blogid : 316 postid : 1389755

चौथे दिन भी किसानों का आंदोलन जारी, सब्जी-दूध के दाम बढ़े

Posted On: 4 Jun, 2018 Common Man Issues में

Shilpi Singh

जन-जन से जुड़ी दास्तांसमाज की विभिन्न जरुरतों व समस्यायों को उभारता और समाधान तलाशता ब्लॉग

Social Issues Blog

772 Posts

830 Comments

1 जून से देशभर के किसान हड़ताल पर हैं, अपनी मांगों को मनवाने के लिए किसान पूरे देश में हड़ताल कर रहे हैं। इस हड़ताल का आज चौथा दिन और इसे हर तरफ से किसानों का सर्मथन मिल रहा है, ऐसे में किसानों के इस आंदोलन के कारण सब्जियों, दूध आदि के दामों में बढ़ोतरी दिखाई पड़ सकती है। जानकारी के लिए बता दें कि राष्ट्रीय किसान महासंघ ने 130 संगठनों के साथ मिलकर विरोध प्रदर्शन और हड़ताल का ऐलान किया है। 1 जून से शुरू हुए इस आंदोलन के कारण बाजार में सब्जियों की कीमतों में तेजी देखने को मिली है जबकि आंदोलन के दौरान किसानों ने दूध और सब्जियां सड़कों पर फेंककर अपना विरोध भी जताया है।

 

 

किसान आदंलोन का चौथा दिन है

किसान आंदोलन अपने चौथे दिन में प्रवेश कर चुका है। फिलहाल अभी तक आंदोलन शांत रहा है और कहीं भी किसी तरह की हिंसा की खबर सामने नहीं आई है। हालांकि आंदोलन के कारण आम जनता को तकलीफों का सामना जरूर करना पड़ रहा है। क्योंकि देश के कुछ हिस्सों में फल, सब्जी और दूध लोगों तक आसानी से नहीं पहुंच पा रहा है। राष्ट्रीय किसान महासंघ के अध्यक्ष शिवकुमार शर्मा ने कहा कि हमारे आंदोलन ने असर दिखाना शुरू कर दिया है।

 

 

ये हैं प्रमुख मांगें

कृषि कर्ज माफ हों, ताकि खुदकुशी रुके, सभी फसलों का सही मूल्य मिले और न्यूनतम आय गारंटी योजना लागू हो इसके साथ ही स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट लागू हो।

 

 

राजस्थान – 13 जिलों में फैला आंदोलन, बिगड़े हालात

किसान आंदोलन का असर शनिवार को राजस्थान के करीब 13 जिलों में देखने को मिला। मंडियों में सब्जियों के नहीं आने और दूध की आपूर्ति बाधित होने से हालात बिगड़ने लगे हैं। सर्वाधिक प्रभाव पश्चिमी राजस्थान के बीकानेर संभाग में है।

 

 

पंजाब – दोगुने दाम पर बिकीं सब्जियां, दूध भी महंगा

हड़ताल के दूसरे दिन (शनिवार) सब्जियों और दूध की किल्लत पेश आने लगी। सभी बड़े शहरों जालंधर, लुधियाना, अमृतसर, पटियाला व बठिंडा समेत सभी जिलों में सब्जियों व दूध के दाम में भारी उछाल आ गया है। शनिवार को सब्जियां दो से तीन गुना कीमत पर बिकी। वहीं, उत्तराखंड को बाजपुर में आंदोलन उग्र हो गया है, जगह-जगह दूध ले जा रहे वाहनों को रोककर सड़कों पर ही हजारों लीटर दूध बहा दिया गया। किसानों ने सड़कों पर दूध व सब्जियां फेंकने का सिलसिला जारी रखा। किसान दावा कर रहे है कि हड़ताल का व्यापक असर है, लेकिन शहर की सब्जी मंडियों में ज्यादा असर दिखाई नहीं दिया।

 

 

राधा मोहन सिंह का विवादित बयान

केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने मीडा सेबातचीत के दौरान कहा कि मध्य प्रदेश सरकार किसानों के लिए बढ़िया काम कर रही है। देश में करोड़ों की संख्या में किसान हैं। उनमें से कुछ प्रदर्शन कर रहे हैं। मीडिया में आने के लिए ऐसे प्रयास होते रहते हैं। केंद्र में मोदी सरकार के चार साल पूरे होने पर वह पटना में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।…Next

 

 

Read More:

दूसरे बैंक का ATM यूज करना पड़ सकता है महंगा, जानें क्‍या है वजह

कैश की किल्लत से हैं परेशान, तो इन 4 तरीकों से मिल सकती है राहत

गाड़ियों पर छाए सिंदूरी हनुमान के स्टीकर, जानें क्या है राज!

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग