्‍ली सरकार ने अग्निकांड की जांच की जिम्‍मेदारी पूर्वी दिल्‍ली के जिलाधिकारी अरुण कुमार मिश्र को दी है। जांच में जुटी दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम ने घटनास्‍थल 3डी मैपिंग कैमरे के जरिए इमेज किएट करा रही है। इसकी मदद से घटनाक्रम को रीक्रिएट कर कारणों को जानने और आगे दूसरी घटना न हो इस पर काम किया जाएगा।

 

 

दूसरे जिले के डीएम को जांच मिली
सूत्रों के मुताबिक घटना की निष्‍पक्ष जांच कराने के लिए इसे पूर्वी दिल्‍ली जिले के डीमए को सौंपा गया है। सूत्रों के मुताबिक घटनास्‍थल मध्‍य दिल्‍ली जिले का हिस्‍सा है और यहां के अफसरों की लापरवाही के कारण यह घटना घटी है। ऐसे में जांच में हेरफेर की गुंजाइश न रहे, इसलिए दूसरे जिले के अफसरों को जांच का हिस्‍सा बनाया गया है।

 

 

 

 

 

कई अफसरों की भूमिका संदिग्‍ध
जानकारों के मुताबिक आग लगने वाली फैक्‍ट्री अवैध तरीके से चल रही थी। इसे ठप करने की जिम्‍मेदारी एसडीएम का होता है लेकिन इसे निगम अधिकारियों की जिम्‍मेदारी बताकर टाला गया है। ऐसे में तय माना जा रहा है कि डीएम अरुण मिश्र की जांच में कई बड़े अफसर लपेटे में आएंगे।

 

 

ट्रेन से बिहार भेजे जाएंगे शव
रेलवे के अफसरों के मुताबिक अग्निकांड में मारे गए 43 लोगों में से 28 मृतक मूल रूप से बिहार के रहने वाले थे। इसलिए 28 शवों को बिहार भेजने की तैयारी चल रही है। सूत्रों के मुताबिक शवों को स्‍वतंत्रता सेनानी एक्‍सप्रेस के जरिए बिहार रवाना किया जाएगा। मामले की गंभीरता के चलते निगम और संबंधित कार्यालयों के अफसर सकते में हैं।…NEXT

 

 

 

Read More:

दो दिन से चल रहे विवाद के बाद आईटीबीपी जवान ने छह साथियों को गोली मारी

हैंगओवर की दवा बनाने के लिए 1338 दुर्लभ काले गेंडों का शिकार, तस्‍करी से दुनियाभर में खलबली

3 करोड़ से ज्‍यादा लोग एचआईवी पॉजिटिव, झारखंड में 23 हजार लोग इस जानलेवा बीमारी के शिकार

सर्दियों में इन दो वस्‍तुओं को खाया तो जा सकती है जान, आपके लिए ये बातें जानना जरूरी

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग