blogid : 316 postid : 1391786

खटमलों ने इस ताकतवर देश का कबाड़ा किया, छुटकारा पाने के लिए लगानी पड़ी इमर्जेंसी सर्विस

Posted On: 23 Feb, 2020 Others में

Rizwan Noor Khan

जन-जन से जुड़ी दास्तांसमाज की विभिन्न जरुरतों व समस्यायों को उभारता और समाधान तलाशता ब्लॉग

Social Issues Blog

1077 Posts

830 Comments

दुनियाभर में परिजीवी जीवों ने अपने रहने का ठिकाना मनुष्‍यों के आसपास ही बना रखा है। ऐसा ही एक परिजीवी है खटमल (Bed Bug)। यूं तो भारत के भी कई इलाकों में खटमल पाए जाते हैं, लेकिन दुनिया का एक ऐसा ताकतवर देश भी है जो इनके आतंक से परेशान हो चुका है। भारी तादाद में मौजूद खटमलों ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है यही वजह है कि यहां इमर्जेंसी हॉटलाइन सर्विस शुरू करनी पड़ी है।

 

 

 

 

नमी और स्‍वच्‍छता की कमी से पनप रहे
जानकारों के मुताबिक लंबे समय तक धूप न मिलने और एक ही जगह पर पड़े रहने से स्‍वच्‍छ न रहने वाले बिस्‍तर, सोफा में खटमल पनप जाते हैं। यह खटमल दिनभर तो चुपचाप गद्दों, तकियों, रजाई, बेड और फर्नीचर में छिपे रहते हैं लेकिन रात होते ही ये सक्रिय हो जाते हैं। बिस्‍तर वगैरह इस्‍तेमाल करने वाले व्‍यक्ति का यह धीरे धीरे खून चूसते हैं। इसीलिए इन्‍हें खूनी कीड़े भी कहा जाता है।

 

 

 

 

फ्रांस के घरों और होटलों में कब्‍जा
विश्‍व के ताकतवर देशों में शुमार फ्रांस पिछले लंबे समय से खटमलों के आतंक से जूझ रहा है। सीएनएन की खबर के मुताबिक फ्रांस के घरों और होटलों में खटमलों ने लोगों का जीना हराम कर रखा है। यहां के बेडरूम, लिविंग रूम, सोफा को खटमलों ने अपना घर बना लिया है। फ्रांस काफी अरसे से खटमलों की समस्‍या से जूझ रहा है लेकिन तमाम प्रयासों के बावजूद उसे पूरी तरह इससे निजात हासिल नहीं हो सकी है।

 

 

 

इमर्जेंसी हॉटलाइन सर्विस शुरू
सीएनएन के अनुसार खटमलों से परेशान फ्रांस सरकार ने खटमलों को खत्‍म करने के लिए इमर्जेंसी हाटलाइन सर्विस शुरू की है। इस सर्विस के तहत खटमलों को हर घर और होटल से हटाने का अभियान शुरू किया गया है। हॉटलाइन पर कोई भी शख्‍स कॉल कर अपने घर या होटल में खटमल होने की जानकारी एक्‍पर्ट की टीम को दे सकता है, जानकारी मिलते ही टीम तत्‍काल मौके पर पहुंचकर खटमलों का सफाया कर देगी।

 

 

 

 

बचाव के तरीके बताने वाली वेबसाइट भी लांच
फ्रांस सरकार की ओर शुरू किए गए देशव्‍यापी अभियान के तहत एक सूत्र ने सीएनएन को बताया कि हम सब खटमलों की समस्‍या से प्रभावित थे। इस समस्‍या से लोगों को छुटकारा दिलाने के लिए सरकार ने वेबसाइट लांच की है और हॉटलाइन इमर्जेंसी सेवा शुरु की है। इसके जरिए खटमलों को खत्‍म करने उनसे बचने के उपाय और सुझाव दिए जाएंगे।

 

 

 

एक रात में 90 बार खून चूसते हैं
रिपोर्ट के मुताबिक फ्रांस के खटमल एक रात में एक व्‍यक्ति को करीब 90 बार काटते हैं और खून चूसते हैं। इनके काटने से इंफेक्‍शन होता और खुजली शुरू हो जाती है। बताया गया कि देशभर के कई इलाकों सेब के बीज जितने बड़े खटमल हैं। खटमलों से बचने के लिए लोगों को बताया जा रहा है कि वह कपड़ों को कितनी देर तक और कितने तापमान में सुखाएं। इसी तरह के अन्‍य उपाय लोगों को बताए जा रहे हैं।

 

 

 

 

10 करोड़ साल से खटमलों को आतंक
2010 में खटमल न्‍यूयॉर्क के लोगों के लिए बड़ी समस्‍या बनकर सामने आए थे। यहां के अपार्टमेंट, शॉप, स्‍कूल और अस्‍पतालों में बड़े पैमाने पर खटमल थे। इन्‍हें खत्‍म करने के लिए अभियान की शुरूआत की गई थी। खटमलों की उत्‍पत्ति को लेकर आई एक रिपोर्ट के अनुसार खटमल दुनिया में काफी पहले से हैं। यह पृथ्‍वी पर करीब 10 करोड़ साल से हैं। 2019 की रिपोर्ट में खुलासा किया गया था कि खटमल सबसे पहले डाइनासोर में पाए गए थे।…NEXT

 

 

 

Read More:

सोने की खदान की सुरक्षा कर रहे जहरीले सांप

46 हजार साल पुराना पक्षी मिला, देखकर आश्‍चर्य में पड़े वैज्ञानिक

कोरोना वायरस ने दो नए देशों को अपना शिकार बनाया, दो हजार से ज्‍यादा लोगों की मौत

Coronavirus: चीन ने अब 6 दिन में बना दी मास्‍क फैक्‍ट्री, पहले 8 दिन में बनाया था अस्‍पताल

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग