blogid : 316 postid : 1389364

1 अप्रैल से आपकी सैलरी में होंगे ये बदलाव, जानें फायदा होगा या नुकसान

Posted On: 29 Mar, 2018 Common Man Issues में

जन-जन से जुड़ी दास्तांसमाज की विभिन्न जरुरतों व समस्यायों को उभारता और समाधान तलाशता ब्लॉग

Social Issues Blog

950 Posts

830 Comments

फाइनैंशल इयर अब कुछ दिनों में ही खत्म होने वाला है, ऐसे में जाहिर है कि सरकार ने कुछ महीनों पहले जो बजट पेश किया था उसका असर अब आने वाले महीनों में दिखेगा यानि की 1 अप्रैल से। इस साल के बजट में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आम आदमी को टैक्स के मोर्चे पर बड़ी राहत नहीं दी है। टैक्स स्लैब्स में कोई बदलाव नहीं किया गया है। लेकिन आपकी सैलरी में एक बड़ा बदलाव किया गया है, जो 1 अप्रैल से प्रभावी हो जाएगा। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस बार बजट में स्टैंडर्ड डिडक्शन की वापसी की घोषणा की है। हर वेतनभोगी को 40 हजार रुपये का स्टैंडर्ड डिडक्शन मिलेगा। ऐसे में चलिए जानते हैं आपको कितना फायदा होगा या नुकसान।

 

 

 

स्टैंडर्ड डिडक्शन आखिर क्या होता है

स्टैंडर्ड डिडक्शन आपकी आय का वो हिस्सा होता है, जिस पर आपको कोई टैक्स नहीं देना होता है। यही नहीं, इस छूट का फायदा उठाने के लिए आपको किसी भी तरह के दस्तावेज भी नहीं दिखाने होते हैं। नए वित्त वर्ष में जहां स्टैंडर्ड डिडक्शन का फायदा आपकी सैलरी में जुड़ जाएगा। वहीं, ट्रांसपोर्ट अलाउंस के 19200 रुपये और मेडिकल अलाउंस के तौर पर मिलने वाले 15 हजार रुपये का फायदा हट जाएगा।

 

 

आपको कितना होगा फायदा

स्टैंडर्ड डिडक्शन की तुलना मेडिकल अलाउंस और ट्रांसपोर्ट अलाउंस के साथ करें, तो आपको पहले इन दोनों की बदौलत 34200 रुपये का फायदा मिलता था। वहीं, स्टैंडर्ड डिडक्शन आपको 40 हजार का मिलेगा। इस तरह ऊपरी तौर पर इसका फायदा आपको 5800 रुपये (34200-40 हजार ) के तौर पर मिलेगा। हालांकि जब आप इसकी तुलना कुल टैक्स देनदारी और एजुकेशन सेस से करेंगे, तो 5800 रुपये का ये फायदा भी काफी कम हो जाता है।

 

 

ऐसे समझिए अपना टैक्स स्लैब

अगर आप 5 फीसदी वाले टैक्स स्लैब में आते हैं, तो आपको 290 रुपये का फायदा स्टैंडर्ड डिडक्शन के तौर पर मिलेगा। आप 20 फीसदी टैक्स स्लैब वाले हैं, तो 1160 रुपये का फायदा आपको मिलेगा. वहीं, अगर आप 30 फीसदी वाले टैक्स स्लैब में हैं, तो आपको 1740 रुपये का फायदा होगा। मौजूदा समय में 2.5 लाख रुपये तक की इनकम पर कोई टैक्स नहीं लगता है। 2.5 लाख से 5 लाख की इनकम पर 5 फीसदी, 5 लाख से 10 लाख की सालाना कमाई पर 20 फीसदी और इससे ज्यादा की कमाई पर 30 फीसदी टैक्स लगता है।

 

 

फिलहाल क्या है तरीका

मौजूदा व्यवस्था में आपको स्टैंडर्ड डिडक्शन नहीं मिलता, लेकिन आपको मेडिकल और ट्रांसपोर्ट अलाउंस के तौर पर 34200 रुपये मिलते हैं। इसके हिसाब से अगर आपकी कुल टैक्सेबल इनकम 5 लाख है। इसमें 34200 रुपये घटा देंगे, तो आपकी कुल टैक्सेबल इनकम बनती है 465800 रुपये। इस पर 5 फीसदी के हिसाब से टैक्स लगने पर आपको 10790 रुपये टैक्स के तौर पर चुकाने होंगे।

 

 

महज 193 रुपये का फायदा

इस तरह आप देखेंगे तो मौजूदा व्यवस्था के मुकाबले स्टैंडर्ड डिडक्शन के आ जाने से आपको 193.7 रुपये का फायदा होगा। इसी तरह आप अन्य टैक्स स्लैब वालों को होने वाले फायदे की गणना भी कर सकते हैं।Next

 

 

 

Read More:

राजधानी में गाड़ी चलाना होगा महंगा! जानें क्‍या है वजह

हर महीने पोस्ट ऑफिस देगा आपको पैसे, करना होगा ये काम

1 अप्रैल से ट्रेन में सफर करना होगा सस्ता, इन चीजों के भी घटेंगे दाम!

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग