blogid : 316 postid : 1389997

भारत में बढ़ रही है कैंसर मरीजों की तादाद, जानें क्या है कैंसर बीमा योजना और इससे जुड़े खास पहलू

Posted On: 12 Sep, 2018 Common Man Issues में

Pratima Jaiswal

जन-जन से जुड़ी दास्तांसमाज की विभिन्न जरुरतों व समस्यायों को उभारता और समाधान तलाशता ब्लॉग

Social Issues Blog

832 Posts

830 Comments

इस भागती-दौड़ती जिंदगी में कौन-सा दिन हमें थाम देगा ये कहा नहीं जा सकता। हम सुबह उठते ही भागदौड़ करने के लिए तैयार होने लगते हैं। ऐसे में अगर एक दिन आपको पता चले कि आप किसी बीमारी से गुजर रहे हैं, तो आपकी जिंदगी में एक ब्रेक-सा लग जाता है। आप हमेशा उसी के बारे में सोचते रहते हैं, जिसकी वजह से आपकी तबियत और भी खराब हो जाती है। अगर बीमारी का नाम कैंसर हो, तो किसी को भी तनाव घेर सकता है। ऐसे में बीमारियों से निपटने के लिए जागरुकता बेहद जरूरी है।

 

प्रत्येक भारतीय परिवार में कम से कम कैंसर का एक मरीज होगा!
डब्ल्यूएचओ (World Health Organization) का अनुमान है कि प्रत्येक भारतीय परिवार में कम से कम कैंसर का एक मरीज होगा, जबकि कुछ मीडिया रिपोर्टों के अनुसार हर छह या आठ में से एक भारतीय कभी ना कभी कैंसर की चपेट में आएगा। वहीं, इसी संस्था कि एक और रिपोर्ट के मुताबिक भारत में कैंसर की दर फिलहाल सर्वाधिक उच्च स्तर पर है, जो 2017 में 15 लाख थी और साल 2020 में बढ़कर 17.3 लाख होने की उम्मीद है।
वहीं, कैंसर पर अनुसंधान के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन की अंतर्राष्ट्रीय एजेंसी ने भारत को अधिकतम ‘हेमाटोलॉजिकल कैंसर मरीजों’ में तीसरे नंबर पर रखा है। बहुत से लोगों को लगता है कि कैंसर एक अनुवांशिक बीमारी है, लेकिन आपको यह पता होना चाहिए कि सभी प्रकार के कैंसर में 70 से 90 फीसदी तक के मामले लाइफस्टाइल और पर्यावरणीय कारक से जुड़े होते हैं।

 

 

क्या है कैंसर बीमा योजना
कैंसर बीमा योजना एक निश्चित लाभ योजना है, जिसमें बीमित व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता के बिना बीमाधारक को बीमा राशि का भुगतान किया जाता है। कैंसर बीमा प्लान सभी स्टेज के कैंसर को कवर करता है तथा हर स्टेज पर मुआवजा प्रदान करता है। इसके अलावा ये योजनाएं माइनर स्टेज कैंसर, मल्टीपल असंबद्ध कैंसर दावे और माइनर लाइफ कवर जैसे अतिरिक्त लाभ भी प्रदान करते हैं। इसमें कोई शक नहीं है कि कैंसर बीमा योजना आपकी बीमारी के इलाज के दौरान आपकी संपत्ति और बचत की रक्षा करने का सबसे अच्छा तरीका है।

 

कैसी पॉलिसी खरीदें
ऐसी पॉलिसी खरीदें, जिसकी प्रतीक्षा अवधि कम से कम हो। आमतौर पर अधिकतम बीमा योजनाओं की प्रतीक्षा अवधि 180 दिन से 365 दिन के बीच होती है। वहीं कैंसर बीमा प्लान के अंतर्गत कैंसर के सभी चरणों में बीमित राशि का भुगतान किया जाता है, जोकि शुरुआती चरण में 20 से 25 फीसदी होता है, तथा एडवांस स्टेज में 100 फीसदी किया जाता है, हालांकि कई पॉलिसियों में बीमित राशि का 150 फीसदी तक भुगतान किया जाता है।

 

 

इन वजहों से नहीं ले सकते बीमा
कुछ स्थितियों में कंपनियां कैंसर का बीमा नहीं करती है, जिसमें अगर बीमा लेने से पहले से कैंसर, त्वचा कैंसर, यौन संक्रमित बीमारियां, एचआईवी या एड्स के कारण प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तरीके से हुआ कैंसर, किसी जन्मजात कारण के हुआ कैंसर, जैविक, परमाणु या रासायनिक प्रदूषण से हुआ कैंसर, रेडिएशन के संपर्क में आने से हुआ कैंसर शामिल है…Next

 

Read More :

दिल्ली सरकार की डोर स्टेप डिलीवरी योजना क्या है, जानें 1 कॉल और 50 रुपए की फीस पर मिलने वाली 40 सेवाएं

स्टैचू ऑफ यूनिटी’ होगी दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति, इन 5 मशहूर मूर्तियों से निकल गई आगे

‘अडॉप्शन प्रोग्राम’ के तहत भारत से बच्चे गोद लेने की ऑस्ट्रेलिया ने फिर की पेशकश, 2010 में प्रोग्राम को करना पड़ा था बंद

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग