blogid : 316 postid : 1194845

दूल्हे ने पेश की मिसाल, बारातियों ने बजाई ताली

Posted On: 26 Jun, 2016 Common Man Issues में

जन-जन से जुड़ी दास्तांसमाज की विभिन्न जरुरतों व समस्यायों को उभारता और समाधान तलाशता ब्लॉग

Social Issues Blog

1289 Posts

830 Comments

आधुनिक युग में प्यार महज सौदा बनकर रह गया है. जहां किसी के साथ कोई भी रिश्ता बनाने से पहले उसकी जाति, धर्म, परिवार और यहां तक की चेहरा और कई छोटी-छोटी बातें भी बहुत गंभीरता से देखी जाती है. लेकिन भौतिक दुनिया से परे कुछ लोग ऐसे भी हैं जो स्टीरियोटाइप पर चलना पसंद नहीं करते. भीड़ से अलग दिखने वाले लोग दुनिया के सामने एक अलग मिसाल पेश करते हैं.


groom2

इंदौर में हुए एक सामूहिक विवाह सम्मेलन के दौरान उस वक्त लोगों की नजरें दूल्हा-दुल्हन पर टिकी रह गई जब दूल्हे मियां ने दुल्हन को अपनी गोद में उठा लिया. दरअसल, दुल्हन बैसाखी के सहारे मंडप में चलकर आ रही थी. जब दूल्हे ने अपनी दुल्हन को अपनी तरफ आते हुए देखा तो उन्होंने उसे गोद में उठाकर मंडप में पहुंचाया. हैरानी की बात ये है कि दूल्हा भी दिव्यांग था. इस विवाह सम्मेलन में सबसे चर्चित जोड़ी रायसिंह और श्यामा की रही. गंगा दशमी के दिन एक सामाजिक संगठन द्वारा आयोजित विवाह सम्मेलन में 60 जोड़े विवाह के बंधन में बंधे.


groom

इस समारोह का आयोजन रीजनल पार्क में किया गया था. सभी जोड़ो को यहां एक साथ विवाह बंधन में बांधा गया. वरमाला के बाद जब रायसिंह ने अपनी जीवनसंगिनी को बैसाखी से चलता देखा तो, उसने श्यामा को गोद में उठा लिया. उल्लेखनीय है कि राय सिंह को देखकर सभी दूल्हों ने अपनी दुल्हनों को गोद में उठा लिया. इस खूबसूरत लम्हें को देखकर वहां उपस्थित सभी बाराती मुस्कुराने लगे. जबकि कुछ लोगों ने उत्साहित होकर तालियां बजाना भी शुरू कर दिया…Next


Read more

समाज से बेपरवाह और परिवार से निडर, इन बोल्ड पुरूषों ने की ट्रांसजेंडर पार्टनर से लव मैरिज

इस राजशाही अंदाज में की गई शादी में दूल्हा-दुल्हन को मिले इतने पैसे, गहनें और गिफ्ट

दुल्हन थी, बाराती थे पर दुल्हा नहीं लेकिन हो गई शादी

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग