blogid : 316 postid : 1390021

बारिश की वजह से सामने आए डेंगू के 100 नए मामले, घर हो या ऑफिस ऐसे करें अपना बचाव

Posted On: 25 Sep, 2018 Common Man Issues में

Pratima Jaiswal

जन-जन से जुड़ी दास्तांसमाज की विभिन्न जरुरतों व समस्यायों को उभारता और समाधान तलाशता ब्लॉग

Social Issues Blog

1210 Posts

830 Comments

भारी बारिश होते ही जहां जन जीवन अस्त व्यस्त होने लगता है, वहीं बीमारियों का खतरा भी मंडराने लगता है। औसतन रोजाना दिल्ली में 15 नए डेंगू फीवर के मरीज की पुष्टि हो रही है। पिछले हफ्ते दिल्ली में 100 नए लोगों में डेंगू फीवर पाया गया है। अभी तक डेंगू कंट्रोल में था। लेकिन जिस प्रकार पिछले हफ्ते तेजी से मामले बढ़े हैं, उसे देखकर डॉक्टरों का कहना है कि यह पीक सीजन है और अभी डेंगू के मरीज और आएंगे। लेकिन साथ में डॉक्टर का यह भी कहना है कि डरने वाली बात नहीं है, स्थिति कंट्रोल में है। जरूरी यह है कि लोग डेंगू से बचाव पर जरूरी पहल करते रहें। इसे हल्के में लेने पर दिक्कत हो सकती है, क्योंकि यह वायरस हमेशा खतरनाक माना जाता है। ऐसे में डेंगू को लेकर सजगता बहुत जरूरी है, आप घर या ऑफिस जहां भी हैं डेंगू से बचने के लिए इन बातों को जरूर फॉलो किया जाना चाहिए।

 

 

कैसे होता है डेंगू
डेंगू मादा एडीज इजिप्टी मच्छर के काटने से होता है। इन मच्छरों की पहचान यह होती है कि इनके शरीर पर चीते जैसी धारियां होती हैं। जो कि खासकर सुबह के समय व्यक्ति को काटते हैं। डेंगू का खौफ सबसे ज्यादा बरसात के मौसम में बना रहता है। यह वही मौसम होता है जो मच्छरों के पनपने के लिए अनुकूल परिस्थितियां प्रदान करता है। एडीज इजिप्टी मच्छर बहुत ऊंचाई तक नहीं उड़ पाते हैं। जब डेंगू वायरस वाला मच्छर किसी इंसान को काटता है तो उसके वायरस उस इंसान के शरीर में पहुंच जाते हैं, जिससे वह डेंगू वायरस से पीड़ित हो जाता है।

 

डेंगू को ऐसे पहचानें
ठंड लगने के बाद अचानक तेज बुखार चढ़ना।
सिर, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द होना।
आंखों के पिछले हिस्से में दर्द होना, जो आंखों को दबाने या हिलाने से और बढ़ जाता है।
बहुत ज्यादा कमजोरी लगना, भूख न लगना और जी मितलाना और मुंह का स्वाद खराब होना।
गले में हल्का-सा दर्द होना।
शरीर खासकर चेहरे, गर्दन और छाती पर लाल-गुलाबी रंग के रैशेज होना।
नाक और मसूढ़ों से खून आना।
शौच या उलटी में खून आना।
स्किन पर गहरे नीले-काले रंग के छोटे या बड़े चकत्ते पड़ जाना।

 

 

 

ऐसे करें बचाव 
ठंडा पानी पीने से बचें। इसके अलावा मैदा और बासी खाना भी न खाएं।
खाने में हल्दी, अजवाइन, अदरक, हींग का ज्यादा-से-ज्यादा इस्तेमाल करें।
इस मौसम में पत्ते वाली सब्जियां, अरबी, फूलगोभी खाने से बचें।
हल्का खाना खाएं, जो आसानी से पच सके।
पूरी नींद लें, खूब पानी पीएं और पानी को उबालकर पीएं।
मिर्च मसाले और तला हुआ खाना न खाएं, भूख से कम खाएं, पेट भर न खाएं।
खूब पानी पीएं। छाछ, नारियल पानी, नीबू पानी आदि खूब पिएं।

 

 

ऐसे होता है टेस्ट
अगर व्यक्ति को तेज बुखार, जोड़ों में तेज दर्द और शरीर पर रैशेज दिखाई दें तो तुरंत उसे डेंगू का टेस्ट करवा लेना चाहिए। डेंगू की जांच के लिए शुरुआत में एंटीजन ब्लड टेस्ट (एनएस 1) किया जाता है। इस टेस्ट में डेंगू शुरू में ज्यादा पॉजिटिव आता है, जबकि बाद में धीरे-धीरे पॉजिविटी कम होने लगती है। यह टेस्ट करीब 1000 से 1500 रुपये में होता है…Next

 

Read More :

इस देश में पचास लाख में बिक रहा है 1 किलो टमाटर, महामंदी के दौर से लोग हुए बेहाल

अब जेब में लाइसेंस लेकर नहीं करनी पड़ेगी ड्राइविंग, मोबाइल से हो जाएगा आपका काम

2018 के 20 नाम हैं सबसे खतरनाक पासवर्ड, आपकी प्राइवेट डिटेल हो सकती है चोरी

 

 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग