blogid : 316 postid : 1391148

इन 6 पति-पत्‍नी की जोडि़यों ने जीता नोबेल पुरस्‍कार, रिकॉर्ड बनाने वाले अभिजीत-एस्‍थर विश्‍व के छठवें दंपति बने

Posted On: 14 Oct, 2019 Hindi News में

Rizwan Noor Khan

जन-जन से जुड़ी दास्तांसमाज की विभिन्न जरुरतों व समस्यायों को उभारता और समाधान तलाशता ब्लॉग

Social Issues Blog

986 Posts

830 Comments

भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्‍नी एस्‍थर डुफ्लो को साल 2019 का अर्थशास्‍त्र के क्षेत्र में नोबेल पुरस्‍कार देने की घोषणा की गई है। इन दोनों पति-पत्‍नी से पहले पांच जोडि़यों को एक साथ नोबेल पुरस्‍कार दिया जा चुका है। इन दंपतियों के लिए अंग्रेजी की एक कहावत इस्‍तेमाल की जाती है – पार्टनर इन लाइफ एंड सांइस। इसका मतलब है जिंदगी के साथ विज्ञान के जीवनसाथी। आइए जानते हैं उन पांच जोडि़यों के बारे में।

 

 

1. पेरी क्‍यूरी और मैरी क्‍यूरी
पहली बार 1901 में किसी दंपति को एक साथ नोबेल पुरस्‍कार देने का ऐलान किया गया था। यह पुरस्‍कार महान भौतिक वैज्ञानिक पेरी क्‍यूरी और उनकी पत्‍नी मैरी क्‍यूरी को दिया गया था। इन दोनों पति पत्‍नी की जोड़ी ने रेडियम और पोलोनियम के क्षेत्र में विशिष्‍ट काम किया था।

 

 

2. फ्रेडरिक जोलियट और आइरेन जोलियट
दूसरी बार किसी दंपति को नोबेल पुरस्‍कार 34 साल बाद यानी 1935 में प्रदान किया गया था। रसायन विज्ञान के क्षेत्र में अद्भुद काम करने वाले वैज्ञानिक फ्रेडरिक जोलियट और आइरेन जोलियट क्‍यूरी को दिया गया था। इन दोनों वैज्ञानिकों ने रेडियो एक्टिव तत्‍व के खोज में महत्‍वपूर्ण काम किया था।

 

 

3. कार्ल फ्रेडिनेंड कोरी और ग्रेटी थेरेसा कोरी
वर्ष 1947 में नोबेल पुरस्‍कारों की घोषणा में दंपति कार्ल फ्रेडिनेंड कोरी और ग्रेटी थेरेसा कोरी का नाम खूब चर्चा में रहा था। दवा के क्षेत्र में काम करने वाले इस दंपति को उस वर्ष का नोबेल पुरस्‍कार दिया गया था। इन दोनों ने ग्‍लाइकोजीन और ग्‍लूकोज मेटाबॉलिज्‍म के क्षेत्र में अतुलनीय कार्य किया था।

 

 

4. गुन्‍नार मिरदाल और अल्‍वा मिरदाल
दुनिया को अर्थशास्‍त्र का पाठ पढ़ाने के लिए मशहूर इस दंपति जोड़ी को अलग अलग वर्षों में नोबेल पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया गया था। 1974 में गुन्‍नार को इकोनॉमिक का नोबेल पुरस्‍कार दिया गया था। वहीं, उनकी पत्‍नी अल्‍वा मिरदाल को 1982 में अर्थशास्‍त्र के क्षेत्र में विशेष कार्य के लिए नोबेल पुरस्‍कार दिया गया था।

 

 

5. एडवर्ड मोजर और मेब्रिट मोजर
इस दंपति वैज्ञानिक जोड़ी को 2014 में भौतिक विज्ञान के क्षेत्र में अतुलनीय कार्य के लिए नोबेल पुरस्‍कार दिया गया था। दोनों वैज्ञानिकों को दिमाग से जुड़ने वाली सेल्‍स पर काम करने कारण इस पुरस्‍कार के लिए चुना गया था।

 

 

 

6. अभिजीत बनर्जी और एस्‍थर डुफ्लो
भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक अभिजीत बनर्जी और अमेरिका की मूल निवासी एस्‍थर डुफ्लो को 2019 में अर्थशास्‍त्र के क्षेत्र में बेहतरीन काम के लिए नोबेल पुरस्‍कार के लिए चुना गया है। अभिजीत बनर्जी भारत के कोलकाता में जन्‍मे और दिल्‍ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में पढ़ाई की बाद में वह अमेरिका गए और एस्‍थर से विवाह के बाद वहीं बस गए।…Next

 

 

Read More: जेएनयू स्‍कॉलर अभिजीत बनर्जी को अर्थशास्‍त्र का नोबेल प्राइज मिला, अमर्त्‍य सेन को भी मिल चुका है नोबेल 

पिछले साल इसलिए नहीं दिया गया था साहित्‍य का नोबेल पुरस्‍कार, सच्‍चाई जानकर चौंक जाएंगे आप

सबसे बुजुर्ग नोबेल पुरस्‍कार विजेता बना अमेरिका का यह रसायन शास्‍त्री, सबसे युवा विजेता में पाकिस्‍तानी युवती का नाम

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग